गीतिका जाखड़ मां बनी

देश की पहली अर्जुन अवार्डी महिला पहलवान गीतिका जाखड़ मां बनी

848 0

 

नई दिल्ली। देश की पहली अर्जुन अवार्डी महिला पहलवान गीतिका जाखड़ मां बनी हैं। गीतिका ने हिसार के एक अस्पताल में पिछले सप्ताह एक बेटी को जन्म दिया है।

गीतिका जाखड़ ने 2014 में ग्लासगो राष्ट्रमंडल खेलों में 63 किलोग्राम भार वर्ग में रजत पदक जीता था

भारतीय महिला पहलवान गीतिका जाखड़ ने 2014 में ग्लासगो राष्ट्रमंडल खेलों में 63 किलोग्राम भार वर्ग में रजत पदक जीता था। गीतिका के पति कमलदीप सिंह राणा हैं जो हरियाणा लोक निर्माण विभाग में कार्यरत हैं। गीतिका को खेल और कुश्ती विरासत में मिली है।

इरफान और ऋषि के निधन के बाद भगवान पर फूटा शेखर सुमन का गुस्सा, देखें- वायरल वीडियो

राष्ट्रमंडल कुश्ती चैंपियनशिप में दो बार गोल्ड मेडल, एशियन गेम्स में सिल्वर मेडल और जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीत चुकी हैं

गीतिका के दादा अत्तर सिंह जाखड़ अपने जमाने के जाने-माने पहलवान रहे हैं। पिता सत्यवीर सिंह जाखड़ अच्छे एथलीट और कोच भी रहे हैं। हरियाणा पुलिस में डीएसपी और हिसार के अग्रोहा में जन्मी गीतिका देश की पहली अर्जुन अवॉर्डी महिला पहलवान है। वह राष्ट्रमंडल कुश्ती चैंपियनशिप में दो बार गोल्ड मेडल, एशियन गेम्स में सिल्वर मेडल और जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीत चुकी हैं।

गीतिका नौ बार भारत केसरी रह चुकी हैं

गीतिका नौ बार भारत केसरी रह चुकी हैं। इंदौर के अर्जुन अवार्डी पहलवान और भारतीय महिला पहलवानों के पूर्व कोच कृपाशंकर बिश्नोई ने गीतिका और उनके पूरे परिवार को बधाई दी है।

Related Post