पुलिस ने जब्ता दो करोड़ 60 लाख का 11 कुन्तल गांजा

पुलिस ने ज़ब्त किया दो करोड़ 60 लाख का 11 कुन्तल गांजा

235 0

एसटीएफ ललितपुर पुलिस और नाॅरकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की टीम ने अन्तर्राज्यीय स्तर पर मादक पदार्थ की तस्करी करने वाले गिरोह के ट्रक सवार दो तस्करों को आज ललितपुर से गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 11 कुन्टल गांजा बरामद किया,जिसकी कीमत दो करोड़ 60 लाख रुपये आंकी गई है। एसटीएफ प्रवक्ता ने लखनऊ में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि एसटीएफ को काफी समय से पूर्वी उत्तर प्रदेश के जिलो में मादक पदार्थाे की तस्करी करने वाले गिरोह के सक्रिय होने की सूचनायें प्राप्त हो रही थी। इस सम्बन्ध में एसटीएफ की विभिन्न इकाईयों को अभिसूचना संकलन एवं कार्रवाई के लिए लगाया गया था। इसी क्रम में एसटीएफ,लखनऊ की एक टीम ने सूचना संकलन की कार्यवाही प्रारम्भ की तथा अभिसूचना तन्त्र को सक्रिय किया गया।

 

उन्होंने बताया कि एसटीएफ को मुखबिरों के माध्यम से सूचना मिली कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलो में उड़ीसा के कालाहाण्डी जिले से गांजे की तस्करी की जा रही है । वहाॅ से आने वाले ट्रको में लाये जा रहे सामान में गांजा छिपाकर लाया जा रहा है तथा विभिन्न जिलो में बेचा जा रहा है। इसी क्रम में कल रात सूचना मिली कि एक ट्रक उड़ीसा से मथुरा जाने वाला है, जिसमें मक्के के बोरियों के बीच भारी मात्रा में गांजा लदा है। इस सूचना पर पुलिस के उच्चाधिकारियों एवं एनसीबी को अवगत कराते हुए निरीक्षक ज्ञानेन्द्र कुमार राय, आरक्षी भूपेंद्र, आरक्षी उमाशंकर, कमांडो मनोज कुमार व चालक रईस की टीम ललितपुर जिले के लिए रवाना हुई।

पुलिस ने हटवाए शहर में विवाद करने वाले पोस्टर

प्रवक्ता ने बताया कि ललितपुर पहुंचकर स्थानीय पुलिस के क्षेत्राधिकारी सदर इमरान अहमद को साथ लेकर श्रीनगर-कन्याकुमारी राष्ट्रीय राजमार्ग पर गोबिंद सागर-झील के सामने, थाना क्षेत्र-कोतवाली ललितपुर पर आने जाने वाले वाहनों का इन्तजार करने लगी। कुछ देर बार मुखबिर द्वारा बताया गया ट्रक आता हुआ दिखायी दिया, जिस पर एसटीएफ,एनसीबी और क्षेत्राधिकारी सदर की मौजूदगी में नियमानुसार उसे रोककर तलाशी ली गयी, तो मक्के से भरी 300 बोरियों के बीच 55 बोरो में छिपाकर रखा गया 11 कुन्तल गांजा बरामद किया। मौके से हाथरस निवासी चालक किशन कुमार राना और क्लीनर जितेंद्र चैधरी उर्फ जीतू को गिरफ्तार किया।
उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों ने पूछताछ पर बताया कि यह गांजा उड़ीसा के कालाहाण्डी से लाया जा रहा था, जिसे मथुरा निवासी बनी सिंह एवं बिट्टू सिंह को देना था। जो पश्चिमी उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलो एवं राजस्थान, दिल्ली, हरियाणा के सीमावर्ती जिलो में फूटकर रूप में सप्लाई करते है। हम लोग कई बार उड़ीसा से गांजा लाकर इनको देते थे।
प्रवक्ता ने बताया कि इस सिलसिले में गिरफ्तार आरोपियों के विरूद्ध एनसीबी लखनऊ द्वारा मामला दर्ज कराकर अग्रिम विविध विधिक कार्रवाई की जा रही है।

Related Post

UP ब्लॉक प्रमुख चुनाव: हिंसा का नाम बदल रख दिया गया ‘मास्टरस्ट्रोक’- राहुल का योगी पर वार

Posted by - July 10, 2021 0
यूपी में ब्लॉक प्रमुख चुनाव के नामांकन के दौरान गुरुवार को भारी अराजकता हुई थी। इस दौरान कई जगह हिंसा,…
सुन्नी वक्फ बोर्ड

सुन्नी वक्फ बोर्ड अयोध्या फैसले पर दायर नहीं करेगा पुनर्विचार याचिका

Posted by - November 26, 2019 0
लखनऊ। अयोध्या फैसले पर सुन्नी वक्फ बोर्ड सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दायर नहीं करेगा। अयोध्या मामले में फैसला आने…