abhishek banerjee

एंबुलेंस देखकर बोले अभिषेक बनर्जी- रास्ता दीजिए, हम दिलीप घोष नहीं

67 0

डायमंड हार्बर। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी(Mamta Banerjee) के भतीजे अभिषेक बनर्जी (Abhishek Banerjee) के रोड शो में एक ऐसी घटना हुई कि चर्चा का विषय बन गई है। सांसद अभिषेक बनर्जी (Abhishek Banerjee) अपने निर्वाचन क्षेत्र में दक्षिण 24 परगना के डायमंड हार्बर में रोड शो निकाल रहे थे, तभी एक एंबुलेंस आई। जैसे ही अभिषेक बनर्जी (Abhishek Banerjee)को एंबुलेंस दिखी उन्होंने अपने समर्थकों से कहा कि वे एंबुलेंस के जाने के लिए रास्ता बनाएं।

अभिषेक बनर्जी (Abhishek Banerjee) अपने निर्वाचन क्षेत्र में दक्षिण 24 परगना के डायमंड हार्बर में रोड शो निकाल रहे थे, तभी एक एंबुलेंस आई। जैसे ही अभिषेक बनर्जी को एंबुलेंस दिखी उन्होंने अपने समर्थकों से कहा कि वे एंबुलेंस के जाने के लिए रास्ता बनाएं। जैसे ही ये एंबुलेंस गई तभी उसके कुछ मिनट बाद ही एक और एंबुलेंस आ गई। अभिषेक बनर्जी (Abhishek Banerjee) ने समझदारी दिखाते हुए दूसरी एंबुलेंस को भी रास्ता देने के लिए अपने समर्थकों से गुजारिश की। इसके बाद उन्होंने कहा कि ये अंतर है TMC और भाजपा में।

  • अभिषेक बनर्जी के रोड शो के वक्त आईं दो एंबुलेंस
  • दोनों एंबुलेंस को रास्ता देने के लिए बनाया गया रास्ता
  • अभिषेक बनर्जी बोले-हम दिलीप बनर्जी की तरह नहीं

पश्चिम बंगाल में तीसरे चरण का मतदान होने जा रहा है। उससे पहले शुक्रवार को अभिषेक बनर्जी रोड शो निकाल रहे थे। उन्होंने देखा कि एक एंबुलेंस आ रही है। इस पर अभिषेक बनर्जी (Abhishek Banerjee)बोले ‘एंबुलेंस को आने दीजिए, रास्ता बनाइए, भीड़ मत करिए। नहीं तो किसी को नुकसान हो जाएगा।’

इसके बाद अभिषेक(Abhishek Banerjee) को एक और एंबुलेंस दिखी, जिस पर उन्होंने कहा ‘ये किसकी एंबुलेंस है, इसे रास्ता दीजिए. एंबुलेंस को निकलने दीजिए, आपको थोड़ी परेशानी होगी लेकिन कृपया करके थोड़ा एडजस्ट कर लीजिए।’ इसके बाद उन्होंने कहा ‘ये भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के बीच अंतर है. हम दिलीप घोष की तरह नहीं जिन्होंने अपना भाषण जारी रखने के लिए एंबुलेंस को रास्ता नहीं दिया था।’

आपको बता दें कि जिस घटना का जिक्र अभिषेक बनर्जी ने किया था.।वो पिछले साल जनवरी महीने की है जब बंगाल बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष नादिया जिले के कृष्णनगर में एक रैली को संबोधित कर रहे थे। तभी एक एंबुलेंस आ गई जिसे दिलीप घोष ने वापस दूसरे मार्ग से ले जाने के लिए कह दिया। जब इस बात की खबर सोशल मीडिया पर आई तो बहुत लोगों ने दिलीप घोष की आलोचना की।

Related Post

अजित का फैसला पार्टी लाइन के खिलाफ

अजित का फैसला पार्टी लाइन के खिलाफ और अनुशासनहीनता है : शरद पवार

Posted by - November 23, 2019 0
मुंबई। शिवसेना और एनसीपी की संयुक्त प्रेस कांफ्रेस में शरद पवार ने कहा कि सरकार बनाने के लिए कांग्रेस, शिवसेना…
Mamta Banerjee

BJP ने ममता बनर्जी के खिलाफ निर्वाचन आयोग में शिकायत दर्ज कराई

Posted by - March 31, 2021 0
कोलकाता।  भाजपा ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की टिप्पणियों को लेकर उनके खिलाफ निवार्चन आयोग में शिकायत दर्ज…

प्रधानमंत्री मोदी की कहानी जल्द देखेगी बड़े परदे पर,विवेक ओबेरॉय नजर आएंगे नरेन्द्र मोदी की भूमिका में

Posted by - January 4, 2019 0
मुंबई।हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में आजकल बायोपिक्स बनाने का दौर चल निकला है पहले संजय दत्त के जीवन पर आधारित फिल्म…