चित्रकूट में मिट्टी का टीला धंसने से चार की मौत, सीएम योगी ने लिया घटना का संज्ञान

849 0

चित्रकूट। चित्रकूट में दर्दनाक हादसा, मिट्टी का टीला धंसने से चार की मौत उत्तर प्रदेश के चित्रकूट में रैपुरा थाना क्षेत्र के बसिंधा गांव में मिट्टी खोदने गई महिलाओं के ऊपर मिट्टी का टीला ढहने से एक किशोरी समेत तीन महिलाओं की मौके पर मौत हो गई। दो लोग गंभीर रूप से घायल हैं। जिन्हें सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। सीएम योगी ने घटना का संज्ञान लेते हुए मृतक के आश्रितों को 2-2 लाख की आर्थिक सहायता प्रदान करने के निर्देश दिए हैं।

 

 रैपुरा थाना क्षेत्र के बसिंघा गांव के पास नदी के किनारे घर की पुताई के लिए मिट्टी खोदने गई महिलाएं हादसे की शिकार हो गईं. मिट्टी खोद रही महिलाओं के ऊपर मिट्टी का टीला धंसने से 1 किशोरी और 2 महिलाओं की मौत हो गई है. साथ ही हादसे में 2 महिलाएं गंभीर रूप से हुए घायल हो गईं. घटना से पूरे क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई. घायलों को रामनगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया. यहां से उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है.

डॉक्टर शैलेंद्र कुमार ने बताया कि सुबह अपने घर से कई महिलाएं घर की साफ सफाई और लिपाई-पुताई के लिए सफेद मिट्टी खोदने गांव के ही समीप बह रही नदी के किनारे के टीले पर गईं थी. मिट्टी खोदते समय अचानक टीला ढह गया और उसमें कई महिलाएं और बच्चियां दब गईं. शोरगुल सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुंचे और 5 महिलाओं को मिट्टी से बाहर निकाल लिया गया. इसमें दो किशोरी और तीन महिलाएं शामिल थी.

इनमें से एक किशोरी और दो महिलाओं की मौके पर ही मौत हो गई. वहीं गंभीर रूप से घायल एक किशोरी को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है. प्रशासन, ग्रामीणों की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन कर रहा है. ग्रामीणों के अनुसार मिट्टी में और भी महिलाएं दबे होने की आशंका है.

मलबे में कई लोगों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है। जिसको लेकर रेस्क्यू ऑपरेशन किया जा रहा है। बसिंधा में 13 महिलाएं घरों की पुताई करने के लिए नदी किनारे बने मिट्टी के टीले को खोदने के लिए गई हुईं थी। मिट्टी खोदते समय अचानक टीला ढह गया। जिसकी वजह से मलबे में एक किशोरी नीतू पुत्री नवल किशोर (12) वर्ष, ज्ञान देवी पत्नी शंकर यादव, सुनीता पत्नी चुंकावन की दबकर मौके पर ही मौत हो गई। बच्ची देवी पत्नी मोहन, अनुराधा पुत्री मोतीलाल यादव, संतोषी पुत्री चुंकावन गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। सभी घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल से प्रयागराज लिए रेफर कर दिया गया है। सूचना के बाद मौके पर पहुंचे जिला अधिकारी शेषमणि पांडे और पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल ने आनन-फानन में रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कराया।

Related Post

CM

मिट्टी भराई का कार्य अब तक पूर्ण न होने पर सीएम ने जताई नाराजगी

Posted by - April 9, 2022 0
गोरखपुर: विकास परियोजनाओं को समयबद्ध तरीके से पूर्ण कराने को लेकर बेहद गंभीर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने…
cm yogi

मिशन रोजगारः सीएम योगी ने नायब तहसीलदार, प्रवक्ता और सहायक अध्यापकों को सौंपे नियुक्ति पत्र

Posted by - January 6, 2022 0
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (cm yogi) ने पिछली सरकारों पर भर्ती में भ्रष्टाचार को लेकर तंज किया और कहा कि…
sambhav portal

‘संभव’ पोर्टल के तहत सभी डिस्काम के प्रबंध निदेशकों ने की जनसुनवाई

Posted by - May 24, 2022 0
लखनऊ। प्रदेश के ऊर्जा एवं अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत मंत्री ए.के. शर्मा (AK Sharma) के निर्देश पर विद्युत व्यवस्था के सुधार…