महामारी ने बढ़ाई चिंता, देश की पहली संक्रमित महिला को फिर से हुआ कोरोना

58 0

कोरोना संकट से जूझ रहे देश में एकबार फिर से चिंता करने वाली स्थिति पैदा हो गई है, दरअसल देश की पहली संक्रमित महिला फिर से संक्रमित हो गई है। केरल के त्रिशूर की रहने वाली मेडिकल स्टूडेंट 30 जनवरी 2020 को चीन के वुहान से लौटी थी, तब वह संक्रमित पाई गई थी। अब उसके भीतर फिर से संक्रमण मिले हैं, त्रिशूर के मेडिकल ऑफिसर डॉ. केजे रीना ने बताया कि मेडिकल स्टूूडेंट की आरटी-पीसीआर रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

दूसरी बार संक्रमित होने का यह देश में पहला मामला है, अभी तक कहा जा रहा था कि एकबार संक्रमित होने और ठीक होने के बाद शरीर में एंटीबॉडी विकसित हो जाती है। बता दें कि मेडिकल छात्रा चीन के वुहान यूनिवर्सिटी में तीसरे साल की छात्रा थी, सेमेस्टर खत्म होने के बाद पिछले साल छुट्टियां बिताने घर आई थी अभी यहीं है।

परिजनों के मुताबिक युवती में कोरोवा वायरस के लक्षण नहीं दिखाई दिए, उसे कोविड वैक्सीन की पहली खुराक भी लगाई जा चुकी है। बता दें कि छात्रा ने साल 2020 में संक्रमण के बाद करीब एक महीने अस्पताल में बिताया था, बाद में चीन से आने वाले उसी साथी दोस्तों का भी कोविड टेस्ट करने पर रिपोर्ट पॉजिटिव पाया गया था। अपने एक इंटरव्यू में युवती ने कहा था, ‘उसने कभी नहीं सोचा था कि वह कोरोना संक्रमित होगी, लेकिन जब रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो मुझे सबसे ज्यादा चिंता अपने घरवालों की हो रही थी।’

चुनाव नहीं लड़ेंगे, पर देंगे वोट की चोट, सरकार का इलाज हो कर रहेगा- टिकैत ने किया बड़ा एलान

छात्रा ने बताया था कि संक्रमित होने के बाद 24 दिन उसने पीपीई किट अस्पताल में गुजारे थे, मेडिकल छात्र होने की वजह से कोरोना से लड़ने में उसे काफी मदद मिली थी। पिछले साल जनवरी से अक्टूबर तक इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के एक अध्ययन में 4.5 फीसदी लोगों में फिर से कोरोना संक्रमण होने का अनुमान लगाया गया था। नई दिल्ली के इंस्टीट्यूट ऑफ जीनोमिक्स एंड इंटीग्रेटिव बायोलॉजी (IGIB) के शोधकर्ताओं ने पाया कि अप्रैल महीने में दिल्ली में आई कोरोना लहर के दौरान 10% से अधिक लोगों के फिर से वायरस के संपर्क में आने की संभावना थी।

Divyansh Singh

मिट्टी का तन, मस्ती का मन; छड़ भर जीवन, मेरा परिचय।

Related Post

अब हरियाणा की अदालत में हिंदी में काम

तीन दशक पुरानी मुहिम रंग ला रही, अब हरियाणा की अदालतों में भी होगा हिंदी में काम

Posted by - January 4, 2020 0
सियाराम पांडेय ‘शांत’ देश की सभी छोटी और बड़ी अदालतों में हिंदी और अन्य भारतीय भाषाओं में भी कामकाज को…