ब्‍लड ग्रुप के अनुसार लें डाइट

फिट रहना है तो ब्‍लड ग्रुप के अनुसार लें डाइट, जानें कैसा होगा आपका डाइट प्‍लान?

459 0

नई दिल्ली। सुंदर दिखने के लिए जिस तरह आप अपनी-अपनी पर्सनैलिटी के अनुसार आउटफिट का चुनाव करती हैं। तो ठीक वैसे हेल्‍दी और फिट रहने के लिए सभी के लिए अलग-अलग डाइट भी होनी चाहिए।

अगर आप अपने ब्‍लड ग्रुप के हिसाब से डाइट लेगी तो हमेशा चुस्त दुरुस्त बनी रहेगी

अक्सर आपने कई बार देखा होगा कि ए‍क डाइट का असर एक महिला की बॉडी अच्‍छा तो दूसरे की बॉडी पर बुरा पड़ता है। ऐसा अपनी बॉडी के अनुसार डाइट न लेने से होता है। अगर आप अपने ब्‍लड ग्रुप के हिसाब से डाइट लेगी तो हमेशा चुस्त दुरुस्त बनी रहेगी। जी हां, ब्‍लड ग्रुप के अनुसार डाइट का चुनाव करने से आप फिट रह सकती है।

जनवरी 2020 में 10 दिन बंद रहेगा बैंक, देखें छुट्टियों की लिस्‍ट 

बता दें कि हमारी सलाह से आपको लग रहा होगा कि हम ऐसा क्‍यों कह रहे हैं? लेकिन क्‍या आप जानती हैं कि ब्‍लड ग्रुप के अनुसार बॉडी की जरूरतें भी अलग-अलग होती हैं। ऐसे में अगर अपने ब्‍लड ग्रुप को ध्यान में रखते हुए कोई डायट प्लान फॉलो करते हैं, तो आप ना केवल फिट एंड हेल्दी रह सकती हैं, बल्कि पेट की समस्‍याओं एसिडिटी, कब्‍ज जैसी कई समस्याओं से बच सकती हैं। इसके अलावा वजन भी आसानी से कंट्रोल कर सकती हैं। आइए जानें कि हेल्‍दी लाइफ के लिए ब्‍लड ग्रुप के अनुसार आपका डाइट प्‍लान कैसा होना चाहिए?

ब्‍लड ग्रुप और आपकी डाइट

शालीमार स्थित फोर्टिस हॉस्पिटल की डायटिशियन सिमरन सैनी ने बताया कि हर किसी का ब्‍लड एक खास तरह का होता है। आप जो भी खाते हैं ब्‍लड ग्रुप के हिसाब से उसे सूट करता है। यानी अगर महिला को उसके ब्‍लड ग्रुप के हिसाब से फूड दिया जाए तो उसकी हेल्थ बहुत अच्‍छी रहती है। सिमरन सैनी का यह भी कहना है कि जेनेटिक सेट अप में बहुत बदलाव आया है। पहले लोग सिर्फ मीट ही खाते थे, लेकिन समय के साथ लोगों ने खेती करना शुरु किया है। तरह-तरह की चीजें खाने को मिली। अब हर कोई हर तरह की चीज खाता है लेकिन हर किसी को अपने ब्‍लड ग्रुप के हिसाब से खाना चाहिए।

ब्‍लड ग्रुप ‘ए’

सिमरन सैनी का कहना हैं कि ‘ब्‍लड ग्रुप ‘ए’ वाली महिलाओं की पाचन शाक्ति अन्‍य ब्‍लड ग्रुप की तुलना में बहुत कमजोर होती है। इसलिए उन्‍हें नॉन-वेज या कोई हैवी फूड खाने से बचना चाहिए। क्‍योंकि वह इसे आसानी से पचा नहीं पाती हैं। इससे उन्‍हें पेट संबंधी समस्‍याएं जैसी एसिडिटी और पेट में दर्द का सामना करना पड़ सकता है।

ब्‍लड ग्रुप ‘ओ’

ब्‍लड ग्रुप ‘ओ’ वाली महिलाओं का पाचन बहुत मजबूत होता है इसलिए वह नॉन वेज खा सकती हैं। अगर आप नॉन-वेज की शौकीन हैं तो आप चिकन और फिश के अलावा रेड मीट भी खा सकती हैं। यानी ब्‍लड ग्रुप ‘ओ’ वाली महिलाओं हाई प्रोटीन डाइट और मीट लेना चाहिए, लेकिन डेयरी प्रोडक्‍ट से दूरी बनाकर रखना चाहिए।

ब्‍लड ग्रुप ‘बी’

ब्‍लड ग्रुप ‘बी’ बी वाली महिलाएं कई तरह के फूड ले सकती हैं। इनमें अनेक प्रकार का मीट, सब्जियां, अनाज शामिल हैं। ऐसा माना जाता है कि ब्‍लड ग्रुप बी के लोगों को अनेक प्रकार का भोजन सूट करता है। लेकिन संयमित रूप से लें। अगर दिन में मीट या है तो शाम में वेजीटेबल आदि खाएं।

ब्‍लड ग्रुप ‘एबी’

‘एबी’ ब्‍लड ग्रुप वालों में ‘ए’ और ‘बी’ दोनों ब्‍लड ग्रुप वालों के लक्षण होते हैं। इसलिए वह दोनों ब्‍लड ग्रुप के अनुसार यानी मिक्सिड डाइट ले सकती हैं। इस ब्‍लड ग्रुप की महिलाओं को मीट-मछली, सब्जियां, कार्बोहाइड्रेट्स, दूध, दही व दूध से बने पदार्थ और अनाज सूट करते हैं। लेकिन कई महिलाओं को ब्‍लड ग्रुप ‘ए’ की तरह वेजीटेरियन होना ज्‍यादा अच्‍छा रहता है क्‍योंकि उनको इससे अपच की शिकायत हो सकती है। हां लेकिन वह ब्‍लड ग्रुप ‘बी’ की तरह आप फिश खा सकती हैं। यानी अधिक से अधिक प्रोटीन लेना चाहिए। इस तरह की डाइट लेने से आप ज्‍यादा हेल्‍दी रह सकती हैं।

अगर आप भी हेल्‍दी रहना चाहती हैं तो ब्‍लड ग्रुप के अनुसार डाइट लें।

Related Post

अन्ना हजारे के निशाने पर उद्धव सरकार, कहा- बार खुल सकते हैं तो मंदिर क्यों नहीं?

Posted by - August 29, 2021 0
कोरोना संकट के बीच सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मंदिर खोलने की अपील की…

एक चुनाव परिणाम ने हमें इतनी ताकत दें दी हैं कि हम लोग कुछ भी करें और किसी को भी मार दें? -थरूर

Posted by - September 22, 2019 0
पुणे। तिरूवनंतपुरम से सांसद शशि थरूर ने गौ हत्या के नाम पर हुई हत्या को लेकर सरकार पर हमला बोला…