टी-20 विश्व कप

INDvBAN : कप्तान विराट कोहली बोले- पिंक बॉल से खेलना बड़ी चुनौती

190 0

नई दिल्ली। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने शुक्रवार को शुरू होने वाले डे-नाइट टेस्ट मैच से एक दिन पहले कहा है कि गुलाबी गेंद से खेलना मुश्किल होगा। उन्होंने कहा कि पहली बार डे-नाइट टेस्ट खेलना थोड़ा चुनैतियों से भरा है।

चौथी कक्षा की छात्रा भागीरथी अम्मा ने 105 की उम्र में परीक्षा देकर बनाया रिकॉर्ड

भारत-बांग्लादेश के बीच दो टेस्ट मैच की सीरीज का दूसरा मुकाबला शुक्रवार से कोलकाता के ऐतिहासिक ईडन गार्डंस के मैदान में खेला जाएगा। विराट ने मैच से पूर्व प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि टेस्ट मैच का पहला सत्र थोड़ा मुश्किल होगा। यह देखना होगा कि किस तरह गेंदबाजी होगी, बल्लेबाज किस तरह खेलेंगे। कोहली ने यह भी कहा कि एक बार आदत पड़ने के बाद डे-नाइट फॉर्मेट में खेलना नॉर्मल हो सकता है।

रविचंद्रन अश्विन बोले- दिन-रात्रि टेस्ट देश में इस पारंपरिक प्रारूप के लिए नई शुरुआत होगी

तो भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन कहना है कि दिन-रात्रि टेस्ट देश में इस पारंपरिक प्रारूप के लिए नई शुरुआत होगी। इससे मैच के समय के कारण दर्शकों की संख्या में काफी सुधार होगा। अश्विन ने कहा कि उम्मीद करता हूं कि यह स्टेडियम में बड़ी संख्या में दर्शकों के आने की शुरुआत होगी। टेस्ट क्रिकेट को उसका श्रेय मिलेगा और बेशक समय में बदलाव के कारण लोग अपना काम खत्म करने के बाद मैच देखने आ सकते हैं और इसका लुत्फ उठा सकते हैं।

मोहम्मद शमी का ध्यान पूरी तरह मैच के दौरान सामने आने वाली चुनौतियों पर

मोहम्मद शमी का ध्यान पूरी तरह मैच के दौरान सामने आने वाली चुनौतियों पर है। उन्होंने कहा कि गुलाबी गेंद से बीच का सत्र सबसे महत्वपूर्ण होगा क्योंकि तब ईडन गार्डन पर अधिक स्विंग मिलेगी। इसके विपरीत आमतौर पर सुबह का समय टेस्ट क्रिकेट में सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है।

गुलाबी गेंद तभी उपयोगी होती है जब विकेट कड़ा हो और उस पर घास मौजूद हो। गुलाबी गेंद अलग तरह की गेंद है और यह बिल्कुल भी सफेद या लाल गेंद की तरह काम नहीं करती। इसलिए इसकी संभावना बेहद कम है कि अंतिम सत्र में स्विंग या रिवर्स स्विंग मिलेगी। हमें कड़ी मेहनत करनी होगी।

भारत-बांग्लादेश का टेस्ट दोपहर एक बजे से शुरू होगा, लंच के बाद शाम 3.40 बजे फ्लडलाइट्स जला दी जाएगी

भारत—बांग्लादेश का टेस्ट दोपहर एक बजे से शुरू होगा। लंच के बाद शाम 3.40 बजे मैच शुरू होने के समय ही फ्लडलाइट्स जला दी जाएगी। चाय के ब्रेक के बाद अंतिम सत्र शाम छह से रात आठ बजे तक चलेगा। सीएबी ने अपने एक ट्वीट में कहा है कि ईडन में गुलाबी गेंद से खेले जाने वाले पहले डे-नाइट मैच के पहले चार दिनों के दौरान रोजाना 50 हजार से ज्यादा लोग मैदान में मौजूद रहेंगे।

Loading...
loading...

Related Post

दिया मिर्जा

जानें क्यूं फूट-फूटकर रोने लगीं दीया मिर्जा, वीडियो हुआ वायरल

Posted by - January 28, 2020 0
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री दीया मिर्जा काफी समय से ज्यादा फिल्में नहीं कर रही हैं, लेकिन वह सामाजिक मुद्दों में अपनी…
दिल्ली हिंसा

दिल्‍ली हिंसा : हाईकोर्ट जज की दो टूक- कोर्ट में रहते दूसरा 1984 नहीं होने देंगे

Posted by - February 26, 2020 0
नई दिल्‍ली। देश की राजधानी दिल्ली में पिछले तीन दिनों से जारी हिंसा पर दिल्‍ली हाईकोर्ट ने बेहद तल्‍ख टिप्‍पणी…

फूट-फूट कर रोते हुए बोलीं राखी सावंत, मेरी हालत पर जरा भी तरस नहीं आता

Posted by - September 23, 2019 0
बॉलीवुड डेस्क। बॉलीवुड एक्ट्रेस राखी सावंत ने शादी के बाद से कई वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किये हैं जिससे…