CM Yogi

बायोडीजल के उत्पादन, वितरण से संबंधित एड्वांस्ड वेब पोर्टल का विकास करेगी योगी सरकार

24 0

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की आर्थिक उन्नति का मार्ग प्रशस्त कर रही योगी सरकार औद्योगिक निवेश की बढ़ती संभावनाओं के बीच ऊर्जा खपत की पूर्ति को सुचारू रखने के लिए भी लगातार प्रयास कर रही है। इस क्रम में, प्रदेश भर में सौर ऊर्जा समेत स्वच्छ ऊर्जा विकल्पों पर जोर दिया जा रहा है। ऐसे में, कार्बन एमीशन को कम रखने में सक्षम बायोडीजल के उपयोग को बढ़ावा देने के लिहाज से भी योगी सरकार ने कई कदम उठाए हैं।

सीएम योगी (CM Yogi) की मंशा अनुरूप, प्रदेश में बायोडीजल (Biodiesel)  के उत्पादन, भंडारण, क्रय व वितरण की प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए उत्तर प्रदेश नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विकास अभिकरण (यूपीनेडा) द्वारा कई भी उल्लेखनीय कदम उठाए गए हैं। इसी कड़ी में, अब बायोडीजल को लेकर यूपीनेडा के प्रयोग के लिए एक अत्याधुनिक व विशिष्ट पोर्टल के निर्माण की तैयारी यूपी इलेक्ट्रॉनिक्स कॉर्पोरेशन लिमिटेड द्वारा की जा रही है। यह पोर्टल कई खूबियों से लैस होगा तथा बायोडीजल के उत्पादन, वितरण, एनओसी क्लियरेंस, लाइसेंस आवंटन, पंजियन, वाद निस्तारण तथा भुगतान संबंधी कार्यों की पूर्ति के लिए ‘वन स्टॉप सॉल्यूशन प्लैटफॉर्म’ की तरह कार्य करेगा।

पब्लिक ऑफिसर, जिलाधिकारी भी कर सकेंगे मॉनिटरिंग

इस प्रस्तावित वेब पोर्टल का विकास यूपी इलेक्ट्रॉनिक्स कॉर्पोरेशन लिमिटेड द्वारा होगा जिसने ई-निविदा के माध्यम से एजेंसी के निर्धारण व कार्यावंटन के लिए आवेदन मांगे हैं। उल्लेखनीय है कि वेब पोर्टल के विकास का कार्य प्राप्त करने वाली सॉफ्टवेयर एजेंसी को उसके डिजाइन, डेवलपमेंट, इंप्लीमेंटेशन और ऑपरेशनल ट्रेनिंग के साथ ही एनओसी व लाइसेंस जारी करने की प्रक्रिया के दौरान मदद करनी होगी। कार्य विवरण के अनुसार, यह वेब पोर्टल काफी डीटेल्ड होगा तथा हिंदी व इंग्लिश माध्यम में कार्य करेगा। इसमें यूपीनेडा के अधिकारियों समेत पब्लिक ऑफिसर्स के लॉगिन और जिलाधिकारियों के लॉगिन तथा कार्य योजनाओं की मॉनिटरिंग समेत कई फीचर्स होंगे। इसके अतिरिक्त, पोर्टल पर बायोडीजल को लेकर योगी सरकार की पॉलिसी समेत कई अन्य अहम जानकारियां व विवरण भी शामिल होंगे।

‘निवेश मित्र’ के साथ इंटीग्रेट होकर कार्य करने में होगा सक्षम

पोर्टल को इस लिहाज से निर्मित किया जाएगा कि वह निवेश मित्र के साथ इंटीग्रेट होकर कार्य करने में सक्षम हो। वेबसाइट में एप्लिकेंट रजिस्ट्रेशन, एप्लिकेशन अप्रूवल, एनओसी मॉड्यूल, पेमेंट मॉड्यूल, रीन्यूअल मॉड्यूल, क्वेरी सब्मिशन, रिपोर्टिंग मॉड्यूल, एसएमएस व ई-मेल इंटीग्रेशन, क्लाउड सर्वर, सिक्योरिटी ऑडिट, हेल्पडेस्क मॉड्यूल तथा वेब सर्वर डोमेन के लिए एसएसएल जैसे फीचर्स होंगे। इसमें एक डैशबोर्ड होगा जिसमें एप्लिकेंट लॉगिन, मैनुफैक्चरिंग यूनिट, रीटेलर यूनिट जैसे लॉगिन इंटरफेस रहेंगे। यह रिस्पॉन्सिव डिजाइन टेक्नोलॉजी आधारित होगा।

मोदी के कार्यकाल में देश में खेल गतिविधियों में आयी तेजी: योगी

इसका डेटा ट्रांसफर बैंडविड्थ 1000 गीगाबाइट प्रति सेकेंड होगा जबकि 500 गीगाबाइट तक डिस्क टू डिस्क बैकअप स्टोरेज की सुविधा से लैस होगा। इसके साथ ही, इसमें लाइव टेलिकास्टिंग की सुविधा भी रहेगी। यह वेब पोर्टल यूजर फ्रेंडली होगा तथा इसके जरिए त्वरित वाद निस्तारण की प्रक्रिया को भी बल मिलेगा।

Related Post

UP Budget

UP Budget 2024: स्वरोजगार से जोड़ने के लिए मुख्यमंत्री युवा उद्यमी विकास अभियान का आगाज

Posted by - February 5, 2024 0
लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने यूपी के युवाओं को नया उपहार दिया है। वित्त मंत्री सुरेश खन्ना…
CM Yogi

वाराणसी में आयोजित सद्भावना समारोह में शामिल हुए सीएम योगी

Posted by - October 14, 2022 0
लखनऊ/वाराणसी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) शुक्रवार को गौतम बुद्ध की उपदेश स्थली सारनाथ में आयोजित सद्भावना समारोह में बतौर…
झाविमो की पांचवीं सूची जारी

झाविमो ने 15 उम्‍मीदवारों की पांचवीं सूची जारी, सरोज सिंह को धनबाद से टिकट

Posted by - November 23, 2019 0
रांची। झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 को लेकर बाबूलाल मरांडी की पार्टी झारखंड विकास मोर्चा (झाविमो) ने शनिवार को अपने प्रत्‍याशियों…