केरल हाई कोर्ट: विवाह पंजीकरण अब दुल्हा-दुल्हन के उपस्थित हुए बिना संभव!

410 0

विशेष विवाह अधिनियम के तहत सुनवाई के दौरान केरल हाई कोर्ट ने आदेश दिया कि दुल्हा-दुल्हन के उपस्थित हुए बिना भी फेसियल रिकॉग्निशन और बायोमीट्रिक जैसी तकनीक के जरिए विवाह का पंजीकरण किया जा सकता है। बता दें केरल हाई कोर्ट ने केंद्र के अधिवक्ता से इस संबंध में पक्षकारों की पहचान के लिए फेसियल रिकॉग्निशन व अन्य तकनीकों के इस्तेमाल पर केंद्र से नीतिगत निर्देश लेने के लिए कहा।

मोबाइल हुआ चोरी: अब सरकार के इस व्यवस्था से किसी काम का नहीं रह जाएगा मोबाइल

जस्टिस मुहम्मद मुस्ताक और कौसर एडप्पागठ की पीठ ने केंद्र के अधिवक्ता से इस संबंध में पक्षकारों की पहचान के लिए फेसियल रिकॉग्निशन व अन्य तकनीकों के इस्तेमाल पर केंद्र से नीतिगत निर्देश लेने के लिए कहा। खंडपीठ ने एकल पीठ के जस्टिस पीबी सुरेश कुमार के नजरिये से सहमति जताते हुए कहा, यह कहने में कोई हिचक नहीं है कि वर-वधू की भौतिक उपस्थिति के बिना विवाह पंजीकृत किया जा सकता है। हालांकि, पंजीकरण अधिकारी दोनों की पहचान सुनिश्चित करने की स्थिति में होना चाहिए। ऑनलाइन इस पहचान को तय करने की प्रक्रिया के बारे में विचार करने की जरूरत है।

Related Post

Narendra Modi

मेरा सौभाग्य है, आज मुझे प्रधानमंत्री संग्रहालय देश को समर्पित करने का अवसर मिला: पीएम

Posted by - April 14, 2022 0
नई दिल्ली: आंबेडकर जयंती (Ambedkar Jayanti) के मौके पर आज गुरुवार को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi)…
पीएम ने जन औषधि केंद्र को देश को किया समर्पित

पीएम ने जन औषधि केंद्र को देश को किया समर्पित

Posted by - March 8, 2021 0
रामपुर(मुजाहिद खान):जन औषधि दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि केंद्र अस्पताल रोड बिलासपुर की  ओर से आंगनवाडी कार्यकर्त्रियों,सहायिकाओं…