Shreyas

गावस्कर : श्रेयस अब स्वतंत्र रूप से कर सकते हैं बल्लेबाजी

61 0

नई दिल्ली। पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर (SUNIL GAVASHKAR) का मानना है कि कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR)के कप्तान श्रेयस अय्यर (SHREYASH IYAR) अब स्वतंत्र रूप से बल्लेबाजी कर सकते हैं क्योंकि मध्य क्रम के बल्लेबाजों ने आईपीएल 2022 में योगदान देना शुरू कर दिया है।

सबसे रोमांचक आईपीएल सीज़न में, केकेआर के मध्यक्रम में नीतीश राणा और रिंकू सिंह योगदान दे रहे हैं। यहां तक कि सलामी बल्लेबाज वेंकटेश अय्यर ने भी मुंबई इंडियंस के खिलाफ पिछले मैच में शानदार बल्लेबाजी की। गावस्कर (GAVASHKAR)का मानना है कि यह कप्तान श्रेयस अय्यर (SHREYASH IYAR) के लिए अच्छा संकेत होगा और वह अब आजादी के साथ बल्लेबाजी करने की सोच सकते हैं।

स्टार स्पोर्ट्स के शो क्रिकेट लाइव में गावस्कर ने कहा, श्रेयस अय्यर (SHREYASH IYAR) केकेआर के लिए एक प्रमुख खिलाड़ी हैं, वह जिस भी फ्रेंचाइजी के लिए खेले हैं, वह एक प्रमुख खिलाड़ी रहे हैं। यह देखना अच्छा है कि पिछले कुछ मैचों से बल्लेबाजी विभाग में श्रेयस को सारा बोझ साझा नहीं करना पड़ रहा है। नीतीश राणा और रिंकू सिंह के हालिया प्रदर्शन से उन्हें स्वतंत्र रूप से बल्लेबाजी करने और पारी की शुरुआत में बड़े शॉट खेलने का आत्मविश्वास मिलेगा। ”

भारत के पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने अय्यर की प्रशंसा करते हुए कहा कि मुंबई का प्रतिभाशाली बल्लेबाज जानता है कि दबाव से कैसे निपटना है और वह केकेआर को सही दिशा में ले जा सकता है।

कैफ ने कहा, अय्यर एक क्लास बल्लेबाज हैं। वह दबाव में खेलना पसंद करते हैं और लगातार रन बनाना जानते हैं। उन्हें लंबी और प्रभावशाली पारी खेलना पसंद है। वह एक शानदार कप्तान हैं और केकेआर को अपनी बल्लेबाजी से सही दिशा में ले जा सकते हैं।

बुल्स क्लब की समर कप क्रिकेट प्रतियोगिता में इनकी खिताबी जीत

कैफ ने हालांकि लेग स्पिनरों के खिलाफ श्रेयस अय्यर (SHREYASH IYAR) के संघर्ष पर चिंता व्यक्त की और दावा किया कि यह एक ऐसा क्षेत्र है जहां दाएं हाथ के बल्लेबाज को काम करने की जरूरत है।

कैफ ने कहा, श्रेयस अय्यर (SHREYASH IYAR) की एक कमजोरी है। वह लेग स्पिनरों को अच्छी तरह से नहीं खेलता है। एक भारतीय बल्लेबाज को लेग-स्पिन के खिलाफ लगातार संघर्ष करते देखना आश्चर्यजनक है। वह इस सीज़न में भी लेग स्पिनरों द्वारा काफी बार आउट किया गया है। रवि बिश्नोई हो या राहुल चाहर या कुलदीप यादव, सभी ने उन्हें परेशान किया है, लेकिन वह कभी भी लेग स्पिनरों के खिलाफ अपनी गलतियों पर ध्यान नहीं देते। बजाय इसके वह आक्रमण करना जारी रखते हैं और अपना विकेट गंवा देते हैं। मुझे लगता है कि इस विभाग में बहुत सुधार की आवश्यकता है। लेकिन साथ ही, श्रेयस के कई ऐसे गुण हैं जो उन्हें एक विशेष बल्लेबाज बनाते हैं।

बता दें कि केकेआर का सामना आज शाम सनराइजर्स हैदराबाद से होगा।

SWN हॉकी चैंपियनशिप 2022 में ओडिशा और केरल ने दर्ज की बड़ी जीत

Related Post

फातिमा बानो

मजहब के सांचे को ताेड़ फातिमा बानो बनीं देश की पहली मुस्लिम महिला कुश्ती कोच

Posted by - June 8, 2020 0
  इंदौर। देश की पहली मुस्लिम महिला कुश्ती कोच फातिमा बानो आज किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं, लेकिन उनके…