Dhami

उत्तराखण्ड 2025 तक देश के अग्रणी राज्यों में होगा शामिलः मुख्यमंत्री

55 0

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (CM Dhami) ने कहा कि उत्तराखण्ड को 2025 तक देश के अग्रणी राज्यों में शामिल करने की दिशा में सरकार अभी से योजना पर काम कर रही है। सरकार 1.25 करोड़ की प्रदेशवासियों की सामूहिक यात्रा के साथ आगामी पांच सालों में राज्य का ग्रोथ रेट को दोगुना करेगी।

बुधवार को हरिद्वार बाईपास रोड, आईएसबीटी के समीप स्थित एक होटल में आयोजित बिल्डिंग न्यू उत्तराखण्ड कॉन्क्लेव को मुख्यमंत्री धामी ने संबोधित किया। इस दौरान मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि राज्य की जनता एक ही दल की दो बार सरकार बनाने का मिथक तोड़ते हुए नया इतिहास बना है। हम जनता के साझीदार के रूप में कार्य करते हुए प्रदेश की सीमांत एवं सुदूर क्षेत्रों तक सरकार व शासर की पहुंच बनाने का कार्य कर रहे हैं। जन कल्याणकारी नीतियों एवं जन सुविधाओं का प्रभाव धरातल पर दिखाई दे, इसके लिए भी प्रतिबद्धता के साथ कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य, शिक्षा, सड़क के साथ ही बागवानी व औद्योगिक विकास की दिशा में प्रभावी कार्य योजना बनाई गई है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय नई शिक्षा नीति प्रदेश में लागू की गई है।

मुख्यमंत्री (CM Dhami) ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में राज्य सरकार, उत्तराखण्ड के चहुंमुखी विकास के लिए समर्पित भाव से जुटी है। हमने अपने वादे के अनुसार समान नागरिक संहिता के लिये समिति का गठन करने के साथ ही तीन बैठकें भी हो चुकी हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि चारधाम सर्किट में आने वाले सभी मंदिरों और गुरुद्वारों में भौतिक ढांचे और परिवहन सुविधाओं के विस्तार की हमारी योजना है। हम कुमाऊं के पौराणिक मंदिरों के लिये मानसखण्ड मंदिर माला मिशन पर भी काम कर रहे हैं। पर्वतीय क्षेत्रों में रोपवे नेटवर्क निर्माण के लिये पर्वत माला परियोजना पर कार्य किया जा रहा है। चारधाम ऑल वेदर सड़क योजनाए भारत माला व पर्वत माला योजनाएं तथा हवाई अड्डों का विकास आवागमन को आसान बनाने का कार्य कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री धामी से मिले सांसद साक्षी महाराज

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य अपने वनों, बुग्यालों, ग्लेशियरों का संरक्षण करके राष्ट्र को महत्वपूर्ण इको सिस्टम सेवाएं उपलब्ध करा रहा है। केदारपुरी का पुनर्निर्माण प्रधानमंत्री के विजन एवं संकल्प का सर्वश्रेष्ठ उदाहरण है। बद्रीनाथ धाम के मास्टर प्लान पर भी काम हो रहा है। हम विश्वास के साथ कह सकते हैं कि हम समृद्ध और आत्मनिर्भर उत्तराखण्ड का निर्माण करेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वीडीओ भर्ती की जांच एसटीएफ कर रही है। जांच में आने वाले प्रत्येक आरोपित को सलाखों के पीछे डाला जाएगा। जांच में बड़े से बड़े व्यक्ति का नाम आने पर भी उसे छोड़ा नहीं जाएगा। आज उत्तराखंड राज्य का युवा स्वरोजगार स्टार्टअप के माध्यम से अन्य लोगों को भी रोजगार देने का कार्य कर रहा है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने विभिन्न संस्थानों के प्रतिनिधियों को सम्मानित भी किया। कार्यक्रम में कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल भी मौजूद रहे।

टेराकोटा को लोकल से ग्लोबल बनाने में जुटी योगी सरकार

Related Post

उपराष्ट्रपति ने बाबा विश्वनाथ और काशी के कोतवाल के दरबार में टेका मत्था

Posted by - April 16, 2022 0
वाराणसी: देश के उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू (Vice President M Venkaiah Naidu) ने शनिवार सुबह वाराणसी में बाबा विश्वनाथ (Baba…

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस में आया नया मोड़ पूर्व मंत्री मंजू वर्मा ने कोर्ट में किया सरेंडर

Posted by - November 20, 2018 0
बेगूसराय। मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस में एक नया मोड़ तब आया जब आरोपी मंत्री मंजू वर्मा और मधु ने मंगलवार…