मोदीनॉमिक्स

राहुल गांधी बोले-‘मोदीनॉमिक्स’ ने देश की अर्थव्यवस्था को डुबो दिया

582 0

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ग्रामीण क्षेत्रों में प्रति व्यक्ति द्वारा खर्च की औसत राशि में गिरावट को लेकर शुक्रवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने आरोप लगाया कि ‘ मोदीनॉमिक्स ‘ (मोदी के अर्थशास्त्र) ने इतना ज्यादा नुकसान कर दिया है।राहुल गांधी ने कहा कि अब सरकार को अपनी ही रिपोर्ट छिपानी पड़ रही है।

दिल्ली प्रदूषण पर बड़ी लापरवाही : संसदीय समिति की बैठक में नहीं पहुंचे सांसद-अधिकारी 

‘ मोदीनॉमिक्स ‘  ने इतना ज्यादा नुकसान कर दिया  कि अब सरकार को अपनी ही रिपोर्ट छिपानी पड़ रही है

गांधी ने एक मीडिया रिपोर्ट का हवाला दिया है जिसमें राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) के आंकड़े का जिक्र करते हुए कहा गया है कि भारत में 2011-12 में एक व्यक्ति द्वारा खर्च की गई औसत राशि 1501 रुपये थी, जो 2017-18 में 3.7 फीसदी की गिरावट के साथ 1446 रुपये हो गई।

रिपोर्ट का हवाला देते हुए राहुल ने ट्वीट किया कि ‘ मोदीनॉमिक्स ने इतना ज्यादा नुकसान कर दिया है कि अब सरकार को अपनी ही रिपोर्ट छिपानी पड़ रही है। इस रिपोर्ट के अनुसार प्रति व्यक्ति मासिक खपत व्यय (एमपीसीई) के आंकड़े वास्तविक संदर्भ में हैं। यानी इन्हें 2009-10 को आधार वर्ष मानकर महंगाई के हिसाब से समायोजित किया गया था। 2011-12 में वास्तविक एमपीसीई दो साल की अवधि में 13 फीसदी बढ़ा था।

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने भी इसी रिपोर्ट का हवाला देते हुए मोदी सरकार पर हमला बोला

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने भी इसी रिपोर्ट का हवाला देते हुए मोदी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि इस रिपोर्ट से एक बार फिर साबित हो गया है कि नोटबंदी और जल्दबाजी में लागू की गई। इसके अलावा जीएसटी से देश की अर्थव्यवस्था को बहुत नुकसान पहुंचा दिया है।

Related Post

सीडब्लूसी की बैठक में तीन प्रस्ताव पारित, 1 नवंबर से सदस्यता अभियान चलाएगी कांग्रेस

Posted by - October 16, 2021 0
नई दिल्ली। आज लंबे इंतजार के बाद कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक हुई। इस बैठक में कांग्रेस के संगठनात्मक चुनाव…

क्या बीजेपी ने मना लिया पासवान को?लोजपा को राज्यसभा की एक सीट देने पर भी सहमत

Posted by - December 22, 2018 0
नई दिल्ली। लोक जनशक्ति पार्टी ने कुछ दिन पहले बीजेपी से अपनी नाराज़गी जताई थी जिसके चलते भारतीय जनता पार्टी…