जम्मू-कश्मीर: श्रीनगर के सरकारी स्कूल में आतंकी हमला, दो शिक्षकों की मौत

119 0

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में आतंकी लगातार आम लोगों को निशाना बना रहे हैं। पिछले तीन दिनों में आतंकियों ने घाटी में 7 लोगों को निशाना बनाया है। गुरुवार को आतंकियों ने ईदगाह इलाके के एक स्कूल में फायरिंग कर दी। जम्मू-कश्मीर पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक हमले में दो शिक्षकों की मौत हो गई है।

आतंकियों ने श्रीनगर के ईदगाह संगम इलाके में स्थित एक सरकारी स्कूल में दो शिक्षकों की गोली मारकर हत्या कर दी। मृतकों की पहचान सुपिंदर कौर और दीपक चंद के तौर पर हुई है। इससे पहले बुधवार को शहर में एक प्रसिद्ध कश्मीरी पंडित चिकित्सा दुकान के मालिक सहित दो नागरिकों की हत्या कर दी गई थी। इससे पहले मंगलवार को तीन लोगों की हत्या कर दी थी।

डीजीपी जम्मू-कश्मीर दिलबाग सिंह ने कहा कि बेगुनाह लोग जो समाज की बेहतरी के लिए काम कर रहे हैं उन्हें निशाना बनाया गया है। दहशतगर्द बॉर्डर पार से पाकिस्तान के इशारों पर इस तरह की हरकतों को अंजाम दे रहे हैं।

निराशा और बर्बरता को दर्शाती है हत्या 

शिक्षकों की हुई हत्या को लेकर पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह ने कहा कि बेगुनाह लोग जो समाज की बेहतरी के लिए काम कर रहे हैं उन्हें निशाना बनाया गया है। दहशतगर्द बॉर्डर पार से पाकिस्तान के इशारों पर इस तरह की हरकतों को अंजाम दे रहे हैं।

डीजीपी ने कहा कि निर्दोष नागरिकों की हत्या निराशा और बर्बरता को दर्शाती है। यह कश्मीर के स्थानीय मुसलमानों को बदनाम करने का एक प्रयास है। शिक्षकों सहित निर्दोष नागरिकों को मारना कश्मीर में सांप्रदायिक सद्भाव और भाईचारे की सदियों पुरानी परंपरा पर हमला करने और उसे नुकसान पहुंचाने का एक कदम है। उन्होंने कहा कि बेगुनाहों की हत्या स्थानीय लोकाचार और मूल्यों को निशाना बनाने की साजिश है, जिसे पुलिस और लोगों द्वारा सामूहिक रूप से हराया जाएगा। उन्होंने कहा कि पुलिस को पिछले मामलों में हत्यारों के बारे में कुछ सुराग मिले हैं और नए मामले की भी जांच की जाएगी। मैंने स्कूल के स्टाफ सदस्यों से बात की और वे दो सहयोगियों को खोने से सदमे में हैं। पुलिस जल्द ही हत्यारों को पकड़ लेगी।

पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने किया ट्वीट

उधर घटना को लेकर जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर कहा कि श्रीनगर से एक बार फिर चौंकाने वाली खबर आ रही है। टारगेट हत्याओं का एक और सेट, इस बार शहर के ईदगाह इलाके के एक सरकारी स्कूल में दो टीचर्स की हत्या. आतंक के इस अमानवीय कृत्य के लिए निंदा के शब्द पर्याप्त नहीं हैं, लेकिन मैं मृतकों की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करता हूं।

Related Post

टुकड़े-टुकड़े गैंग

गृह मंत्रालय बोला-‘टुकड़े-टुकड़े गैंग’के बारे में नहीं है कोई जानकारी

Posted by - January 21, 2020 0
नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह सार्वजनिक सभाओं में अक्सर…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *