जेएनयू छात्रों पर हमला

जेएनयू छात्रों पर हमला हिन्दू रक्षा दल ने किया,राष्ट्रीय अध्यक्ष पिंकी चौधरी का दावा

192 0

गाजियाबाद। जवाहरलाल नेहरु यूनिवर्सिटी ((जेएनयू) में रविवार को हुई मारपीट मामले की जिम्मेदारी लेकर हिन्दू रक्षा दल ने ली है। इसके राष्ट्रीय अध्यक्ष पिंकी चौधरी ने यह दावा कर सनसनी फैला दी है। उन्होंने इस बाबत सोशल मीडिया पर वीडियो क्लिप जारी किया है। पिंकी चौधरी गाजियाबाद जिले के साहिबाबाद के निवासी हैं।

हालांकि इस दावे के बावजूद गाजियाबाद पुलिस मामले की सच्चाई का पता लगा रही है। साहिबाबाद के पुलिस क्षेत्राधिकारी राकेश मिश्रा का कहना है कि वीडियो की जांच की जा रही है। यह चरमपंथी नेता पहले भी एक मामले में जेल जा चुका है।

‘शिकारा’ का ट्रेलर देख इमोशनल हुए फैंस, फिल्म में दिखेगा कश्मीरी पंडितों का दर्द

बता दें कि बीते सोमवार की देर रात हिन्दू रक्षा दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष पिंकी चौधरी ने सोशल मीडिया पर वीडियो जारी कर उस समय सनसनी फैला दी है। जब यह वीडियो पुलिस व अन्य ग्रुपों पर वायरल किया गया। इस वीडियो में पिंकी चौधरी ने कहा है कि जेएनयू में छात्रों की पिटाई करने वाले उनके संगठन कार्यकर्ता थे।

पिंकी ने कहा है कि जेएनयू के छात्र खाते हमारे देश का हैं और गाते बाहर का हैं। ऐसे छात्रों और लोगों के खिलाफ आगे भी इस तरह की कार्रवाई करते रहेंगे। जेएनयू में मारपीट और तोड़फोड़ मामले में दिल्ली पुलिस भी अपने स्तर पर जांच कर रही है। मारपीट करने वाले तमाम नकाबपोशों की तस्वीरों के जरिए उनकी पहचान की बात कही जा रही है। इस बीच हिन्दू रक्षा दल ने पूरे घटनाक्रम की जिम्मेदारी लेते हुए दावा कर सनसनी फैला दी है।

Loading...
loading...

Related Post

कोरोना संकट

कोरोना संकट के समय लोकतांत्रिक मान्यताओं को तिलांजलि देने पर तुली भाजपा : अखिलेश

Posted by - April 6, 2020 0
लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आरोप लगाया कि कोरोना संकट के दौर में भी भारतीय जनता पार्टी…

भारत के साथ कभी युद्ध नहीं जीत सकता पाकिस्तान, लेकिन अंत तक लड़ेंगे लड़ाई – इमरान

Posted by - September 15, 2019 0
इस्लामाबाद। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद पाक पीएम ने एक बार फिर से कुछ ऐसा ही बयान दिया…

सवर्ण आरक्षण की शर्तों में केंद्र सरकार कर सकती है बदलाव, इस मंत्री ने दिए संकेत

Posted by - January 11, 2019 0
नई दिल्ली। केंद्र सरकार द्वारा सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से पिछड़े लोगों के लिए लाए गए आरक्षण के दायरे…