आयुर्वेद के अनुसार कई बिमारियों की काट है लौंग, जानें कैसे

1380 0

हेल्थ डेस्क.   आयुर्वेदिक ग्रंथों में आपको लौंग से जुड़े बहुत से फायदों के बारे में पता चलता है. सदियों से इसका इस्तेमाल बहुत सी बीमारियों से निजात पाने के लिए होता आया है. भारतीय रसोइयों में तो ये जरुर पाया जाता है जिसका इस्तेमाल खाने के स्वाद को बढ़ाने में किया जाता है. लेकिन लौंग में स्वास्थ्य से जुड़े भी बहुत से लाभ होते हैं. ऐसा कोई भी पोषक तत्व नही जो लौंग में मौजूद न हो. ये एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-वायरल और एंटी-सेप्टिक भी होता है.इसलिए अगर रोजाना सिर्फ 2 लौंग खाई जाएं तो इसके अद्भुत फायदे मिलते हैं.

त्यौहार के मौके पर अगले तीन दिन बंद रहेंगे बैंक

दर्द निवारक

लौंग एक बेहतरीन नैचुरल पेनकिलर यानी प्राकृतिक दर्द निवारक है. सिरदर्द होने पर इसे भुनकर और कपड़े में बांधकर सूंघने से आराम मिलता है. इसमें मौजूद यूजेनॉल ऑयल दांतों के दर्द से आराम दिलाने में बहुत लाभदायक है. दांतो में दर्द हो तो लौंग के तेल को उनपर लगाने से दर्द छूमंतर हो जाता है. लौंग में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं. इस वजह से अब इसका इस्तेमाल कई तरह के टूथपेस्ट, माउथवाश और क्रीम बनाने में किया जाता है.

सर्दी-जुकाम में असरदार

बदलते मौसम में सर्दी-जुकाम की समस्या होती है और ऐसे में लौंग आपको इस समस्या से राहत दिला सकती है. सर्दी-जुकाम या गले में खरास होने पर मुंह में एक लौंग रख लें. इससे आपको सर्दी-जुकाम में राहत के साथ गले में होने वाले दर्द से भी छुटकारा मिलेगा.

जोड़ों के दर्द से छुटकारा

लौंग का तेल सूजन को कम करने और जोड़ों के दर्द, मांसपेशियों में दर्द और गठिया के दर्द को कम करने में अत्यंत प्रभावी हैं. इसमें कैल्शियम, ओमेगा -3 फैटी एसिड और लौह जैसे हड्डियों के लिए महत्वपूर्ण खनिज निहित हैं जो आपके जोड़ों और हड्डियों की ताकत व स्वास्थय में सुधार लाने में सक्षम है. राहत पाने के लिए थोड़े से लौंग के तेल में जैतून तेल जैसा कोई भी वाहक तेल मिलाएं और इस मिश्रण से रोजाना दिन में कई बार प्रभावित क्षेत्र की मालिश करें.

दमा के रोग में

दमा रोग में भी लौंग के फायदे मिलते हैं. लौंग, आंकडे के फूल और काला नमक को बराबर मात्रा में लें. इन्हें पीसकर चने के आकार की गोली बना लें. इसे मुंह में रखकर चूसने से दमा और श्वासनलिका के विकार ठीक होते हैं.

मुंह की दुर्गध दूर करे

पायरिया से ग्रसित लोग हों या काफी देर मत भूखे पेट बैठे रहने से भी मुंह से बदबू आ सकती है. लौंग से आप मुंह की बदबू और दांतो के दर्द को हमेशा के लिए दूर कर सकते हैं. इसके लिए आपको 40 से 45 दिनों तक लगातार रोज सुबह मुंह में साबुत लौंग का सेवन करना पड़ेगा.

 

 

Related Post

कांग्रेस मुख्यालय में लगी प्रियंका वाड्रा की नेमप्लेट

Posted by - February 5, 2019 0
नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की बहन प्रियंका गांधी वाड्रा ने मंगलवार यानी आज आधिकारिक तौर पर कांग्रेस महासचिव…
अनंतनाग में ग्रेनेड हमला

जम्मू एवं कश्मीर : शोपियां जिले में मुठभेड़ में दो आतंकवादी ढेर

Posted by - April 13, 2019 0
श्रीनगर। जम्मू एवं कश्मीर के शोपियां जिले में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए हैं।…
शत्रुघ्न सिन्हा

पीएम की तो हमेशा फिसलती है जुबान, मेरी एक बार फिसली तो मैं माफ़ी मांगू …

Posted by - April 29, 2019 0
बिहार। पटना साहिब लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी शत्रुघ्न सिन्हा का कहना है कि पीएम  मोदी की तो हमेशा जुबान फिसलती…