दो दिन बाद फिर बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, जानें आज के नए रेट

43 0

नई दिल्ली। घरेलू बाजार में दो दिन की राहत के बाद आज बुधवार को फिर पेट्रोल-डीजल के दामों में बढोतरी की गई है। पेट्रोल-डीजल 35 पैसे प्रति लीटर और महंगा हो गया है। देश भर में पेट्रोल-डीजल के दाम नए रिकॉर्ड पर पहुंच गए हैं।

सरकारी तेल कंपनियों ने आज बुधवार को पेट्रोल की कीमत में 35 पैसे की बढ़ोतरी की है तो वहीं डीजल के दाम भी 35 पैसे बढ़े हैं। तेल विपणन कंपनियों द्वारा जारी नए रेट के मुताबिक, दिल्ली में पेट्रोल 106.19 रुपये प्रति लीटर और मुंबई में 112.11 रुपये प्रति लीटर के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया है। वहीं, मुंबई में डीजल अब 102.89 रुपये प्रति लीटर के भाव बिक रहा है, जबकि दिल्ली में डीजल का रेट 94.92 रुपये प्रति लीटर है.

4 प्रमुख महानगरों में पेट्रोल-डीजल का दाम-

शहर का नाम पेट्रोल डीजल
दिल्ली 106.19 94.92
मुंबई 112.11 102.89
कोलकाता 106.77 98.03
चेन्नई 103.31 99.26

 मुंबई में पेट्रोल-डीजल सबसे ज्यादा महंगा है। देश के ज्यादातर हिस्सों में पेट्रोल की कीमत पहले से ही 100 रुपये प्रति लीटर से ऊपर है, जबकि डीजल की दरें मध्य प्रदेश, राजस्थान, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, गुजरात, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ और बिहार सहित एक दर्जन राज्यों में 100 रुपये प्रति लीटर के स्तर को पार कर गई हैं। बता दें कि स्थानीय करों और मालभाड़े के आधार पर विभिन्न राज्यों के बीच कीमतें अलग-अलग होती हैं।

 बालाघाट में 117 के पार पेट्रोल का दाम
मध्य प्रदेश का बालाघाट जिला छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र की सीमा से सटा है, जिले में पेट्रोल की दरों ने नया रिकॉर्ड बनाया है। बालाघाट में पेट्रोल का मूल्य 117.17 रुपये प्रति लीटर जबकि डीजल 106.34 रुपये प्रति लीटर है।

बीते 17 दिनों में 5.00 रुपये महंगा हुआ पेट्रोल
पिछले महीने की 28 तारीख को पेट्रोल जहां 20 पैसे महंगा हुआ था वहीं डीजल भी 25 पैसे प्रति लीटर महंगा हुआ था। दरअसल, पिछले महीने के अंतिम दिनों से जो पेट्रोल की कीमतें बढ़नी शुरू हुई, वह आज भी जारी है। हां, बीच में कुछ दिनों के लिए भी इसे जरूर विराम मिला। वैसे भी, इस समय कच्चे तेल की कीमतें 85 डॉलर के पार है। इसलिए सभी पेट्रोलियम पदार्थ महंगे हो रहे हैं। पेट्रोल की कीमतों में देखें तो बीते 17 दिनों में ही यह 5.00 रुपये प्रति लीटर महंगा हो चुका है।

20 दिनों में 6.30 रुपये महंगा हुआ डीजल
पेट्रोल के मुकाबले डीजल का बाजार ज्यादा तेज हुआ है। कारोबारी लिहाज से देखें तो पेट्रोल के मुकाबले डीजल बनाना महंगा पड़ता है। लेकिन भारत में खुले बाजार (Retail Market) में पेट्रोल महंगा बिकता है और डीजल सस्ता बिकता है। बीते 24 सितंबर से जो डीजल में आग लगनी शुरू हुई वह आज भी नहीं रूकी। हालांकि, बीच में कुछ दिनों इसमें विराम भी रहा। इस दौरान पेट्रोल के मुकाबले डीजल ज्यादा महंगा हुआ है। बीते 20 दिनों में ही यह 6.30 रुपये प्रति लीटर महंगा हो गया है।

85 डॉलर के पार कच्चा तेल 
कच्चे तेल के बाजार में राहत के आसार नहीं दिख रहे। अंतरराष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड सोमवार को 86 डॉलर के भी पार चला गया था। यह अक्टूबर 2018 के बाद का उच्चतम स्तर है। उस दिन डब्ल्यूटीआई क्रूड भी 83.73 डॉलर प्रति बैरल तक चला गया था। यह अक्टूबर 2014 के बाद का उच्चतम स्तर था। हालांकि, कारोबार बंद होते समय यह कम हुआ। कल भी कच्चे तेल का दाम में तेजी ही दिखी। अमेरिकी बाजार में कल ब्रेंट क्रूड (Brent Crude) जहां 0.75 डॉलर बढ़ कर 85.08 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ वहीं डब्ल्यूटीआई क्रूड 0.52 डॉलर की तेजी के साथ 82.96 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।

 बता दें कि अक्टूबर में पेट्रोल-डीजल के भाव में रिकॉर्ड बढ़ोतरी हो रही है। जानकारों का मानना है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल का भाव 90 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच सकता है। ऐसे में पेट्रोल-डीजल में अभी और इजाफा होना तय है। जिसका सीधा असर आम जनता की जेब पर पड़ रहा है। पेट्रोल-डीजल का भाव बढ़ने से सब्जियां समेत अन्य वस्तुओं पर महंगाई बढ़ रही है।

 

Related Post

सरकार अगर राष्ट्र की संपत्ति में इजाफा नहीं कर सकती तो औनेपौने दामों पर क्यों बेच रही?- तेजस्‍वी यादव

Posted by - August 26, 2021 0
बिहार के राष्‍ट्रीय जनता दल नेता तेजस्‍वी यादव ने केंद्र सरकार के नेशनल मोनेटाइजेशन पाइपलाइन प्‍लान को लेकर सवाल उठाए…

तेल की कीमतों में बढ़ोतरी जारी, लगातार पांचवें दिन महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल

Posted by - October 5, 2021 0
नई दिल्ली। भारतीय तेल कंपनियों ने आज मंगलवार को लगातार पांचवे दिन पेट्रोल और डीजल की कीमतों में इजाफा किया…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *