अंतरराष्ट्रीय बाजार में रिकॉर्ड स्तर पर तेल की कीमत, भारत में नहीं बदले दाम

98 0

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तेल की कीमत अपने रिकॉर्ड स्तर पर हैं। कच्चा तेल तीन साल में पहली बार 80 डॉलर प्रति बैरल पहुंच गया है। इसका असर भारतीय बाजार पर भी दिखाई दे रहा है। हालांकि भारत में आज पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर थोड़ी राहत है। आज पेट्रोलियम कंपनियों ने कोई बदलाव नहीं किया है। सरकारी तेल कंपनियों ने कल (मंगलवार) यानी 28 सितंबर को पेट्रोल के दाम में 20 पैसे प्रति लीटर और डीजल की कीमत में 25 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई थी। जिसके बाद दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 101.19 रुपये से बढ़ाकर 101.39 रुपये प्रति लीटर और मुंबई में 107.47 रुपये प्रति लीटर पहुंच गई है।

पेट्रोल-डीजल की कीमत स्थिर

भारतीय बाजार में आज 29 सितंबर को पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर हैं। सरकारी तेल कंपनियों ने आज पेट्रोल और डीजल की कीमत में कोई बदलाव नहीं किया है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में आज (बुधवार) इंडियन ऑयल के पंप पर पेट्रोल 101.39 रुपये प्रति लीटर और डीजल 89.57 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है।

4 महानगरों में तेल की कीमत इस प्रकार है-

शहर का नाम पेट्रोल     डीजल
दिल्ली 101.39 89.57
मुंबई 107.47 97.21
कोलकाता 101.87 92.67
चेन्नई 99.15 94.17

 

देश के सबसे बड़े ईंधन खुदरा विक्रेता इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के अनुसार, देश के चारों महानगरों की अगर तुलना करें तो मुंबई में पेट्रोल-डीजल सबसे अधिक महंगा है। बता दें कि राज्‍यों में पेट्रोल और डीजल के भाव में अंतर केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा लगाए टैक्‍स एवं ढुलाई के दाम की वजह से अलग-अलग होता है।

5 दिन में 95 पैसे महंगा हुआ डीजल

बता दें कि भारतीय बाजार में दो महीने से ज्यादा समय में पेट्रोल की कीमतों में एक बार जबकि डीजल के दामों में चार बार इजाफा हो चुका है। डीजल 5 दिन में 95 पैसे प्रति लीटर महंगा हो चुका है, जबकि पेट्रोल की कीमत में 20 पैसे की बढ़ोतरी हुई है। स्थानीय कर के आधार पर राज्यों में पेट्रोल-डीजल की कीमतें अलग-अलग होती हैं।

Related Post

nirmala sitaraman

आर्थिक वृद्धि बनाए रखने के लिए उद्योग और सरकार के बीच विश्वास जरूरी : सीतारमण

Posted by - April 20, 2021 0
कोलकाता । वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने मंगलवार को कहा कि कोविड-19 महामारी के बीच वृद्धि को बनाए…