घोषणा पत्र पर मायावती का तंज

मायावती का बीजेपी के घोषणा पत्र पर तीखा वार, कहा- काठ की हांडी बार-बार नहीं चढ़ती

586 0

लखनऊ। बसपा प्रमुख मायावती ने बीजेपी के संकल्प पत्र को जनता को बरगलाने की कोशिश बताते हुए कहा है कि काठ की हांडी बार बार नहीं चढ़ती है। उन्होंने सोमवार यानी आज कहा कि बीजेपी 2014 में किए गए वादों को पूरा नहीं कर सकी। ऐसे में उन्हें नया घोषणापत्र लाने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है। उन्हें पिछले चुनाव के घोषणापत्र के संबंध में ‘कार्रवाई रिपोर्ट’ प्रस्तुत करनी चाहिए, लेकिन ये करने की उनमें हिम्मत नहीं है।

ये भी पढ़ें :-बागपत में अखिलेश ने मोदी-योगी पर निशाना साधते हुए बोली ये बात 

आपको बता दें वही दिल्ली में आज बीजेपी ने अपना घोषणापत्र जारी कर दिया। आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 2019 से 2024 तक का वक्त जनता की आकांक्षाओं को पूरा करने वाला होगा। हमारी कोशिश मल्टी लेयर यानी सबको एड्रेस करने की है. हमारा लक्ष्य है कि 2047 में देश विकासशील से विकसित बने यह कोशिश है।

ये भी पढ़ें :-भाजपाई दिग्गजों से मोर्चा लेने को प्रसपा ने इन चार सीटों पर खेला बड़ा दांव

जानकारी के मुताबिक बसपा सुप्रीमों मायावती ने आगे कहा कि पिछले पांच साल में बीजेपी ने धन्नासेठों के लिए ही काम किया है। पीएम नरेंद्र मोदी ने गरीबों को 15-15 लाख रुपये देने का वादा किया था, लेकिन इसे पूरा नहीं किया। उन्होंने भाजपा के घोषणापत्र को छलावा करार दिया।

Related Post

ओवैसी ने सियासी दलों पर बोला हमला, कहा- यूपी में नहीं है मुसलमानों का कोई नेता

Posted by - September 27, 2021 0
कानपुर। ऑल इंडिया मजलिसे इत्तेहादुल मुस्लीमीन के राष्ट्रीय अध्यक्ष और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने रविवार को जाजमऊ में आयोजित सभा…
share market

शेयर बाजार पर कोरोना का बुरा असर, 15 मिनट में निवेशकों के डूबे 6 लाख करोड़ से अधिक पैसे

Posted by - March 16, 2020 0
बिजनेस डेस्क। आज सोमवार यानि सप्ताह के पहले कारोबारी दिन भी शेयर बाजार में जोरदार गिरावट दर्ज किया गया है।…
आतंकी हमला

जम्मू-कश्मीर में CRPF के काफिले पर बड़ा आतंकी हमला,18 जवान शहीद

Posted by - February 14, 2019 0
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में बड़ा आतंकी हमला हुआ है. पुलवामा के अवंतीपुरा में सीआरपीएफ की गाड़ी पर हमला हुआ है।हमले में…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *