UP GIS

GIS: आर्थिक संबंधों को नई शक्ति देंगे यूपी और ऑस्ट्रेलिया

83 0

लखनऊ। आस्ट्रेलिया देश के नागरिक विश्व को अपना परिवार मानते हैं। आस्ट्रेलिया एक ऐसा देश है जिसने भारतीय मूल के निवासियों को सम्मान दिया है। उत्तर प्रदेश में सुरक्षा, पर्यावरण, कृषि, जल जैसे क्षेत्रों में भारत और आस्ट्रेलिया के बीच एक सकारात्मक पार्टनरशिप है। हमारे बीच व्यापार बढ़ रहा है और निश्चित तौर पर UP GIS के माध्यम से हमारे बीच आर्थिक संबंधों को नई शक्ति मिलेगी। साथ ही उत्तर प्रदेश समग्र विकास की ओर अग्रसर होगा।

ये बातें उत्तर प्रदेश सरकार में जलशक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने वृंदावन योजना में चल रही UP GIS के भारद्वाज हाल में ऑस्ट्रेलिया कंट्री पार्टनर सेशन के दौरान शनिवार को कहीं। इस अवसर पर उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई हाई कमिशन टू इंडिया एचई बैरी ओ फेरल एओ का स्वागत भी किया।

निवेशकों की सुविधा और सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है योगी सरकार

मंच पर सभी का अभिवादन करते हुए स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि दुनिया के सबसे प्रगतिशील और विकसित देशों में शुमार आस्ट्रेलिया हमारे सबसे अच्छे मित्र देशों में से एक है। उन्होंने कहा कि दिसम्बर 2022 में आस्ट्रेलिया गया था। वहां पर सभी को आमंत्रित कर उनसे संवाद किया था। उन्होंने कहा कि आस्ट्रेलिया के साथ नौ हजार 880 करोड़ रूपये का निवेश प्रस्तावित है। आस्ट्रेलिया के साथ छह एमओयू हुए हैं। हजारों लोगों को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। उत्तर प्रदेश योगी के शासन में तेजी से प्रगति कर रहा है। हमारी सरकारी मशीनरी पूरी तरह से निवेशकों के हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। इसलिए बेझिझक यूपी में निवेश कीजिए।

उन्होंने आगे कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने पांच ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य रखा है। इसके साथ ही यूपी के सीएम योगी ने आगामी पांच साल में वन ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी बनाने का लक्ष्य रखा है। उत्तर प्रदेश में स्वास्थ्य, कृषि, इनोवेशन जैसे अनेक क्षेत्र दुनिया के लिए आर्कषण का केंद्र बन रहे हैं। उत्तर प्रदेश में उद्यमिता के बढ़ने के लिए पारदर्शी नीतियां और बेहतर कानून व्यवस्था होना आवश्यक है। और पिछले कुछ सालों में उत्तर प्रदेश में बेहतर माहौल बना हुआ है। नए उत्तर प्रदेश के निर्माण के लिए आस्ट्रेलिया अपना मूल्य योगदान दे सकता है।

डिस्कशन पैनल में यूपी के ग्रोथ पर चर्चा

इससे पहले पैनल डिस्कशन में इंडियन ऑस्ट्रेलियाई उद्यमियों के बीच अनलॉकिंग न्यू अपॉर्चुनिटीज फ़ॉर कोलाब्रेशन विषय पर चर्चा हुई। मैक्वेरी कैपिटल के कंट्री हेड इंडिया और हेड ऑफ इक्विटी इंडिया के एमडी संदीप भाटिया ने कहा कि उत्तर प्रदेश की सरकार हर प्रोजेक्ट को सम्मान देती है। हम यूपी सरकार के साथ कई प्रोजेक्ट्स पर काम करने को उत्सुक हैं। हमें यहां इंफ्रास्ट्रक्चर से काफी सहूलियत मिली है। मेरी नजर में यूपी के एक्सप्रेसवे वर्ल्ड क्लास हैं। टाटा ब्लू स्कोप स्टील के एमडी अनूप त्रिवेदी ने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई कम्पनी के साथ हमारा वेंचर बड़ा हो रहा है। हम रिसोर्ट, एयरपोर्ट, स्कूल्स, स्टेडियम हर जगह काम कर रहे हैं। हमें यूपी में अपनी दूसरी यूनिट शुरू करते हुए बेहद खुशी हो रही है।

एक्यूसेंसर एंड एडॉर की बिजनेस डेवलपमेंट हेड निखत अंसारी ने कहा कि हम यूपी में कोलाब्रेशन को लेकर उत्साहित हैं। यहां अच्छे एक्सप्रेस-वे हैं। जहां हमारी टेकनोलॉजी काफी काम आ सकती है। शीला फोम के चेयरमैन और एमडी राहुल गौतम ने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई फर्म के साथ कोलाब्रेशन को 50 वर्ष हो गए। हम यूपी में ही पैदा हुए और आज यूरोप, स्पेन, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड जैसे देशों में ग्रो कर रहे हैं।

GIS: अयोध्या, काशी, मथुरा की भूमि ने सदियों से दिखाई राह: सिंधिया

मेरा सुझाव है कि यूपी वालों को ऑस्ट्रेलिया और ऑस्ट्रेलिया वालों को यूपी के साथ गठजोड़ का कोई भी अवसर मिले उसे तुरंत एक्सेप्ट कर लेना चाहिए क्योंकि मुझे यकीन है कि टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में यूपी और लखनऊ भी ऑस्ट्रेलिया जैसे बन सकते हैं। एचसीएल टेक के कॉरपोरेट वाइस प्रेसिडेंट स्वपन जोहरी ने कहा कि हम ऑस्ट्रेलिया के साथ इनोवेशन पार्टनर के तौर पर जुड़े हुए हैं और यूपी में वाटर मैनेजमेंट, क्वांटम टेक्नोलॉजी, साइबर सिक्युरिटी, डेटा और 5जी के क्षेत्र में यूपी के लिए डिजाइन और क्षेत्र तलाशने में मददगार हो सकते हैं।

Related Post

AYUSH University

गोरखपुर में बन रहा है प्रदेश का पहला आयुष विश्वविद्यालय

Posted by - September 8, 2022 0
गोरखपुर। दो दिवसीय दौरे पर आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने अधिकारियों के साथ बैठक में कानून व्यवस्था एवं विकास…