Yogi

मातृ शक्ति की सुरक्षा, सम्मान व स्वावलंबन का भाव दैनिक जीवन में उतारें: सीएम योगी

55 0

गोरखपुर: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने कहा कि भारत की परम्परा में मातृ शक्ति का सर्वोच्च स्थान है। इस महत्ता को अंगीकार करते हुए हमें मातृ शक्ति की सुरक्षा, सम्मान व स्वावलंबन का भाव अपने दैनिक जीवन में भी उतारने की आवश्यकता है। गोरखनाथ मंदिर (Gorakhnath Temple) में रविवार को कन्या पूजन के बाद प्रदेशवासियों को वासंतिक नवरात्र व श्रीरामनवमी की शुभकामनाएं देते हुए सीएम योगी ने कहा कि नवरात्रि की नवमी तिथि पर नवदुर्गा स्वरूपा कुंवारी कन्याओं का पूजन संपन्न हुआ है।

इसी महत्वपूर्ण तिथि पर समाज को मर्यादा के मार्ग पर ले जाने वाले व मानवीय जीवन मूल्यों का उच्च आदर्श प्रस्तुत करने वाले प्रभु श्रीराम का जन्मोत्सव देश दुनिया में सनातन धर्मावलंबियों द्वारा हर्षोल्लास से मनाया जा रहा है अयोध्या धाम में श्रीरामनवमी पर विशेष आयोजन हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि कन्या पूजन का अनुष्ठान नारी शक्ति को सुरक्षित रखने, उन्हें बेहतर माहौल देने, शासन की महिला कल्याणकारी योजनाओं को ईमानदारी से लागू करने के संकल्प और इसमें योगदान देने का भी स्मरण कराता है। बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, जननी सुरक्षा योजना, मातृ वंदना योजना, कन्या सुमंगला योजना व मिशन शक्ति से जुड़ कर हम सभी इन योजनाओं को सफलता की नई ऊंचाइयों पर ले जा सकते हैं।

सबको न्याय व सबको सम्मान देना सरकार का लक्ष्य

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा प्रभु श्रीराम का जन्मोत्सव हमें उनके आदर्शों व मानवीय चरित्र से जुड़ने और बिना भेदभाव मानवीय गरिमा, सुरक्षा व सम्मान के कार्य की प्रेरणा प्रदान करता है। सबको न्याय व सबको सम्मान देना सरकार का लक्ष्य है। रामराज्य की इसी परिकल्पना को साकार करने की दिशा में सरकार कार्य कर रही है। उन्होंने इस परिकल्पना से आम जनमानस के जुड़ने की अपील की।

सोहर गीत के बीच प्रभु श्रीराम के बालरूप को पालने में झुलाया सीएम ने

कन्या पूजन के उपरांत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रभु श्रीराम के बाल रूप को पालने में झुलाया। गोरखनाथ मंदिर के ओपन एयर थिएटर में प्रभु श्रीराम के जन्मोत्सव का समारोह सोहर गीतों के बीचआयोजित किया गया था। यहां पहुंचे सीएम योगी ने झूले पर विराजमान प्रभु के बाल रूप की विधि विधान से पूजा की। श्रद्धा भाव से उन्हें पालने में झुलाया और उनसे लोक कल्याण की मंगलकामना की।

बच्चों को दुलार कर पूछा, किसने सर्वाधिक पूड़ी खाई

प्रभु श्रीराम जन्मोत्सव समारोह से वापस लौटते वक्त सीएम योगी की नजर मंदिर परिसर में कुछ बच्चों पर पड़ गई। चिर परिचित बाल प्रेम दिखाते हुए वह उन बच्चों के पास रुक गए। बच्चों से ठिठोली करते हुए उन्होंने पूछा, मंदिर के भोजन प्रसाद में सबसे अधिक पूड़ी किसने खाई। एक एक बच्चे के यह कहते ही कि मैंने सबसे अधिक पूड़ी खाई, मुख्यमंत्री खिलखिला कर हंस पड़े। उन्होंने सभी बच्चों के माथे पर हाथ फेरकर उन्हें दुलारा और आशीर्वाद प्रदान किया। मुख्यमंत्री को अपने बीच पाकर इन बच्चों की खुशी का कोई ठिकाना नहीं था।

Related Post

कांग्रेस नेता विश्वबंधु रॉय महाराष्ट्र सरकार से खफा, राज्यपाल से की उद्धव की शिकायत

Posted by - September 25, 2021 0
मुंबई। मुंबई के साकीनाका दुष्कर्म व हत्याकांड को लेकर महाराष्ट्र में सियासत गर्म है। इस हत्याकांड को निर्भया-2 कहा गया…
Umar

मतदान कर्मियों को बंधक बना हंगामा करने के आरोप में सात गिरफ्तार

Posted by - April 28, 2021 0
बलिया। जिले के दोकटी क्षेत्र के शिवपुर नौरंगा गांव में सोमवार को त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (Panchayat Chunav) सम्पन्न होने के…
BSP Worker indra sen maurya

पंचायत चुनाव से पहले BSP कार्यकर्ता का आरोप, टिकट के लिए 5 लाख की डिमांड

Posted by - March 13, 2021 0
जौनपुर। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दस्तक के साथ ही बहुजन समाज पार्टी (बसपा) में टिकट के लिए मारामारी शुरू हो…
Mukhtar Abbas Naqvi

चुनाव आयोग से मिला BJP प्रतिनिधिमंडल , कहा- SC समुदाय के अपमान के लिए TMC के खिलाफ की जाए ‘कड़ी’ कार्रवाई

Posted by - April 11, 2021 0
नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi)  के नेतृत्व में बीजेपी के एक प्रतिनिधिमंडल ने रविवार को…