PM Modi

कांग्रेस के राज में हनुमान चालीसा सुनना गुनाह, नेताओं ने राममंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के निमंत्रण को ठुकरा दिया: मोदी

21 0

राजस्थान। मोदी (PM Modi) ने राजस्थान के टोंक-सवाई माधोपुर में विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला। अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कर्नाटक की घटना का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि हनुमान जन्मोत्सव के अवसर उन्हें कर्नाटक में कांग्रेस के शासन की एक तस्वीर याद आ रही है कि कर्नाटक में एक छोटे दुकानदार को इसलिए पीटा गया कि वह दुकान में बैठे बैठे हनुमान चालीसा सुन रहा था, यह कर्नाटक सरकार का काम था। कांग्रेस के शासन में हनुमान चालीसा सुनना भी गुनाह हो जाता है, अपनी आस्था का पालन करना भी मुश्किल हो जाता है। कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने जब राममंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के निमंत्रण को ही ठुकरा दिया तो ऐसे में उनके लोग तो हनुमान चालीसा करने वालों के साथ ऐसा ही व्यवहार करेंगे।

उन्होंने (PM Modi) कहा कि राजस्थान में भाजपा की सरकार आने के बाद रामनवमी पर पहली बार शांति से शोभा यात्रा निकली हैं। सुबह की पहली किरण के साथ सुबह उठते ही लोग राम राम सा कहते हैं, ऐसे प्रदेश में पहले तो रामनवमी पर प्रतिबंध लगा दिया था। हमारे डा किरोड़ी लाल मीणा इस मुद्दे पर लड़ाई लड़ते थे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने तुष्टिकरण के लिए मालपुरा, करौली, छबड़ा, टोंक एवं जोधपुर को दंगों की आग में झौंक दिया था। ऐसे लोगों को माफ नहीं किया जाना चाहिए। अब भाजपा सरकार आने के बाद किसी की हिम्मत नहीं हैं कि किसी की आस्था पर सवाल उठा दे। उन्होंने कहा कि अब हनुमान चालीसा भी गायेंगे और रामनवमी भी मनायेंगे, यह भाजपा की गारंटी हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने प्रदेश को पानी से भी वंचित रखा पीने के पानी के लिए किए प्रयासों में रोड़ा अटकाया। उसने पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना ( ईआरसपी) को अटकाया। लेकिन भजन लाल सरकार ने तीन महीने में ही इसे पास कर दिया जिसका टोंक- सवाईमाधोपुर को लाभ मिलने वाला है, यहां के किसानों को लाभ होगा।

मोदी (PM Modi) ने कहा कि वर्ष 2014 में जनता ने उन्हें दिल्ली में सेवा करने का अवसर दिया और इसके बाद देश ने वो फैसले लिए जिसकी किसी ने कल्पना ही नहीं की थी। उन्होंने कहा कि अगर 2014 के बाद और आज तक दिल्ली में कांग्रेस की सरकार होती तो क्या क्या हुआ होता। कांग्रेस होती तो जम्मू कश्मीर में सेना पर पत्थर चलते होते, सीमा पार से दुश्मन आकर हमारे जवानों के सिर काटकर ले जाते और कांग्रेस सरकार कुछ नहीं करती। वह होती है तो फौजियों को वन रैंक वन पेंशन लागू नहीं होती और पूर्व सैनिकों को एक लाख करोड़ रुपए नहीं मिलते, वह होती तो देश में आये दिन कोने कोने में सीरियल बम धमाके हाते ही रहते और निर्दोष लोग मरते ही रहते।

