JP Nadda

सपा सरकार में काशी विश्वनाथ धाम का सपना कभी पूरा नहीं होता : जेपी नड्डा

40 0

भारतीय जनता पार्टी बृज क्षेत्र के बूथ अध्यक्ष सम्मेलन को रविवार को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा (JP Nadda) ने सम्बोधित किया।

एटा के रामलीला ग्राउण्ड सैनिक पड़ाव में वृज क्षेत्र के 65 विधानसभा से जुड़े सभी 28222 बूथ अध्यक्षों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस, सपा और बसपा होती तो राममंदिर और काशी विश्वनाथ धाम का सपना कभी पूरा नहीं होता। क्या सपा की सरकार के समय अयोध्या में राममंदिर बन पाता। यह जब सत्ता में थे तब कुछ किया नहीं, अब कह रहे हैं कि ये तो हम भी करना चाहते थे।

देश दुनिया कोरोना प्रबंधन पर केन्द्र और राज्य सरकार की तारीफ कर रही है लेकिन यह कोरोना काल में क्वारंटीन होने वाली पार्टी के नेता दुष्प्रचार करने में जुटे हैं।

एटा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बूथ सम्मेलन में सपा, कांग्रेस और बसपा पर बड़ा हमला बोला। उन्होंने विकास कार्यों और राहत कार्यों की अनदेखी करने पर इन पार्टियों को जमकर लताड़ लगाई। उन्होंने कहा कि जो समाजवादी पार्टी की सत्ता में व्यापारियों का अपहरण करते थे, गरीबों के अनाज को हड़प जाते थे। वह आज मारे-मारे फिर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस, सपा और बसपा होती तो भव्य राम मंदिर और काशी विश्वनाथ धाम का सपना कभी पूरा नहीं हो पाता। हमारी सरकार के कार्यों से आप खुश हैं यही काफी है। बुआ-बबुआ नाउम्मीद हैं उन्हें जनता अब नाउम्मीद ही रहने देगी। इन लोगों के पास जब सत्ता थी तब कुछ किया नहीं अब कह रहे हैं कि ये तो हम भी करना चाहते थे।

 

Related Post

चिदंबरम को जमानत

पी. चिदंबरम को 105 दिन बाद खुली हवा में लेंगे सांस, विदेश जाने पर रोक

Posted by - December 4, 2019 0
नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने मनी लांड्रिंग के ईडी वाले मामले में पूर्व केन्द्रीय मंत्री पी चिदंबरम को बुधवार को…

प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक की तर्ज पर लखनऊ में होगा डिजिटल मीडिया कॉन्क्लेव

Posted by - December 4, 2021 0
राजधानी लखनऊ में डिजिटल मीडिया जर्नलिस्ट फोरम की महत्वपूर्ण बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में बड़ी संख्या में यूट्यूबर्स, ब्लॉगर्स और…

वरुण गांधी ने फिर किया किसान आंदोलन का समर्थन, शेयर किया पूर्व पीएम का वीडियो

Posted by - October 14, 2021 0
लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी के पीलीभीत से सांसद वरुण गांधी ने कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों का एक बार…