लखीमपुर हिंसाः SC में हुई सुनवाई, कहा- दर्ज करें गवाहों के बयान

75 0

नई दिल्ली। लखीमपुर खीरी हिंसा मामले पर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को घटना के गवाहों को सुरक्षा देने का निर्देश दिया है। साथ ही, अदालत ने ये भी निर्देश दिया कि गवाहों के बयान तेजी से दर्ज किए जाएं। कोर्ट ने यूपी सरकार से लखीमपुर हिंसा में पत्रकारों की हत्या की जांच पर जवाब दाखिल करने को भी कहा है। अब मामले की अगली सुनवाई 8 नवंबर को होगी।

वहीं, सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि, घटना के दौरान 4-5 हजार लोगों की भीड़ थी जो सभी स्थानीय लोग हैं और यहां तक ​​कि घटना के बाद भी ज्यादातर आंदोलन करते रहे। हमें यही बताया गया है। फिर, इन लोगों की पहचान में कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि, लोगों ने कार और कार के अंदर मौजूद लोगों को देखा है।

यूपी सरकार ने रिपोर्ट जमा की

लखीमपुर खीरी हिंसा मामले पर यूपी पुलिस ने सुप्रीम कोर्ट को अब तक हुई कार्रवाई का ब्यौरा दिया। यूपी सरकार के लिए पेश हुए वरिष्ठ वकील हरीश साल्वे ने कहा, इसमें 68 में से 30 गवाहों के बयान सीआरपीसी की धारा 164 के तहत दर्ज कर लिए गए हैं। उनमें 23 चश्मदीद गवाह भी हैं। कुछ ही लोग दूसरे राज्य के थे। जो सबसे नजदीक थे, उनकी गवाही अहम है। मैं चाहता हूं कि कोर्ट कुछ गवाहों के मजिस्ट्रेट के सामने दिए बयान को देखे। साल्वे ने कहा कि, डिजिटल मीडिया पर मौजूद वीडियो के जरिए आगे की जांच की जा रही है। इस संबंध में साक्ष्य भी जुटाए जा रहे हैं।

Related Post

हैदराबाद केस

हैदराबाद केस: पीड़िता की पहचान उजागर करने वाले टीवी चैनल-सोशल साइटों को नोटिस

Posted by - December 3, 2019 0
नई दिल्ली। हैदाराबाद में महिला पशु चिकित्सक से दुष्कर्म और हत्या के मामले में पुलिस ने मंगलवार को टीवी चैनलों…
election budget

चुनावी बजट तो यह भी है

Posted by - February 4, 2021 0
सियाराम पांडेय ‘शांत’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि पहले बजट चुनाव की लेखा-बही हुआ करते थे। योजनाएं कुछ…

डॉक्टर डे पर मोदी का फैसला, देश में एम्स की संख्या बढ़ेगी और बजट दोगुना होगा

Posted by - July 1, 2021 0
नेशनल डॉक्टर्स डे के अवसर पर देश के मेडिकल कम्युनिटी को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि…