BSP के छह और BJP के एक विधायक सपा में शामिल, अखिलेश यादव ने दिलाई सदस्यता

87 0

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को जोरदार टक्कर देने के लिए समाजवादी पार्टी कुनबा बढ़ाओ अभियान में तेजी से लगी है। चुनाव से पहले आज समाजवादी पार्टी ने बहुजन समाज पार्टी और राज्य की सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी को बड़ा झटका दिया है। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शनिवार को सात विधायकों को समाजवादी पार्टी की सदस्यता दिलाई। बीएसपी के 6 निलंबित और बीजेपी के एक विधायक ने एसपी की सदस्यता ली।

यूपी विधानसभा उपाध्यक्ष के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी से बगावत करने वाले सीतापुर सदर के विधायक राकेश राठौर के साथ ही बहुजन समाज पार्टी से निष्कासित सात विधायकों ने समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। बहुजन समाज पार्टी से निष्कासित विधायक सुषमा पटेल, हरगोविंद भार्गव, असलम चौधरी, असलम राइनी, हाकिम लाल बिन्द व मुज्तबा सिद्दीकी ने शनिवार को समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए है। समाजवादी पार्टी के मुख्यालय में इन सभी विधायकों ने समाजवादी पार्टी की सदस्यता लेने के बाद समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का आभार जताया। उन्होंने कहा कि सभी माननीय विधायकों का समाजवादी पार्टी में बहुत-बहुत स्वागत एवं धन्यवाद।

इन नेताओं को पार्टी में शामिल कराने के बाद अखिलेश यादव ने कहा कि राज्य की जनता में बीजेपी के खिलाफ इतना गुस्सा है कि आने वाले समय में बीजेपी का राज्य से सफाया हो जाएगा।

बीजेपी ने संकल्प पत्र के वादे पूरे नहीं किए

अखिलेश यादव ने कहा कि ऐसे कई लोग हैं जो एसपी में आने चाहते हैं। लेकिन वह इंतजार कर रहे हैं और आने वाले समय में तस्वीर साफ हो जाएगी। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने अपने घोषणा पत्र में किए वादों को पूरा नहीं किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने 2017 में अपना लोक कल्याण संकल्प पत्र बनाया और सरकार बनने के बाद उसे कूड़ेदान में फेंक दिया। बीजेपी ने वादा किया था 2022 तक किसानों की संख्या दोगुनी कर दी जाएगी। लेकिन आज किसान जानना चाहता है कि किसानों की आय कब दोगुनी होगी। देश में महंगाई बढ़ गई और जरूरी सामान महंगे हो गए हैं।

एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी ने घोषणा पत्र को अगर देखें तो इसमें से एक भी वादा सरकार ने पूरा नहीं किया है। बीजेपी ने कहा था कि वह अधिकतम मूल्य पर धान खरीदेगी। लेकिन उत्तर प्रदेश के किसान का धान नहीं खरीदा जा रहा है। जिसके कारण किसान परेशान है और आंदोलन कर रहा है। अखिलेश यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वादा किया था कि झांसी और मथुरा में मेट्रो का निर्माण कार्य शुरु किया जाएगा। लेकिन कहीं भी मेट्रो का काम शुरू नहीं किया।

बागी विधायकों के जाने से कोई फर्क नही पड़ता- बसपा

बता दें कि बसपा छोड़कर सपा में शामिल हाजी मुजतबा सिद्दीकी, हाकिम लाल बिंद, सुषमा पटेल, असलम चौधरी, हरगोविंद भार्गव और असलम राईनी ने राज्यसभा चुनाव के दौरान बीएसपी से बगावत कर सपा का साथ दिया था। इनको लेकर बसपा पहले ही कह चुकी है इन बागी विधायकों के जाने से कोई फर्क नही पड़ता। इन सभी विधायकों को बसपा से निष्काषित किया जा चुका है। इनके रहने से पार्टी को नुकसान पहुंच रहा था।

Related Post

प्रियंका के राजनीति में आने से भाजपा -YOGI

प्रियंका गांधी के राजनीति में आने से बीजेपी को नही पड़ेगा कोई फर्क – सीएम योगी

Posted by - March 16, 2019 0
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के सीएम योगी ने कहा कि प्रियंका गांधी वाड्रा के राजनीति में प्रवेश करने से लोकसभा चुनावों…
प्रियंका गांधी

लोकसभा चुनाव: पहली बार चाची के खिलाफ प्रियंका करेंगी प्रचार, पीएम से होगा सामना

Posted by - May 9, 2019 0
नई दिल्ली। दो चरणों की वोटिंग से पहले राजनीतिक दलों की ताबड़तोड़ रैलियां हो रही है। पीएम मोदी आज पांच,…

चंडीगढ़ बॉर्डर पर किसानों ने किया हंगामा, बैरिकेड तोड़ चंडीगढ़ में घुसकर राजभवन की ओर करेंगे कूच

Posted by - June 26, 2021 0
कृषि कानून को रद्द करने की मांग से शुरू हुए किसान आंदोलन को आज 7 महीने पूरे हो गए हैं।…