उन्होंने (PM Modi) कहा कि कांगेस ने तो राजस्थान में बम धमाके के दोषियों को बचाने का घोर पाप भी किया हैं। वह होती तो कोरोना के समय न मुफ्त राशन और न ही मुफ्त वैक्सीन मिलती, देश में महंगाई से हाहाकार मचा होता और कांग्रेस पार्टी देश के मुसीबत में भी भ्रष्टाचर के नये मौके तलाशती रहती। उन्होंने राजस्थान के लोग कुछ महीने पहले ही कांग्रेस के पंजे से मुक्त हुए हैं। कांग्रेस ने सत्ता मे रहते हुए जो जख्म दिए है राजस्थान के लोग उन्हें कभी भूल नहीं सकते। कांग्रेस ने महिलाओं के अत्याचार के मामले में राजस्थान को नम्बर एक बना दिया था। उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य है कि कांग्रेस के लोग बेशर्मी विधानसभा में कहते थे कि यह तो राजस्थान की पहचान हैं। डूब मरना चाहिए, यह शेभा नहीं देता।

योगी जैसा साथी मेरे लिए गर्व की बात: पीएम मोदी

मोदी (PM Modi) ने कहा कि प्रदेश में भाजपा की सरकार आने पर अब भजनलाल शर्मा को सेवा का मौका मिला हैं और जब उसकी टीम काम पर लगी है तो माफिया एवं अपराधी राजस्थान छोड़कर भागने पर मजबूर हैं। पेपर लीक पर डंडा चलने पर यह ठंडा पड़ गया हैं जबकि अभी भाजपा सरकार को तीन-चार महीने ही हुए हैं। भजनलाल सरकार की गाड़ी अभी तो चलना शुरु ही हुई है अभी टोप गियर में आना तो बाकी हैं।

उन्होंने (PM Modi) अपनी सरकार की उपलब्धियों को गिनाया और कहा कि चुनाव प्रचार के दौरान बीते दिनों में अलग अलग क्षेत्रों में उन्हें जाने का मौका मिला और उन्हें सभी क्षेत्रों से जनता का आर्शीवाद मिला है। उन्होंने इस मौके अधिक से अधिक मतदान करने की अपील भी की। उन्होंने कहा “जनता का यह आर्शीवाद मेरी पूंजी है और उनके सपने मेरे सपने हैं। मेरा हर पल हर क्षण देश के लिए हैं, इसलिए चौबीस घंटे काम कर रहा हूं अब तक किया है वह तो केवल ट्रेलर है अभी बहुत कुछ करना है। ”

मोदी (PM Modi)  ने कहा कि राजस्थान ने सदियों से सीमा पर खड़े मजबूत प्रहरी की तरह देश की रक्षा की हैं और यहां के लोग बखूबी जानते है कि सुरक्षित राष्ट्र और स्थाई सरकार कितनी जरुरी होती है। चाहे 2014 या 2019 हो राजस्थान ने एकजुट होकर भाजपा की सरकार बनाने के लिए आशीर्वाद दिया है और सभी 25 सीटें देकर भाजपा की झोली भरी है। एकजुटता ही, एकता ही राजस्थान की सबसे बड़ी पूंजी है, याद रखियेगा कि जब जब हम बंटे हैं तब तब देश के दुश्मनों ने फायदा उठाया हैं। अभी भी राजस्थान एवं यहां के लोगों को बांटने की पूरी काशिश हो रही है, इससे राजस्थान को सावधान रहने की जरुरत है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री भजन लाल शर्मा ने भी जनसभा को संबोधित किया।

Related Post

उत्तराखंड: रोडवेज बस और बाइक की जबरदस्त टक्कर, मौके पर युवक की मौत

Posted by - November 6, 2019 0
उत्तराखंड।  कालाढूंगी-रामनगर हाईवे पर आज यानी बुधवार एक दर्दनाक हादसा हो गया है जिसमे रोडवेज बस और बाइक की टक्कर…
Supreme Court on Corona

आखिर कौन देगा जवाब

Posted by - April 27, 2021 0
सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) ने केंद्र सरकार से पूछा है कि कोरोना (Corona Virus) से निपटने की उसकी राष्ट्रीय कार्य…
Today born Vijaya lakshmi

आज के दिन जन्मी, जानिए कौन थी विजयलक्ष्मी, इनके जीवन से जुड़ी कुछ बातें

Posted by - August 18, 2020 0
विजयलक्ष्मी पंडित भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की बहन थीं। वो सोवियत संघ में भारत की पहली राजदूत बनीं।…