Pradhan Mantri Ujjwala Yojana

Women’s Day: प्रदेश की ‘आधी आबादी’ के जीवन का उजाला बनी ‘प्रधानमंत्री उज्जवला योजना’

34 0

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की ‘डबल इंजन’ की सरकार महिलाओं के उत्थान के लिए विगत सात वर्षों से लगातार कार्य कर रही है। इस दिशा में, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना (Pradhan Mantri Ujjwala Yojana) प्रदेश की आधी आबादी के जीवन का उजाला बनने का बेहद सशक्त माध्यम साबित हुई है। गरीबों के घरों में भी एलपीजी जैसे सुरक्षित ईंधन से खाना पके, इसके लिए वर्ष 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बलिया से उज्ज्वला योजना (Pradhan Mantri Ujjwala Yojana) की शुरुआत की थी। इसके अंतर्गत, उत्तर प्रदेश में अब तक 1.75 करोड़ पात्र परिवारों को निःशुल्क गैस कनेक्शन दिया गया है। इस योजना ने प्रदेश की करोड़ों माताओं-बहनों को धुएं से मुक्ति दिलाकर उनका जीवन बदल दिया है।

योगी के कमान संभालते ही आई प्रक्रिया में तेजी

वर्ष 2017 के पहले उत्तर प्रदेश में जहां इस योजना की गति बहुत धीमी थी। वहीं, प्रदेश की कमान जब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) के हाथ में आई तो इस योजना के क्रियान्वयन में तेजी आई। इसी का नतीजा रहा कि उत्तर प्रदेश में प्रधानमंत्री उज्जवला योजना (Pradhan Mantri Ujjwala Yojana) में देश में प्रथम स्थान पर है।

यही नहीं, होली और दीपावली पर योगी सरकार प्रदेश की महिलाओं को एक-एक सिलेंडर निःशुल्क दे रही है। योजना के तहत आधार वेरीफाइड लाभार्थियों को निःशुल्क एलपीजी सिलेण्डर रिफिल कर वितरित किया जा रहा है।

‘धुआं मुक्त रसोई’ का सपना हुआ पूरा

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना (Pradhan Mantri Ujjwala Yojana) से लाभान्वित हुई बस्ती जनपद के कप्तानगंज विकासखंड के ग्राम पंचायत बढ़नी मिश्र की रहने वाली निर्मला देवी कहती हैं कि पहले वह लकड़ी से खाना बनाती थी, धुंए के कारण उनके आखों में जलन एवं स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता था।

शुक्रवार को सीबीजी प्लांट का लोकार्पण करेंगे मुख्यमंत्री योगी

योजना के तहत गैस सिलेण्डर मिल जाने से समय की बचत के साथ ही उनका धुआं मुक्त रसोई का सपना भी पूरा हो गया है। अब उनकी आंखों में जलन नहीं होती और भोजन भी अपेक्षाकृत जल्दी बन जाता है।

लकड़ी जलाकर खाना पकाने से मिली मुक्ति

आगरा के लोहामंडी की रहने वाली राधा कुमारी कहती हैं कि उन्हें प्रधानमंत्री द्वारा शुरु की गई उज्ज्वला योजना (Pradhan Mantri Ujjwala Yojana) से गैस का सिलेण्डर, चूल्हा, पाइप व रेगुलेटर निःशुल्क प्राप्त हुआ है। उन्होंने ने भी बताया कि पहले उन्हें चूल्हे पर लकड़ी जलाकर खाना पकाना पड़ता था, जिससे बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता था।

आंखों में धुआं लगता था, मगर अब गैस से आसानी से खाना बन जाता है। इसके लिए, वह प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धन्यवाद देती हैं।

Related Post

Hospital

ई-हॉस्पिटल मैनेजमेंट सिस्टम हुआ लागू, सभी मरीजों की जानकारी होगी ऑनलाइन दर्ज

Posted by - June 21, 2022 0
लखनऊ: प्रदेश के सभी अस्‍पतालों में जल्‍द ही हॉस्पिटल मैनेजमेंट (Hospital management) इन्‍फॉरमेशन सिस्‍टम प्रणाली को लागू किया जाएगा। जिसके…

श्री रामस्वरूप में आयोजित हुईं पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता

Posted by - May 15, 2022 0
लखनऊ। श्री रामस्वरूप मेमोरियल विश्वविद्यालय (Shri Ramswaroop Memorial University) के तत्वावधान में आयोजित इण्टर कॉलेजिएट पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता (Poster Making…