Sudan Crisis

सूडान संकट में फिर संकट का साथी बना यूपीएसआरटीसी

84 0

लखनऊ। सूडान (Sudan Crisis) में उत्पन्न आपातकालीन परिस्थितियों के चलते सूडान से वापस आने वाले उत्तर प्रदेश के नागरिकों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए उत्तर प्रदेश परिवहन (UPSRTC) निगत हर संभव मदद कर रहा है। जिस प्रकार कोविड महामारी के दौरान परिवहन निगम के चालकों/परिचालकों एवं अधिकारियों ने स्वयं के जीवन की परवाह न करते हुए प्रवासी प्रदेशवासियों को उनके घरो तक पहुंचाने का कार्य किया, ठीक वैसे ही सूडान संकट (Sudan Crisis) के दौरान भी परिवहन निगम अपने उत्तरदायित्वों का पूरा निर्वहन कर रहा है। सीएम योगी (CM Yogi) के निर्देश पर सूडान से लौट रहे प्रत्येक प्रदेशवासी को सुरक्षित उसके घर पहुंचाने की जिम्मेदारी को पूरी गंभीरता और प्राथमिकता के साथ किया जा रहा है।

छोटी गाड़ियों का भी किया जा रहा इस्तेमाल

उत्तर प्रदेश के परिवहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दयाशंकर सिंह ने बताया कि सूडान से वापस आने वाले उत्तर प्रदेश के नागरिकों की सुविधा हेतु उन्हें अपने-अपने गृह जनपद तक पहुंचाने की व्यवस्था की गई है। एयरपोर्ट से आने वाले नागरिकों को उनके गृह जनपद तक भेजे जाने एवं अन्य आवश्यक व्यवस्था जिलाधिकारी गौतमबुद्धनगर, गाजियाबाद, लखनऊ, गोरखपुर एवं वाराणसी द्वारा की जा रही है। उन्होंने बताया कि दिल्ली के निकटवर्ती जनपदों तक जाने वाले नागरिकों को जिला प्रशासन द्वारा उन्हें छोटी गाडियों से उनके गृह जनपद तक भेजने की व्यवस्था की गई है।

गाजियाबाद से चलाई जा रहीं 2 वॉल्वो बसें

परिवहन मंत्री ने बताया कि उत्तर प्रदेश परिवहन निगम गाजियाबाद क्षेत्र द्वारा दो वाल्वो बसों की व्यवस्था की गई है। एक बस संख्या यूपी 17टी 9134 दिल्ली से लखनऊ, गोरखपुर होते हुए देवरिया के लिए 26/ 27 की मध्य रात्रि को 36 यात्री लेकर रवाना की गई है। इसी प्रकार दूसरी बस संख्या यूपी 17टी 9168 दिल्ली से मथुरा, आगरा, कानपुर, फतेहपुर एवं प्रयागराज होते हुए वाराणसी तक 27 यात्री लेकर रवाना की गई है। उन्होंने बताया कि इसी प्रकार से 28 अप्रैल को भी दो वोल्वो बसें दिल्ली एयरपोर्ट पर लगाई गई हैं।

तत्परता से जुटे हैं कर्मचारी

परिवहन मंत्री ने बताया कि गाजियाबाद, लखनऊ, वाराणसी एवं गोरखपुर के क्षेत्रीय प्रबन्धकों को यह अभियान प्रारम्भ होते ही परिवहन निगम की बसों एवं छोटे वाहनों को आवश्यकतानुसार तत्काल उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए थे। साथ ही उन्हें जिला प्रशासन गाजियाबाद, लखनऊ, वाराणसी एवं गोरखपुर से समन्वय स्थापित करने एवं आगामी दिनों में सूडान से पुनः उत्तर प्रदेश के नागरिकों के आने पर उच्च प्राथमिकता पर उत्तर प्रदेश के अपने-अपने गृह जनपदों में सुरक्षित पहुंचाने के लिए जिला प्रशासन से लगातार संपर्क में रहने को निर्देशित किया गया है। उन्होंने कहा कि सीएम योगी की मंशा के अनुरूप किसी भी यात्री को परेशानी न हो और उसे सुरक्षित उसके गंतव्य तक पहुंचने के लिए विभाग के सभी कर्मचारी तत्परता से जुटे हुए हैं।

Related Post

Gita press

योगी के प्रयास ने गीता प्रेस के शताब्दी वर्ष को अविस्मरणीय बनाया

Posted by - July 8, 2023 0
गोरखपुर। धार्मिक साहित्य प्रकाशन के अद्वितीय संस्थान गीता प्रेस (Gita Press) के शताब्दी वर्ष को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी…
CM Yogi

सीएम योगी ने अयोध्या को दी ईवी की सौगात, डिजिटल टूरिस्ट एप भी किया लॉन्च

Posted by - January 14, 2024 0
अयोध्या । अयोध्या धाम में नवनिर्मित मंदिर में भगवान श्रीराम लला की प्राण प्रतिष्ठा से पूर्व रविवार को मुख्यमंत्री योगी…