WhatsApp की इस सॉफ्टवेयर से हुई जासूसी, सरकार ने इस संबंध में मांगी जानकारी

595 0

टेक डेस्क।  मैसेजिंग एप व्हाट्सएप की जासूसी को लेकर बड़ा बवाल हुआ है। व्हाट्सएप ने खुद इस बात की पुष्टि की है कि इसी साल मई में भारत के कुछ पत्रकारों और सामाजिक कार्यकर्ताओं के व्हाट्सएप चैट की जासूसी हुई है। भारत सरकार ने इस मामले को गंभीरता से लिया है। ये भी पढ़ें :-Twitter ने अपने प्लेटफॉर्म में किया बदलाव, अन ये दल नहीं दे सकेंगे विज्ञापन 

आपको बता दें व्हाट्सएप ने इसकी जानकारी अमेरिकी कोर्ट में दी है। मुकदमे में दी गई जानकारी के मुताबिक एक इजरायली फर्म ने एक स्पाइवेयर (जासूसी वाले सॉफ्टवेयर) के जरिए भारतीय यूजर्स की जासूसी की है।

ये भी पढ़ें :-दिवाली से पहले Reliance Jio ने दिया ग्राहकों को बड़ा तोहफा 

जानकारी के मुताबिक प्रसारण मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इस संबंध में व्हाट्सएप से जानकारी मांगी है। अभी तक सामने आई रिपोर्ट के मुताबिक जिन लोगों के व्हाट्सएप की हैकिंग हुई है या जासूसी हुई है उनमें मुख्य रूप से मानवाधिकार कार्यकर्ता, वकील और पत्रकार हैं।

Related Post

शरद पवार

मोदी के पास नहीं है परिवार, इसलिए दूसरों के घरों में करते हैं ताक-झांक : पवार

Posted by - April 17, 2019 0
मुंबई। लोकसभा चुनाव 2019 में राजनीतिक पार्टियों के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है। इस रेस में राष्ट्रवादी कांग्रेस…
राम जन्मभूमि के लिए ट्रस्ट ने 7,285 वर्ग फुट जमीन खरीदी

अयोध्र्या: राम जन्मभूमि परिसर के विस्तार के लिए ट्रस्ट ने 1 करोड़ ऱुपये में 7,285 वर्ग फुट जमीन खरीदी

Posted by - March 4, 2021 0
लखनऊ । राम मंदिर परिसर (Ram Janmabhoomi) का विस्तार 70 एकड़ से बढ़ाकर 107 एकड़ करने की योजना के तहत…