up international trade show

उप्र के उत्पादों को इंटरनेशनल बाजार में पहचान दिलाएगा इंटरनेशनल ट्रेड शो

61 0

नई दिल्‍ली। औद्योगिक विकास में नए कीर्तिमान स्‍थापित कर रहा उत्‍तर-प्रदेश अपना इंटरनेशनल ट्रेड शो (UP International Trade Show) आयोजन करने जा रहा है।

इसी साल 21 से 25 सितंबर तक आयोजित होने वाले पांच दिवसीय ट्रेड (UP International Trade Show) की तैयारियों का लेकर शुक्रवार को राजधानी दिल्‍ली में एक रोड शो कार्यक्रम का आयोजन किया गया। यह कार्यक्रम उत्‍तर प्रदेश सरकार के एमएसएमई, निर्यात विभाग और इंडिया एक्‍सपोजिशन मार्ट लिमिटेड (आईईएमएल) द्वारा संयुक्‍त रूप से आयोजित किया गया, जिसमें एमएसएमई, निर्यात विभाग के अधिकारियों और आईईएमएल के पदाधिकारियों ने इंटरनेशनल ट्रेड शो की तैयारियों को लेकर जानकारी दी।

ग्रेटर नोएडा स्थित इंडिया एक्‍सपो सेंटर एंड मार्ट में आयोजित होने वाले इस इंटरनेशनल ट्रेड शो के माध्‍यम से व्‍यापक और बड़े व्‍यापार के लिए उत्‍तर प्रदेश के आकर्षक उत्‍पादों को एक छत के नीचे लाया जाएगा, जिसमें एक जिला, एक उत्‍पाद के साथ ही ऐसी महिला उद्धमियों को भी विशेष तरजीह दी जाएगी, जिन्‍होंने हाल के वर्षों में अपने स्‍टार्टअप के माध्‍यम से एक अलग पहचान बनाई है।

अपने संबोधन में एमएसएमई विभाग, उत्‍तर प्रदेश सरकार के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि इस इंटरनेशनल ट्रेड शो का मकसद उत्‍तर प्रदेश राज्‍य में ट्रेड और बिजनेस को बढ़ावा दिया जाना है ताकि प्रदेश के उत्‍पादों और सेवाओं से संबंधित विभिन्‍न सेक्‍टर्स को एक छत के नीचे लाया जाए। श्री प्रसाद ने कहा कि यह शो प्रदेश के संपूर्ण उत्‍पाद रेंज के अलावा बॉयर्स के लिए भी एक वन स्‍टॉप सोर्सिंग डेस्‍टीनेशन का काम करेगा। साथ ही, प्रदेश के उत्‍पादों की इंटरनेशनल मार्केट में पहुंच बढ़ाए जाने की दिशा में भी महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

श्री प्रसाद ने कहा कि औद्योगिक विकास की दृष्टि से उत्‍तर प्रदेश देश का महत्‍वपूर्ण राज्‍य है। बीते वर्षों में यहां के औद्योगिक परिदृश्‍य में काफी बदलाव देखने को मिला है। निवेशक प्रदेश में आना चाहते हैं, यहां निवेश करना चाहते हैं। उन्‍होंने कहा कि फरवरी माह में उत्‍तर प्रदेश में आयोजित ग्‍लोबल इंवेस्‍टर्स समिट इसका बहुत बड़ा उदाहरण है। उन्होंने बताया कि यह ग्‍लोबल इंस्‍वेस्‍टर्स समिट काफी सफल रहा है और जिसके माध्‍यम से 35 लाख करोड़ के निवेश का रास्‍ता साफ हुआ।

श्री प्रसाद ने कहा कि जिस तरह देश को पांच ट्रिलियन डॉलर अर्थव्‍यवस्‍था बनाने की दिशा में केन्‍द्र सरकार अग्रसर है, ठीक उसी प्रकार प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ प्रदेश की अर्थव्‍यवस्‍था को एक ट्रिलियन डॉलर अर्थव्‍यवस्‍था बनाने चाहते हैं, जिसमें सभी सेक्‍टर्स की भूमिका महत्‍वपूर्ण होगी। और इंटरनेशनल ट्रेड शो के माध्‍यम से इसको गति मिलेगी। उन्होंने कहा कि इस इंटरनेशनल ट्रेड शो में एक जिला, एक उत्‍पाद की विशेष झलक देखने को मिलेगी, जिसके माध्‍यम से स्‍थानीय उत्‍पादों को न केवल प्रोत्‍साहन मिलेगा, बल्कि इंटरनेशनल बाजार भी उनकी एक पहचान भी बनेगी।

