मनाही के बावजूद भाजपा सांसद ने आमागढ़ किले पर फहराया झंडा, पुलिस ने हिरासत में लिया

260 0

राजस्थान के जयपुर में आमागढ़ किले को लेकर विवाद जारी है, प्रशासनिक मनाही के बावजूद भाजपा सांसद डॉ. किरोड़ी लाल मीणा ने वहां झंडा फहरा दिया है। कुछ दिन पहले कांग्रेस विधायक रामकेश मीणा ने आमागढ़ किले पर फहराए गए भगवा झंडे को फाड़ दिया था जिसके बाद वहां स्थिति तनावपूर्ण बनी है। पिछले एक हफ्ते से 1 अगस्त को आमागढ़ किले पर झंडा फहराने की बात हो रही थी इसलिए पुलिस ने वहां पूजा करने व जाने पर रोक लगा दी थी।

रविवार सुबह जब भाजपा सांसद को पुलिस ने हिरासत में लिया तब मीणा ने दावा किया कि उन्हें गिरफ्तार किया गया, हालांकि पुलिस का बयान नहीं आया है। बता दें कि मीणाओं का एक वर्ग हिन्दू संगठनों से संघर्ष कर रहा है, उनका दावा है कि मीणाओं की एक अलग पहचान है, वे हिन्दू नहीं हैं।

इसके बाद विधायक रामकेश मीणा ने कहा था कि आमागढ़ किला मीणा समुदाय का एक ऐतिहासिक स्मारक है और कुछ “असामाजिक तत्वों” ने मीणा समुदाय के इतिहास के साथ छेड़छाड़ करने की कोशिश की, जो स्थानीय लोगों के लिए अस्वीकार्य था। विधायक के नेतृत्व वाले समूह ने दावा किया कि किला मीणा समुदाय के देवता का है। मूर्तियों को तोड़े जाने के अलावा, उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि कुछ लोगों ने किले के ऊपर भगवा झंडा फहराया, जिससे उनकी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची।

यूपी : हिन्दू युवा वाहिनी की महिला नेता एवं बेटे पर बलात्कार का केस दर्ज

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस की मनाही के बावजूद बीजेपी सांसद ने अपनी समर्थकों के साथ आमागढ़ किले में मीणा समाज का झंडा फहराया था। सांसद ने आरोप लगाया कि अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली राजस्थान सरकार किले के अंदर मंदिर की मूर्तियों को तोड़ने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने में विफल रही है। दरअसल, भाजपा सांसद मंदिर की मूर्तियों को तोड़ने के खिलाफ पुलिस की असफलता का विरोध कर रहे थे। किरोड़ी लाल ने अपने समर्थकों के साथ सूरज मैदान से जयपुर पुलिस आयुक्त कार्यालय तक मार्च भी निकाला।

Divyansh Singh

मिट्टी का तन, मस्ती का मन; छड़ भर जीवन, मेरा परिचय।

Related Post

योगी सरकार के इशारे पर प्रशासन नंगानाच और गुंडागर्दी कर रहा- अखिलेश

Posted by - July 9, 2021 0
ब्लॉक प्रमुख के चुनाव से पहले नामांकन के दौरान उत्तर प्रदेश में हुई हिंसा पर अब राजनीतिक बयानबाजी शुरू हो…