International Stadium

गोरखपुर में 150 एकड़ में बनेगा अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम

73 0

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में 150 एकड़ क्षेत्रफल अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम (International Stadium) का निर्माण किया जायेगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने रविवार को गोरखपुर को 78 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं की सौगात देने के साथ ही दो बड़ी घोषणाएं की। उन्होंने गरीबों के मांगलिक कार्यक्रमों को भव्यता से आयोजित करने के लिए सभी सुविधाओं से युक्त कल्याण मंडपम बनाने का एलान किया तो साथ ही गोरखपुर में 150 एकड़ क्षेत्रफल में अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम (International Stadium) की स्थापित करने घोषणा की।

योगी (CM Yogi)  ने रविवार शाम भाटी विहार कॉलोनी में अपनी विधायक निधि निधि से छह करोड़ 17 लाख 80 हजार रुपये की लागत से दो एकड़ में बनने वाले मिनी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स का भूमि पूजन व शिलान्यास किया। इसके साथ ही उन्होंने 44 करोड़ 13 लाख रुपये से बनने वाले रामगढ़ताल रिंग रोड (टू लेन) समेत 72 करोड़ रुपये की लागत वाली 42 विकास परियोजनाओं का भी शिलान्यास किया। कुल करीब 78 करोड़ रुपये की 43 परियोजनाओं में 68.11 करोड़ रुपये की लागत वाली जीडीए की पांच तथा 9.69 करोड़ रुपये की लागत वाली जिला नगरीय विकास अभिकरण की 38 विकास परियोजनाएं शामिल हैं।

इस अवसर पर आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री ने कहा कि नगरीय क्षेत्रों में प्रायः रोड पर ही टेंट डालकर शादी या अन्य मांगलिक कार्य होते दिखते हैं। इससे काफी असुविधा होती है। सक्षम लोग तो मैरेज हाउस की व्यवस्था कर लेते हैं लेकिन गरीब व्यक्ति के लिए ऐसा कर पाना मुश्किल होता है। इस दिक्कत को देखते हुए उन्होंने नगर निगम और गोरखपुर विकास प्राधिकरण (जीडीए) को कल्याण मंडपम की स्थापना करने का निर्देश दिया है। शुरुआत में गोरखपुर शहर में छह अलग अलगस्थानों पर कल्याण मंडपम बनाए जाएंगे। कल्याण मंडपम की स्थापना में एक से डेढ़ करोड़ की लागत आएगी। यहां शादी व मांगलिक कार्यक्रमों के लिए हाल, रूम, गेस्ट रूम, पार्किंग, ढाई-तीन सौ लोगों की क्षमता का लॉन आदि सभी जरूरी सुविधाएं होंगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी जनप्रतिनिधियों से भी इस पहल से जुड़ने की अपील की।

योगी ने कहा सरकार खेल व खिलाड़ियों के प्रोत्साहन को संकल्पित है। गोरखपुर को पूर्वी उत्तर प्रदेश के पहले मिनी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स की स्थापना के साथ बाघागाड़ा में 150 एकड़ क्षेत्रफल में अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम का भी निर्माण कराया जाएगा। जल्द ही इसकी कार्ययोजना तैयार कर आगे की कार्यवाही प्रारंभ कर दी जाएगी। सीएम ने कहा कि मिनी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स गोरखपुर के युवाओं के लिए नई सौगात है। इस कॉम्प्लेक्स के निर्माण के लिए 3 करोड़ रुपये की धनराशि उन्होंने अपनी विधायक निधि से दी है। मिनी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में 300 मीटर का सिंथेटिक रनिंग ट्रैक, बास्केटबाल कोर्ट, इंडोर बैडमिंटन कोर्ट, लॉन टेनिस कोर्ट, वॉलीबॉल कोर्ट तथा टेबिल टेनिस कोर्ट, राइफल व पिस्टल शूटिंग रेंज, क्रिकेट नेट प्रैक्टिस रेंज, कई अन्य खेलों के लिए मल्टी परपज हाल बनाया जाएगा। इससे खिलाड़ियों के जज्बे को आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी।