एडिशनल सक्रेटरी ने कहा कि प्रदेश सरकार उद्योगों को बढ़ावा देने के साथ ही उद्यमियों को हर स्‍तर पर प्रोत्‍साहित करने पर भी विशेष जोर दे रही है, चाहे सस्‍ते ब्‍याज दर पर लोन की सुविधा हो या फिर उद्धोग स्‍थापित करने के लिए जमीन मुहैया कराए जाने की बात हो। उन्‍होंने कहा कि इस बार इंटरेनशनल ट्रेड शो का पहला संस्‍करण आयोजित होगा, लेकिन यह हर साल 21 से 25 सितंबर को ही ग्रेटर नोएडा के इंडिया एक्‍सपो मार्ट में ही आयोजित होगा।

सेक्रेटरी, एमएसएमई उत्‍तर प्रदेश सरकार, प्रांजल यादव ने कहा कि प्रदेश के कारोबारियों को विश्‍व बाजार में पहचान दिलाने और उनके उत्‍पादों का विश्‍व बाजार में भिजवाने के लिए यूपी इंटरनेशनल ट्रेड शो को कंसेप्‍चुलाइज किया गया है। उन्‍होंने कहा कि यह हाइब्रिड ट्रेड शो होगा, जो बीटूबी और बीटूसी पर आधारित होगा यानि यहां बिजनेस की बातें भी होंगी और कारोबारी अपना सामान सीधे ग्राहकों को बेच भी सकेंगे।

इंडिया एक्‍सपोजिशन मार्ट लिमिटेड के अध्‍यक्ष राकेश कुमार ने बताया कि इस इंटरनेशनल शो में उत्‍तर प्रदेश के 2000 से भी अधिक मैन्‍यूफैक्‍चरर्स और एक्‍सपोर्टर्स को शामिल किया जाएगा, जिसमें बनारस की गुलाबी मीनाकारी दिखेगी तो बांदा का सिल्‍क भी दिखेगा। इसी प्रकार बनारस और बांदा का शाजर स्‍टोन कफलिंक, कन्‍नौज का इत्र, लखनऊ की चिकनकारी, मुरादाबाद का ब्रास वर्क और आजमगढ़ की ब्‍लैक पॉटरी भी देखने को मिलेगी। राकेश कुमार ने कहा कि इस शो की ट्रेड कम्‍युनिटी में एक अलग पहचान बनेगी। यहां राष्‍ट्रीय और अंतराष्‍ट्रीय उपभोक्‍ताओं के समक्ष प्रदेश के एमएसएमई, वृहद इंडस्‍ट्रीज, आईटी-आईटीएस, टूरिज्‍म्‍ और हॉस्पिटेलिटी, एजुकेशन और फाइनेंशियल सर्विसेज, हेल्‍थ, टेक्‍सटाइल्‍स, एग्रो और प्रोसेसिंग, स्‍टार्टअप, जीआई टैग, टॉय एसोसिएशन्‍स और क्‍लस्‍टर्स, ट्रांसफार्मिंग इंडिया, रिन्‍यूवेबल एनर्जी, इलेक्ट्रिकल व्‍हीकल्‍स, डिजीटल इंडिया मिशन, स्‍मार्ट सिटी मिशन, एमएसई, सॉफटवेयर टेक्‍नोलॉजी पॉर्क ऑफ इंडिया, ओडीओपी जैसे महत्‍वपूर्ण सेक्‍टर्स की शोकेसिंग एक छत के नीचे की जाएगी। उन्‍होंने कहा कि यह शो प्रदेश के निर्यातकों, उद्यमियों, हस्‍तशिल्पियों के लिए वरदान साबित होगा।

Related Post

cm yogi

अपने शासन काल में बिजली न देने वाले फ्री बिजली की बात करते हैं : सीएम योगी

Posted by - January 31, 2022 0
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनता से अपील है कि वह प्रदेश कल्याण के हित में विधान सभा चुनाव में…
Political parties

गैंग नहीं, सियासी पार्टियां

Posted by - November 26, 2020 0
नवीन कुमार केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा है कि कांग्रेस और जम्मू-कश्मीर की स्थानीय राजनीतिक पार्टियों पर तीखा हमला…
UP GIS

UP GIS: फूड प्रोसेसिंग में उद्यमियों को योगीराज में ‘अमृतकाल’ सा अनुभव

Posted by - February 10, 2023 0
लखनऊ। फूड प्रोसेसिंग (Food Processing) क्षेत्र में उद्यमियों ने योगीराज में ‘अमृतकाल’ सा अनुभव किया। बदलते उत्तर प्रदेश में यह…
Ayodhya

Year Ender: अयोध्या में एक साल में हुए बड़े स्तर पर विकास कार्य, रेलवे स्टेशन का हुआ कायाकल्प

Posted by - December 25, 2023 0
लखनऊ। पावन सप्तपुरियों में से एक और धरती की अमरावती कही जाने वाली अवधपुरी का गौरव लौटने लगा है। पांच…