अपनी आँखों की करे हिफाजत, डाइट में शामिल करें ये 7 चीज़े

300 0

लाइफस्टाइल डेस्क.   आंखें हमारे शरीर का बहुत ही नाजुक हिस्सा होती है. लेकिन देखा जाए तो हम इसकी परवाह को सबसे ज्यादा नजरअंदाज करते है. घंटों तक लैपटॉप और कंप्यूटर पर काम करना, मोबाइल चलाना या खानपान पर ध्यान न देना आदि से हमे आंखों में दर्द, जलन, खुजली होना व कम दिखाई देने की समस्या होने लगती है. स्वस्थ आंख के लिए बहुत जरूरी है कि उसका ठीक तरह से देखभाल किया जाए. अगर आप चाहते हैं कि आपकी आंखों की सेहत बरकरार रहे तो यह जरूरी है कि आप अपने आहार पर ध्यान दें. आज हम आपको  कुछ चीजों के बारे में बताते हैं जिन्हें अगर आप अपनी डाइट में शामिल करती हैं तो आप आंखों से जुड़ी समस्या से राहत पा सकेंगे.

फेफड़ों को वायु प्रदूषण से बचाना है तो अपनाए ये असरदार उपाए

हरी पत्तेदार सब्जियां

हरी पत्तेदार सब्जियां विटामिन सी और ई से भरपूर होती हैं. हरी पत्तेदार सब्जियां आंखों की सेहत को बनाए रखने के लिए बहुत अहम होती हैं। पालक, पत्तागोभी आदि हरी सब्जियों में विटामिन सी और ई भरपूर मात्रा में होते हैं। इनमें कैरोटिनॉयड्स ल्यूटिन और जेक्सैंथिन भी होता है। इसके अलावा इनमें पाया जाने वाला विटामिन ए आंखों को होने वाली कई तरह की बीमारियों जैसे एएमडी और मोतियाबिंद से बचाता है।

सौंफ

खासतौर पर सौंफ खाने से पाचन तंत्र मजबूत होता है। मगर इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-वायरल गुण आंखों को स्वस्थ रखने का भी काम करती है। इसे खाने से मोतियाबिंद की समस्या कम होने में मदद मिलती है। आप इसका पाउडर बना कर दूध के साथ सेवन कर सकती है। इसे बनाने के लिए बादाम, सौंफ और मिश्री को बराबर मात्रा में लेकर मिक्सी में पीस लें। तैयार पाउडर को सोने से पहले गर्म दूध के साथ सेवन करें। इससे आंखों की रोशनी बढ़ने के साथ इससे जुड़ी अन्य समस्याओं से भी राहत मिलती है।

विटमिन ई

विटमिन ई की एंटीऑक्सीडेंट आंखों की कोशिकाओं को नुकसान से बचाती है। यह इम्युनिटी भी बढ़ाती है। इसलिए विटमिन ई रिच फूड का सेवन करने से आंखों की रोशनी और हेल्थ बेहतर रह सकती है। साथ ही यह विटमिन ड्राईनेस से भी बचाता है। डाइट में होल ग्रेन्स, सूरजमुखी के बीज, पीनट बटर आदि शामिल करें।

इलायची

मसाले में इस्तेमाल होने वाली इलायची आपके आंखों के लिए रामबाण है। इसके सेवन से आपकी आंखों की रोशनी तो बराबर रहती ही है साथ में आंखें शीतल भी रहती हैं। इलायची को पीसकर पाउडर बना लें और उसे रोजाना दूध में मिलकर पीएं।

गाजर

गाजर में पाए जाने वाला रोडोप्सिन प्रोटीन का एक काम्पोनेन्ट है, जो रेटिना को प्रकाश को अवशोषित करने में मदद करता है। इसके अलावा गाजर में विटामिन ए और बीटा कैरोटीन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। जैसा कि पहले भी बताया गया है कि विटामिन ए आपकी आंखों को हेल्दी बनाने में मदद करता है। बता दें कि गाजर का रंग नारंगी प्रोटीन बीटा कैरोटीन के कारण होता है।

बादाम

बादाम में विटामिन-ई, फाइबर, ओमेगा-3 फैटी एसिड, एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल गुण होते हैं। ऐसे में इसका सेवन करने से दिल, दिमाग व आंखों को मजबूती मिलती है। इसे रातभर भिगोकर सुबह खाली पेट खाना फायदेमंद होता है। इसके अलावा रातभर भिगे बादाम को सुबह छिलकर उसे मिक्सी में पीस लें। तैयार पेस्ट का 1 चम्मच दूध के साथ पीकर सोएं।

ओमेगा-3 फैटी एसिड

एक स्टडी के मुताबिक, ओमेगा-3 फैटी एसिड से युक्त फूड का सेवन करने से आंखों में ड्राइनेस और जलन को कम किया जा सकता है। विशेष रूप से ओमेगा- 3 आपकी पलकों में या आपकी आंख की सतह पर सूजन को कम करता है और आंसू को अपना काम बेहतर तरीके से करने में मदद करता है। ओमेगा-3 युक्त चीज़ें हैं- टूना मछली, छोटी समुद्री मछली, सामन, अखरोट, पंपकिन सीड्स, अलसी, चिया सीड्स, वेजटेबल ऑयल, सोयाबीन और हरी-पत्तेदार सब्जि़यां खाएं।

Loading...
loading...

Related Post

मुलायम सिंह यादव

सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की बिगड़ी तबीयत, एसजीपीजीआई में भर्ती

Posted by - April 26, 2019 0
लखनऊ। समाजवादी पार्टी के संरक्षक और मैनपुरी से गठबंधन के प्रत्याशी मुलायम सिंह यादव की शुक्रवार को तबीयत अचानक बिगड़…