मुख्यमंत्री ने जीडीए के अधिकारियों को निर्देशित किया कि कॉम्प्लेक्स का निर्माण समय सीमा में कराएं और खेल सुविधाओं के विकास के लिए खिलाड़ियों से भी सुझाव लें। मिनी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स के बन जाने के बाद बेहतर कोच की सुविधा के लिए खेल विभाग से एमओयू किया जाए। उन्होंने बताया कि पक्कीबाग और पहलवान जनार्दन सिंह के अखाड़े के पुनरुद्धार की कार्ययोजना बनाई जा रही है। सीएम योगी ने कहा कि 9 वर्ष पूर्व मिनी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स एक सपना था लेकिन आज आवश्यकता और हकीकत है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में खेलो इंडिया, सांसद खेल कुंभ, फिट इंडिया जैसी गतिविधियों ने खेल के क्षेत्र में नई जागृति उत्पन्न की है। आज यूपी के हर जिले में स्टेडियम, हर विकास खंड में मिनी स्टेडियम, ग्राम पंचायत में खेल का मैदान, गांवों व पार्कों में ओपन जिम की स्थापना से खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किया जा रहा है।

PMAY-Urban के बेनिफिशियरी अवार्ड्स 2023 में जीत की हैट्रिक लगाने को तैयार यूपी

उन्होंने कहा कि ओलंपिक, एशियाड, कामनवेल्थ, विश्व चैंपियनशिप में पदक विजेताओं को नकद पुरस्कार देने के साथ सरकारी नियुक्ति से भी जोड़ा जा रहा है। हाल में 500 खिलाड़ियों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया गया। पुलिस विभाग में डिप्टी एसपी से लेकर कांस्टेबल तक के पदों पर खिलाड़ियों को नौकरी मिल रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि रामगढ़ताल टू लेन रिंग रोड के बन जाने से सर्किट हाउस-पैडलेगंज रोड की भीड़ को चारों तरफ स्थान मिल जाएगा। इससे आवागमन सुगमता तो होगी ही, पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा। पर्यटक ताल के चारों ओर से का सुंदरता देख सकेंगे।

उन्होने जीडीए द्वारा कराए जाने वाले 63 बेसिक प्राथमिक विद्यालयों के कायाकल्प का उल्लेख करते हुए कहा कि जर्जर से हो चुके इन स्कूलों में भवन, फ्लोरिंग, फर्नीचर, शौचालय, शुद्ध पेयजल, स्मार्ट क्लास व लाइब्रेरी की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। कायाकल्प के बाद ये स्कूल कान्वेंट को भी फेल करते नजर आएंगे। उन्होंने बताया कि पूर्व में वह अपनी एमएलसी निधि विद्यालयों में फर्नीचर के लिए दे चुके हैं। इस अवसर पर सीएम ने 1.91 करोड़ परिषदीय विद्यार्थियों के अभिभावकों के खातों में 1200 रुपये की दर से अंतरित धनराशि व स्कूलों में बच्चों को उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं का भी उल्लेख किया।

Related Post

कोलकाता में गरजे अमित शाह

कोलकाता में गरजे अमित शाह- बोले इस बार पश्चिम बंगाल में बनेगी बीजेपी सरकार

Posted by - March 1, 2020 0
कोलकाता। केंद्रीय गृह मंत्री और बीजेपी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने रविवार को कोलकाता के शहीद मीनार मैदान…
AK Sharma

विगत 6 महीनों में झटपट योजना के अन्तर्गत 8 लाख विद्युत कनेक्शन स्वीकृत किए गए: एके शर्मा

Posted by - October 6, 2022 0
लखनऊ। विगत 6 महीने में झटपट योजना के अंतर्गत प्रदेश की जनता को बगैर परेशानी के लगभग 8 लाख से…