लखनऊ समेत 15 जिलों में चुनिंदा इलाके सील

कोरोना संक्रमण प्रसार राेकने के लिए लखनऊ समेत 15 जिलों में चुनिंदा इलाके सील

104 0

लखनऊ। कोरोना संक्रमण के प्रसार को राेकने के तहत उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ समेत 15 जिलों में चुनिंदा इलाकों को सील किया जायेगा। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बुधवार को बताया कि बुधवार सुबह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में टीम 11 की महत्वपूर्ण बैठक में यह फैसला लिया गया।

लखनऊ के आठ इलाकों को बड़े और चार को छोटे हाटस्पाट के रूप में चिन्हित किया गया

श्री योगी के निर्देशानुसार जिन जिलों में छह अथवा इससे अधिक कोरोना संक्रमित मरीज पाये गये है, वहां के चुने हुये इलाकों को सील कर सैनीटाइजेशन समेत अन्य एहतियाती कदम उठाये जायेंगे। उन्होने बताया कि हाटस्पाट के तौर पर चिन्हित आगरा में 22, गाजियाबाद में 12, आगरा में 13, कानपुर में 12,बस्ती में तीन, गौतमबुद्धनगर में 12, वाराणसी में चार, शामली में तीन, मेरठ में सात, बुलंदशहर में तीन, फिरोजाबाद में तीन, सीतापुर में 1, सहारनपुर में चार, महारागंज में चार इलाके पूरी तरह सील किये जायेंगे। इसके अलावा लखनऊ के आठ इलाकों को बड़े और चार को छोटे हाटस्पाट के रूप में चिन्हित किया गया है।

ये हैं लखनऊ के 12 हॉटस्पॉट

डॉक्टर नाज़िया के घर के आसपास का इलाका विजय खंड।
कैफ़ अली आब्दी के घर के आसपास का इलाका इंदिरानगर।
डॉक्टर तौसीफ हैदर के घर के आसपास का इलाका अलीना एंक्लेव खुर्रम नगर
यश ठाकुर के घर के आसपास का इलाका विशालखण्ड आंशिक रूप से सील होगा।
मस्जिद अलीजान ,सदर
मोहम्मदी मस्जिद अस्तबल, चारबाग
फूलबाग मस्जिद ,कैसरबाग।
मोहम्मदिया मस्जिद, मुजम्मिल नगर सहादतगंज ।
लाल मस्जिद ,आलमनगर तालकटोरा।
नजरबाग मस्जिद ,कैसरबाग।
खजूर वाली मस्जिद, त्रिवेणी नगर।
अली हयात मस्जिद फैजुल्लागंज मड़ियाव।
रजौली मस्जिद ,गुडंबा।

वायरल पोस्टर पर पीएम मोदी ने तोड़ी चुप्पी,बोले- किसी की लगती है खुराफात

राहत कार्य में लगे कर्मचारी और चिकित्सा कर्मियों को लाने ले जाने के लिये वाहन की व्यवस्था होगी

इन इलाकों को बुधवार रात 12 बजे से सील कर दिया जायेगा जो 13.14 अप्रैल की मध्यरात्रि तक जारी रहेगा। इन इलाकों में लोगों को घरों के अंदर रहने के निर्देश दिये गये है जबकि उनकी जरूरत का सामान डोर स्टेप में मुहैया कराया जायेगा। क्षेत्र में सभी प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। इलाके के बाहर बैरीकेडिंग लगायी जायेंगी जहां मीडिया कर्मियों का प्रवेश भी निषेध होगा। इन इलाकों में आवागमन पूरी तरह अवरूद्ध रहेगा और पहले जारी किये गये सभी पासों को निरस्त समझा जायेगा। राहत कार्य में लगे कर्मचारी और चिकित्सा कर्मियों को लाने ले जाने के लिये वाहन की व्यवस्था होगी।

श्री अवस्थी ने बताया कि राज्य में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुये यह फैसला लिया गया है। राज्य में आज सुबह तक कुल 343 कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान की गयी है जिसमें तब्लीगी जमात के सदस्यों की तादाद 187 है।

Loading...
loading...

Related Post

प्रदूषण पर निबंध वायरल

प्रदूषण बना ‘दिल्ली का प्रमुख त्योहार’, ​बच्चों को मिलती हैं ज्यादा छुट्टियां, निबंध वायरल

Posted by - November 15, 2019 0
नई दिल्ली। दिल्ली एनसीआर में दिन प्रतिदिन बढ़ते प्रदूषण का हल खोजने में केंद्र व प्रदेश सरकार लगातार फेल हो…
हेलीकॉप्टर

पीएम की रैली में जा रहे हेलीकॉप्टर में तकनीकी खराबी, इमरजेंसी लैंडिंग

Posted by - May 1, 2019 0
प्रतापगढ़। यूपी में पीएम की रैली में जा रहे एक हेलीकॉप्टर में अचानक तकनीकी खराबी आ गई। इसके कारण प्रतापगढ़…
राष्ट्रीय मतदाता दिवस

यंग इंडिया बदल रहा है भारत का भविष्य, डीआरडीओ बने दुनिया के लिए प्रेरणास्रोत: मोदी

Posted by - January 3, 2020 0
बंगलुरु। डिफेंस रिसर्च एंड डवलपमेंट ऑर्गेनाइजेशन (डीआरडीओ) में एक कार्यक्रम को पीएम मोदी ने संबोधित किया। इस दौरान मोदी ने…
कोरोनावायरस का संकट

कोरोनावायरस का संकट : फिल्म ‘संदीप और पिंकी फरार’ की रिलीज तिथि टली

Posted by - March 15, 2020 0
मुंबई। अर्जुन कपूर और परिणीति चोपड़ा स्टारर ‘संदीप और पिंकी फरार’ इन दिनों से सुर्खियों में है। हाल में फिल्म…