किसान आंदोलन के समर्थन में बोलने पर पूर्व मंत्री को भाजपा ने पार्टी से निकाला

184 0

पंजाब की राजनीति के जानकार भाजपा में इस अंदरूनी कलह की वजह किसान आंदोलन को बता रहे हैं। उनका कहना है कि किसान आंदोलन के बाद पार्टी पर आए संकट ने नेताओं के बीच की दरार और गहरी हो गई है।कृषि कानून के विरोध में किसानों का आंंदोलन जारी है, इसी बीच पंजाब में भाजपा के भीतर ही आंदोलन को लेकर दो भाग हो गए।

CORONA: तीसरी लहर की आशंका के बीच केंद्र अलर्ट

पंजाब में भाजपा के पूर्व मंत्री अनिल जोशी को पार्टी से छह साल के लिए निष्काषित कर दिया गया, उन्होने केंद्र सरकार के खिलाफ बयानबाजी की थी। भाजपा ने अनिल जोशी के खिलाफ सात जुलाई को कारण बतानओ नोटिस जारी की थी लेकिन उन्होंने इसका कोई जवाब नहीं दिया।

पार्टी से निकाले जाने के बाद उन्होंने कहा- 37 साल से जारी पार्टी में मेरी ‘तपस्या’ को खत्म कर दिया गया, पार्टी ने यही इनाम मुझे दिया है। महाराष्ट्र में सांसद प्रीतम मुंंडे को केंद्रीय कैबिनेट में शामिल नहीं किए जानने के विरोध में बीड जिले के दस भाजपा नेताओं ने इस्तीफा दे दिया है।

प्रदेश महासचिव सुभाष शर्मा ने शनिवार को बताया कि पूर्व मंत्री अनिल जोशी द्वारा केंद्र सरकार, पार्टी के केंद्रीय नेताओं तथा पार्टी की नीतियों के विरुद्ध बयानबाजी की जा रही थी, जो कि पार्टी विरोधी गतिविधियों में आता है। इसलिए प्रदेश भाजपा द्वारा अनिल जोशी को कारण बताओ नोटिस जारी किया था, जिस पर जोशी को दो दिन के अंदर अपना जवाब देने को कहा गया था। लेकिन अनिल जोशी ने पार्टी के विरुद्ध चलने का अपना रवैया नहीं छोड़ा, जिस पर जोशी को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से 6 वर्ष के लिए निष्कासित कर दिया गया है।

Divyansh Singh

मिट्टी का तन, मस्ती का मन; छड़ भर जीवन, मेरा परिचय।

Related Post

सीएम के कानपुर दौरे पर सपा, बसपा, कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन, कई नेता नजरबंद

Posted by - September 16, 2019 0
कानपुर। सीएम योगी आदित्यनाथ आज यानी सोमवार को कानपुर दौरे पर हैं। इसके लिए विधानसभा क्षेत्र में सीएम के साथ…

सुरक्षा एजेंसी: सूत्र के अनुसार जम्‍मू कश्‍मीर में इस समय करीब 200 आतंकी सक्रिय

Posted by - September 7, 2021 0
अफगानिस्‍तान में तालिबान के कब्‍जे के बाद पाकिस्‍तानकी खुफिया एजेंसी आईएसआई को इस समय मजबूत स्थिति में देखा जा रहा…