ak sharma

ऊर्जा मंत्री से मेनका गांधी ने की मुलाकात

113 0

लखनऊ। पूर्व केंद्रीय मंत्री व जिले की सांसद मेनका संजय गांधी (Maneka Gandhi) ने संसदीय क्षेत्र के इसौली, सदर व कादीपुर विधानसभा में 132 केवीए विद्युत पावर स्टेशन स्थापित करने के लिए मंगलवार को प्रदेश सरकार के ऊर्जा मंत्री एके शर्मा (AK Mishra) से मुलाकात की।

सांसद मीडिया प्रभारी विजय सिंह रघुवंशी ने मंगलवार को बताया कि दिल्ली से सड़क मार्ग द्वारा संसदीय क्षेत्र के भ्रमण में आ रही श्रीमती गांधी (Maneka Gandhi) ने लखनऊ में ऊर्जा मंत्री ए.के शर्मा (AK Sharma) से मुलाकात कर जिले की विद्युत व्यवस्था सुचारू व व्यवस्थित करने की मांग की।

उन्होंने ऊर्जा मंत्री से बताया कि जिले में उपरोक्त तीन स्थानों पर 132 केवीए विद्युत पावर सब स्टेशन स्थापित नहीं होने से क्षेत्र में विद्युत व्यवस्था सुचारू नहीं हो पा रही है। इस कारण जनपद के इसौली, सदर व कादीपुर विधानसभा क्षेत्र में रहने वाले लोगों में काफी रोष व्याप्त रहता है। उन्होंने कहा विद्युत समस्या से निजात के लिए कम से कम जिले में 3 स्थानों पर 132 केवीए विद्युत पावर स्टेशन का निर्माण कराया जाना आवश्यक प्रतीत होता है।

विद्युत चोरी रोकने के पूरे प्रयास किए जाएं: एके शर्मा

उन्होंने ऊर्जा मंत्री को अवगत कराया संसदीय क्षेत्र के वर्णित स्थानों पर 132 केवीए विद्युत पावर स्टेशन स्थापित करने हेतु स्थानीय अधीक्षण अभियंता स्तर से पूर्व में कई बार प्रस्ताव आपके विभाग को प्रेषित किया जा चुका है।

श्रीमती गांधी ने ऊर्जा मंत्री एके शर्मा से अनुरोध किया है कि जनपद सुलतानपुर अंतर्गत विद्युत व्यवस्था सुदृढ़ करने हेतु 3 स्थानों इसौली में असरोगा, सदर में कूरेभार व कादीपुर वि.सभा के अखण्डनगर क्षेत्र में 132 केवीए पावर स्टेशन स्थापित कराने हेतु सम्बंधित अधिकारी को निर्देशित करने का कष्ट करें। ताकि संसदीय क्षेत्र की विद्युत व्यवस्था सुदृढ़ की जा सके।

Related Post

CM Yogi

अयोध्या विजन के कार्यों की प्रत्येक सप्ताह हो समीक्षा: सीएम योगी

Posted by - November 27, 2022 0
अयोध्या। रामनगरी अयोध्या को विश्व स्तरीय पर्यटन नगरी के रूप में विकसित करने हेतु मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने…
Gharauni

ग्रामीण आवास प्रमाण पत्र तैयार करने में देश में सबसे आगे है उत्तर प्रदेश

Posted by - September 15, 2022 0
लखनऊ।  राजस्व विवाद के स्थायी समाधान और ग्रामीण परिवारों को उनके घर का कानूनी मालिकाना हक दिलाने के उद्देश्य से…