अगर शरीर में आएं ये बदलाव, ब्लड इंफेक्शन के हैं संकेत

3502 0

लखनऊ डेस्क। भारत में हर साल करीब १० लाख लोग ब्लड इंफेक्शन का शिकार हो जाते हैं। ब्लड इन्फेक्शन कई तरह का हो सकता है जैसे बैक्टीरियल, फंगल और वायरल हो सकता है। अगर समय रहते इस बीमारी का इलाज ना किया जाए तो यह जानलेवा भी साबित हो सकती है। इस बीमारी के तीन स्टेज होते हैं और पहली ही स्टेज में इसके लक्षण दिखाई देने लगते हैं। ब्लड में इंफेक्शन होने पर त्वचा में पीलापन, लाल चकत्ते, खुलजी, जलन और रैशेज की समस्या होने लगती हैं। अगर आपको भी यह लक्षण दिखाई दे तो तुरंत जांच करवाएं।

दिल की धडक़न बढऩा

खून में इंफेक्शन होने के कारण दिल तक ऑक्सीजन सही मात्रा में नहीं पहुंच पाती, जिसके कारण दिल की धडऩे तेज रफ्तार से चलने लगता है। अगर आपको भी कई दिनों से ऐसा हो रहा है तो डॉक्टर से सलाह लें।

यूरिन का ना आना

यूरिन क कारण लिवर अपना काम ठीक से नहीं कर पाता, जिससे यूरिन कम उत्पन्न होता है।

मानसिक तनाव

ब्लड में इंफेक्शन होने के कारण शरीर में कुछ ऐसे कैमिकल्स रिलीज होते हैं, जो मानसिक तनाव का कारण बन सकते हैं। साथ ही इंफेक्शन के कारण दिमाग में न्यूट्रीशन और ऑक्सीजन सही मात्रा में नहीं पहुंच पाते, जिसके कारण तनाव होने लगता है।

चिड़चिड़ा स्वभाव

हालांकि यह कोई ठोस कारण नहीं है लेकिन अगर बाकी लक्षणों के साथ चिड़चिड़ाहट और गुस्सा अधिक आए तो एक बार डॉक्टर से सलाह लें।

तेज बुखार

इसके कारण शरीर का तापमान बढ़ जाता है, जिसके कारण तेज बुखार और शरीर में कपकपी होने लगती है। अगर दवा से बुखार कंट्रोल में ना आए तो अपने डॉक्टर से जरूर सलाह लें।

उल्टी और घबराहट

अगर खून में कोई समस्या हो रही है तो आसानी उल्टी और दस्त के साथ-साथ घबराहट हो सकती है। हालांकि इसमें चिंता की कोई बात नहीं है लेकिन एक बार अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

 

Related Post