कोलकाता में पानी के अंदर दौड़ी मेट्रो

कोलकाता में पानी के अंदर दौड़ी मेट्रो, रेल मंत्री पीयूष गोयल ने किया उद्घाटन

570 0

कोलकाता। केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने गुरुवार को कोलकाता में पहली अंडर ग्राउंड मेट्रो रेल का उद्घाटन किया है। इस मौके पर गोयल ने कहा कि हम सेक्टर 5 से सॉल्ट लेक स्टेडियम को जोड़ने वाले ईस्ट-वेस्ट मेट्रो कॉरीडोर का पहला चरण स्वतंत्रता संग्राम सेनानी सरोजिनी नायडू की जन्मतिथि के मौके पर उन्हें समर्पित करते हैं।

गोयल ने कहा पहला अंडर ग्राउंड स्टेशन फूलबाग दुर्गा पूजा से पहले तैयार हो जाएगा। हम आशा करते हैं कि इस साल लोग दुर्गा पूजा में मेट्रो से जाएंगे। गोयल ने कहा कि अगर हमें यदि हमें ज्यादा स्थानीय समर्थन मिलेता है तो हम इस कॉरिडोर को हावड़ा तक जल्द ही पूरा कर लेंगे।

‘राज्य सरकार के साथ की जरूरत’

केंद्रीय रेल मंत्री ने कहा कि हालांकि बाकी चार लाइनों का काम पूरा करने की राह में कई बाधाएं हैं जो कि काम को सुस्त कर रही हैं। कई जगहों पर हमें राज्य सरकार का साथ चाहिए होता है। मैं उम्मीद करता हूं कि हमें और सहयोग मिलेगा और जल्द ही हम मेट्रो को यातायात का पसंदीदा तरीका बना देंगे।

यह प्रोजेक्ट करीब 16 किलोमीटर लंबा है जो सॉल्ट लेक स्टेडियम से हावड़ा मैदान तक है फैला 

यह प्रोजेक्ट करीब 16 किलोमीटर लंबा है जो सॉल्ट लेक स्टेडियम से हावड़ा मैदान तक फैला है। पहला फेज सॉल्ट लेक सेक्टर-5 से सॉल्ट लेक स्टेडियम​ के बीच 5.5 किमी लंबा है। इस लाइन पर करुणामयी, सेंट्रल पार्क, सिटी सेंटर और बंगाल केमिकल मेट्रो स्टेशन मौजूद हैं। अंडरग्राउंड मेट्रो का दूसरा फेज 11 किलोमीटर लंबा है। हालांकि ईस्ट-वेस्ट मेट्रो प्रोजेक्ट के पूरे रूट पर तो नहीं, लेकिन साल्टलेक सेक्टर 5 से लेकर सॉल्टलेक स्टेडियम तक मेट्रो सेवा की शुरुआत आज होने जा रही है।

मोदी सरकार ने दो प्रमुख संस्थानों के सुषमा स्वराज के नाम पर किए 

ममता को न बुलाने से टीएमसी नाराज

इस कार्यक्रम में ममता बनर्जी को न्योता नहीं दिया गया था। इस कार्यक्रम को लेकर छपे उद्धाटन कार्ड पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का नाम नहीं था। कार्ड पर नाम न होने को लेकर सीएम ममता सहित टीएमसी के सभी बड़े नेताओं ने नाराजगी जताई। इसके साथ ही बनर्जी को आमंत्रित नहीं करने के विरोध में, पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के एक वरिष्ठ सांसद और एक विधायक ने कार्यक्रम का बहिष्कार करने का फैसला भी किया।

इस विवाद पर राज्य भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि जब कोई कार्यक्रम होता है तो ममता किसे बुलाती हैं? जो हम उन्हें बुलाए। यह कल्चर हमने ममता से ही सीखा है। उन्होंने हमारे 18 सांसदों में से किसी को नहीं बुलाया तो हम क्यों बुलाएं?

Related Post

nirmala sitaraman

वित्त मंत्रालय बोला- केन्द्रीय कर्मचारियों के वेतन में कटौती का कोई प्रस्ताव नहीं

Posted by - May 11, 2020 0
नई दिल्ली। सरकार ने आज स्पष्ट किया कि केन्द्रीय कर्मचारियों के वर्तमान वेतन में किसी तरह की कटौती का कोई…
CM Dhami

सीएम के रोड शो में उमड़ा जनसैलाब, धामी ने किया 291 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास

Posted by - January 8, 2024 0
देहारादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (CM Dhami) ने सोमवार को उत्तरकाशी जिला मुख्यालय पर रोड-शो किया, तो जन-सैलाब सड़कों पर…
Akhilesh Yadav

अलीगढ़ के टप्पल में अखिलेश यादव की किसान महापंचायत आज

Posted by - March 5, 2021 0
अलीगढ़ । कृषि कानूनों के विरोध में शुक्रवार को अलीगढ़ में महापंचायत होगी, जिसमें समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव …
दिशा पाटनी की बहन खुशबू

फिल्म इंडस्ट्री से दूर रहकर देश की सेवा कर रही दिशा की बहन खुशबू पाटनी

Posted by - January 20, 2020 0
एंटरटेनमेंट डेस्क। बॉलीवुड की बहुत ही मानी जानी एक्ट्रेस दिशा पाटनी के बारे में तो हर कोई जानते हैं। दिशा…
नगर विकास मंत्री आशुतोष टण्डन

लखनऊ ट्रैफिक जाम से हो मुक्त , नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने तय की डेटलाइन

Posted by - January 14, 2020 0
लखनऊ। नगर विकास मंत्री आशुतोष टण्डन की अध्यक्षता में मंगलवार को राजधानी स्थित स्थानीय निकाय निदेशालय में लखनऊ स्मार्ट सिटी…