हम कोई हंगामेदार आदमी नहीं हैं जो हंगामा काटते फिरें, हमें सिर्फ अपने मुद्दे से मतलब- टिकैत

22 0

संसद का मॉनसून सत्र शुरू हो चूका है, कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों ने 22 तारीख से संसद के बाहर प्रदर्शन करने का दावा किया है। इस बीच भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा है कि हम कोई हंगामेदार आदमी नहीं हैं जो हंगामा काटते फिरें। टिकैत के कहा- हम किसान हैं, जंतर-मंतर का मतलब है संसद भवन। हम वहीं मंच लगाकर बैठ जाएंगे। वह हमारा पुराना ठिकाना है। टिकैत ने कहा- 22 तारीख को 200 लोग जाएंगे। वहां पर बैठकर अपनी बात कहेंगे। ये 200 लोग टिकट लेकर बस से जाएंगे।

संसद में हो रहे हंगामे को लेकर जब राकेश टिकैत से सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा, वे हमारा नहीं, अपना मुद्दा उठा रहे हैं।रिपोर्टर ने उनसे सवाल पूछा कि संसद में केवल दो ही मुद्दे विपक्ष उठा रहा है एक किसान का मुद्दा और दूसरा फोन टैपिंग का मुद्दा? इसका जवाब देते हुए किसान नेता ने कहा कि हमारा मुद्दा ही नहीं केवल अपना भी मुद्दा उठा रहे हैं क्योंकि वह सभी किसान है। अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए उन्होंने फोन टैपिंग के मुद्दे पर कहा कि, ‘ जहां तक फोन टैपिंग का मुद्दा है अगर फोन ले रखा है तो टैप तो होना ही है। हमारी भी फोन टैप होते हैं सब के हो रहे हैं।’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ से हुआ 30.80 करोड़ का राजस्व

राकेश टिकैत ने फोन टैपिंग पर कहा कि इससे घबराने की जरूरत नहीं है। रिपोर्टर ने सवाल पूछा कि क्या आप का भी फोन टैप होता है इस पर उन्होंने कहा कि हमारे भी होते हैं पूरे परिवार के होते हैं। जो संगठन में हमारे लोग हैं उन सब के फोन टैपिंग पर है।

Divyansh Singh

मिट्टी का तन, मस्ती का मन; छड़ भर जीवन, मेरा परिचय।

Related Post

central play minister

राष्ट्रीय खेल दिवस के मौके पर सरकार ने बढ़ाई अर्जुन अवॉर्ड और खेल रत्न अवॉर्ड की राशि

Posted by - August 29, 2020 0
 नई दिल्लीः खेल दिवस के अवसर पर सरकार ने खेल पुरस्कारों के लिए दी जाने वाली राशि को बढ़ाने (increased…
Mithali Raj

महिला क्रिकेट पर मिताली राज ने जताई चिंता, ट्रेनिंग पर उठाए सवाल

Posted by - September 22, 2020 0
नई दिल्ली। भारतीय महिला वनडे क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज ने टीम भविष्य के कार्यक्रमों को लेकर बड़ा बयान…