लखनऊ में कोरोना

लखनऊ : कोरोना पॉजिटीव युवक को केजीएमयू में आइसोलेशन वार्ड में रखा गया

121 0

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ में कोरोनावायरस से पीड़ित एक और मरीज मिला है। पॉजिटीव पाये गये इस मरीज को केजीएमयू में भर्ती कराया गया है। वहीं सिविल अस्पताल, बलरामपुर अस्पताल, राम मनोहर लोहिया संस्थान के चिकित्सकों को ड्यूटी पर लगाया गया है, जो आइसोलेट किए गए संदिग्धों पर नजर रख रहे हैं।

कोरोना संक्रमित मरीज लखनऊ के इंदिरा नगर का रहने वाला

बता दें कि इस परिवार में पहले से ही एक महिला कोरोना से ग्रसित है। बताया जा रहा है कि महिला के संपर्क में आने के बाद इस शख्स को भी संकमण हो गया। बता दें कि कोरोना संक्रमित मरीज लखनऊ के इंदिरा नगर का रहने वाला है।

कोरोनावायरस का इफेक्ट : 16 मार्च से सुप्रीम कोर्ट में केवल छह बेंच बैठेगी

कनाडा में प्रैक्टिस करने वाली एक महिला चि‍कित्‍सक में कोरोना संक्रमण पाया गया था

बता दें कि कनाडा में प्रैक्टिस करने वाली एक महिला चि‍कित्‍सक में कोरोना संक्रमण पाया गया था। केजीएमयू के लैब में ही इसकी पुष्टि हुई थी। महिला और उसके पति को केजीएमयू के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया। महिला डॉक्‍टर टोरंटो से मुंबई होते हुए आठ मार्च को अपनी ससुराल यहां गोमती नगर आयी थीं।

युवक की हालत फिलहाल स्थिर

किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) के मेडिसिन विभाग के चिकित्सक प्रो. डी हिमांशु ने बताया कि सर्दी जुकाम से पीड़ित युवक को सिविल अस्पताल में भर्ती किया गया था। इसके नमूने परीक्षण के लिये केजीएमयू भेजे गये थे। शुक्रवार रात नमूने की जांच पॉजिटिव पाए जाने के बाद युवक को केजीएमयू भेज दिया गया जहां उसे अलग वार्ड में रखा गया है। उन्होंने बताया कि इस रोगी के नमूने विस्तृत परीक्षण के लिये पुणे भेजे जा रहे हैं। युवक की हालत फिलहाल स्थिर है।

युवक कनाडा में रहने वाली महिला का रिश्तेदार है

केजीएमयू के प्रवक्ता डॉ. सुधीर सिंह ने बताया कि यह युवक कनाडा में रहने वाली महिला का रिश्तेदार है। उसके संपर्क में आने के कारण ही वह भी संक्रमित हुआ है। डॉ हिमांशु के अनुसार इससे पहले कनाडा के टोरंटो में रहने वाली 35 वर्षीय महिला डॉक्टर 11 मार्च को कोरोना के लक्षणों के साथ अस्पताल में भर्ती हुई थी। वह आठ मार्च को अपने पति के साथ लखनऊ अपने रिश्तेदारों से मिलने आयी थी।

उन्होंने बताया कि दो दिन बाद हल्का बुखार होने के बाद 11 मार्च को वह केजीएमयू के मेडिसिन विभाग में आई तो जांच में पता चला कि वह करोना वायरस से ग्रसित है। दोबारा जांच में भी करोना वायरस की पुष्टि हुई। विस्तृत जांच के लिए महिला के नमूने पुणे भेजे गए हैं। डॉक्टर ने बताया कि महिला के पति की भी कोरोना के संदेह में जांच की गई थी लेकिन जांच नेगेटिव निकलने के बाद उसे दो दिन अस्पताल में रखने के बाद छुट्टी दे दी गयी।

योगी सरकार ने कोरोनावायरस को महामारी घोषित करते हुए सभी स्कूल-कॉलेज 22 मार्च तक बंद कर दिये

बता दें कि शुक्रवार को कोरोना से बचाव के लिये यूपी की योगी सरकार ने कोरोनावायरस को महामारी घोषित कर दिया है। इसके साथ ही राज्य के सभी स्कूल-कॉलेज 22 मार्च तक बंद कर दिये गये हैं। राज्य में अब तक कुल 11 कोरोना पॉजिटिव केस पाये गये। इनमें 10 का इलाज दिल्ली में, एक का केजीएमयू में चल रहा है।

Loading...
loading...

Related Post

बड़ा स्कैंडल, सरकार के जवाब का इंतजार है – प्रियंका गांधी

Posted by - November 1, 2019 0
नई दिल्ली। भारतीय पत्रकारों और सामाजिक कार्यकर्ताओं की कथित जासूसी के मामले को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने…