WORLD WATER DAY

22 मार्च : विश्व जल दिवस के साथ 22 मार्च की तारीख पर दर्ज हैं कई महत्वपूर्ण घटनाएं

42 0
नई दिल्ली । भारत और विश्व इतिहास में 22 मार्च का अपना ही एक खास महत्व है, क्योंकि इस दिन कई महत्वपूर्ण घटनाएं घटी जो इतिहास के पन्नों में हमेशा के लिए दर्ज होकर रह गईं।
WORLD WATER DAY 
इतिहास में 22 मार्च की तारीख पर कई महत्वपूर्ण घटनाएं दर्ज हैं, जिनमें 1993 में पहली बार विश्व जल दिवस मनाया जाना शामिल है। जल, जीवन के लिए जरूरी उन अनुकूल वजहों में से एक है जिनके कारण पृथ्वी को ‘‘ब्ल्यू प्लेनेट’’ कहा जाता है। वर्तमान में जलवायु परिवर्तन के दुष्प्रभावों की वजह से धरती पर मंडरा रहा खतरा यह अहसास कराता है कि ‘‘जल ही जीवन है’’ और जीवन को बचाने के लिए जल की एक एक बूंद को बचाना होगा। जाहिर है कि विश्व जल दिवस गहरी प्रासंगिकता रखता है।

 इतिहास में 22 मार्च की तारीख पर कई महत्वपूर्ण घटनाएं दर्ज हैं, लेकिन एक बरस पहले की एक घटना इनमें खास महत्व रखती है। 22 मार्च 2020 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना के प्रकोप को देखते हुए जनता कर्फ्यू का एलान किया था।

इतिहास में इस दिन के नाम दर्ज घटनाओं की बात करें तो सदियों पहले इसी दिन मुगलों की राजधानी दिल्ली में फारस की फौज ने कत्लेआम किया था। दरअसल, मार्च 1739 में फारस (अब ईरान) के बादशाह नादिर शाह ने भारत पर हमला कर दिया और करनाल में हुई लड़ाई में मुगलिया सेना की बुरी तरह से शिकस्त हुई।

मुगलों की हार के बाद नादिर शाह का दिल्ली पर कब्जा हो गया। नादिर शाह जब अपने लाव लश्कर के साथ लाल किले पर पहुंचा तो यहां दंगे भड़क गए और लोगों ने उसकी सेना के कई सिपाहियों को मार दिया।  इससे गुस्साए नादिर शाह ने दिल्ली में ‘कत्लेआम’ का हुक्म दिया और आज की पुरानी दिल्ली के कई इलाकों में उसकी फौज ने आम लोगों को मौत के घाट उतार दिय। . इस घटना को इतिहास में ‘कत्ले आम’ के तौर पर जाना जाता है।

इतिहास के आईने में 22 मार्च की तारीख

देश दुनिया के इतिहास में 22 मार्च की तारीख पर दर्ज अन्य महत्वपूर्ण घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है:-

  • 1739: ईरान के बादशाह नादिर शाह ने अपनी फौज को दिल्ली में नरसंहार का हुक्म दिया. इसे इतिहास में ‘कत्लेआम’ के नाम से जाना जाता है।
  • 1793 : लार्ड कार्नवालिस ने बंगाल और बिहार के बीच अंतिम समझाौते का एलान किया।
  • 1890: रामचंद्र चटर्जी पैराशूट से उतरने वाले पहले भारतीय व्यक्ति बने।
  • 1893: चटगांव विद्रोह का नेतृत्व करने वाले महान क्रांतिकारी सूर्य सेन का जन्म।
  • 1942 : सर स्टेफर्ड क्रिप्स के नेतृत्व में क्रिप्स मिशन भारत पहुंचा। दूसरे विश्व युद्ध के दौरान जापानी नौसेना और वायुसेना ने पोर्ट ब्लेयर में कदम रखा।
  • 1947: लॉर्ड माउंटबेटन आखिरी वायसराय के तौर पर भारत आए।
  • 1957 : शक संवत पर आधारित राष्ट्रीय पंचांग को स्वीकार किया गया।  उसके हिसाब से 20 मार्च चैत्र माह 1879 शक की पहली तारीख थी।
  • 1964 : कलकत्ता में पहली विंटेज कार रैली का आयोजन।
  • 1969: इंडियन पेट्रोकेमिकल्स कॉर्पोरेशन लिमिटेड का उद्घाटन।
  • 1977 : आपातकाल के बाद हुए आम चुनाव में कांग्रेस की जबर्दस्त शिकस्त के बाद प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने राष्ट्रपति को इस्तीफा सौंपा।
  • 1993: पहली बार विश्व जल दिवस मनाया गया ।
  • 2000: फ्रेंच गुयाना के कौरू से इनसैट 3 बी का प्रक्षेपण।
  • 22 मार्च :  विश्व जल दिवस पर प्रधानमंत्री ने कोरोना के प्रकोप को देखते हुए जनता कर्फ्यू का एलान किया ।
Loading...
loading...

Related Post

Rupee

अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में रुपया चार पैसे फिसलकर 73.11 रुपये प्रति डॉलर पर रहा

Posted by - January 1, 2021 0
मुंबई। बैंकों की ओर से डॉलर की मांग आने से अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार (interbanking currency market) में रुपया शुक्रवार को…
गार्गी कॉलेज

Gargi College: प्रशासन की चुप्पी पर प्रदर्शन जारी, मामला दर्ज, एचआरडी मंत्रालय ने मांगा जवाब

Posted by - February 10, 2020 0
नई दिल्ली। बीते 6 फरवरी को दिल्ली विश्वविद्यालय के गार्गी कॉलेज फेस्टिवल में छात्राओं के साथ हुई छेड़छाड़ का मामला…

निर्वाचन आयोग ने दिल्ली चुनाव के बुलाई प्रेस कांफ्रेंस, दोपहर 3.30 बजे होगी घोषणा

Posted by - January 6, 2020 0
नई दिल्ली। आज सोमवार दिल्ली विधानसभा चुनाव की घोषणा के लिए निर्वाचन आयोग ने निर्वाचन भवन में प्रेस कांफ्रेंस बुलाई…
CM Yogi in Chennai

कोयंबटूर में CM योगी ने कहा-तमिलनाडु को आत्मनिर्भर बनाने के लिए डिफेंस कॉरिडोर

Posted by - March 31, 2021 0
कोयंबटूर । तमिलनाडु में डिफेंस कॉरिडोर की स्थापना भारत को सुरक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने और तमिलनाडु को भारत के…