haridwar smack

हरिद्वारः पहली बार मिली स्मैक की इतनी बड़ी खेप कि पुलिस के उड़ गए होश

78 0
हरिद्वार। जिले में पुलिस ने पहली बार किसी महिला को लाखों रुपये की कीमत की स्मैक की बड़ी खेप (Consignment Of Smack) के साथ गिरफ्तार किया है। महिला का पति पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ पाया है। पुलिस ने महिला और उसके पति के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। साथ ही महिला को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया।
विश्व टीबी दिवस : अभी और शिद्दत से लड़नी होगी टीबी के खिलाफ लड़ाई

एसपी देहात कार्यालय में एसपी देहात प्रमेंद्र सिंह डोबाल ने प्रेस वार्ता कर बताया कि भगवानपुर क्षेत्र में पुलिस को लगातार स्मैक की बिक्री होने की सूचना मिल रही थी। इस पर पुलिस की ओर से मुखबिर को अलर्ट किया गया था। सोमवार रात सूचना मिली थी कि क्षेत्र के सिकंदरपुर भैंसवाल गांव में राशिद के घर पर बड़ी मात्रा में स्मैक रखी हुई है।

सूचना पर राशिद के घर पर दबिश दी गई और घर की तलाशी ली गई। इस बीच घर से 1.42 किलोग्राम स्मैक बरामद की। पुलिस ने राशिद की पत्नी साहिस्ता को घर से गिरफ्तार किया, जबकि राशिद घर से फरार मिला। पूछताछ में महिला ने बताया कि पति राशिद बरेली से स्मैक खरीदकर लाता था।

एसओ पीडी भट्ट का नेटवर्क आया काम

पति के कहने पर वह स्मैक की छोटी-छोटी पुड़िया बनाती थी। इसके बाद राशिद ग्राहकों को घर का पता बताता था। वह एक पुड़िया ढाई सौ से चार सौ रुपये में बेचती थी। एसपी देहात ने बताया कि पकड़ी गई स्मैक की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में 50 लाख रुपये है। महिला के पति की तलाश को अलग-अलग टीम बनाई गई है। जल्द ही उसकी गिरफ्तारी की जाएगी।

भगवानपुर क्षेत्र में स्मैक की तस्करी की शिकायत एसओ पीडी भट्ट को मिल रही थी। इस पर उन्होंने स्थानीय स्तर पर अपना मुखबिर तंत्र बनाकर अलर्ट किया। साथ ही मुखबिरों को सटीक सूचना देने की बात कही। पीडी भट्ट के मजबूत मुखबिर तंत्र भी उनके भरोसे पर खरा उतरा और बड़ी मात्रा में स्मैक घर में होने की सूचना दी। इसके बाद पुलिस ने स्मैक की बड़ी खेप पकड़ी। एसओ के बेहतरीन नेटवर्क पर पुलिस अधिकारियों ने उनकी पीठ थपथपाई है।

गैंगस्टर की होगी कार्रवाई

एसपी देहात प्रमेंद्र सिंह डोबाल ने बताया कि स्मैक की तस्करी करने वाले दंपती के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि इस संबंध में बरेली पुलिस को भी सूचना दी गई है। साथ ही बरेली से कहां से स्मैक आई थी, इसकी जानकारी के लिए सहयोग मांगा गया है। इसके बाद बरेली से क्षेत्र में स्मैक सप्लाई करने वाले पर भी कार्रवाई की जाएगी।

पुलिस टीम में ये रहे शामिल

सीओ पंकज गैरोला, एसओ पीडी भट्ट, एसआई पुष्पेंद्र सिंह, सतीश साह समेत सिपाही गीतम, बबलू खान, ललित यादव, बलदेव, गीता शाह, लाल सिंह। एसएसपी ने पुलिस टीम को ढाई हजार रुपये के इनाम देने की घोषणा की है।

पुलिस के रडार पर ढाई सौ ट्रक चालक

भगवानपुर क्षेत्र में पचास लाख की स्मैक पकड़े जाने के बाद पुलिस ने तस्करों के जाल को तोड़ने की तरफ बड़ा कदम बढ़ाया है। हर बार बरेली से स्मैक आने के मामले में पुलिस का शक औद्योगिक क्षेत्र में आने वाले ट्रक चालकों की तरफ गहरा गया है।

पुलिस को आशंका है कि तस्करों से मिलीभगत कर ट्रक चालक बरेली से स्मैक की खेप भगवानपुर और आसपास के क्षेत्र में लेकर आते हैं। पुलिस के रडार पर करीब ढाई सौ ट्रक चालक हैं।

भगवानपुर के सिकंरदपुर भैंसवाल में स्मैक की बड़ी खेप पकड़े जान इस तरफ इशारा कर रही है कि यह क्षेत्र स्मैक तस्करी के लिए माकूल है। मंगलवार को भगवानपुर पुलिस की ओर से पकड़ी गई स्मैक इसकी तस्दीक कर रही है। यह पहला मामला है जब इतनी बड़ी खेप भगवानपुर क्षेत्र में पुलिस ने पकड़ी है।

वहीं, हर बार की तरह इस बार भी बरेली से स्मैक सप्लाई होने की बात सामने आई है। बरेली से बड़ी मात्रा में भगवानपुर क्षेत्र में स्मैक की तस्करी होने पर पुलिस भी अब पूरी तरह से अलर्ट हो गई है। हर बार बरेली से स्मैक आने पर अब पुलिस का शक औद्योगिक क्षेत्र में माल लेकर आने-जाने वाले ट्रक चालकों की मिलीभगत पर गहरा गया है।

ट्रक भी चलाता है आरोपी राशिद

पुलिस सूत्रों के अनुसार स्मैक तस्करी की मिलीभगत में भगवानपुर औद्योगिक क्षेत्र में ट्रक लेकर आने वाले करीब ढाई सौ ट्रक चालक रडार पर आ गए हैं। पुलिस गोपनीय तरीके से बरेली से आने-जाने वाले ट्रक चालकों की कुंडली खंगाल रही है। साथ ही बरेली नंबर वाले ट्रकों को चिह्नित कर रही है। भगवानपुर पुलिस जल्द ही स्मैक तस्करी का एक और बड़ा खुलासा करेगी।

पुलिस ने स्मैक तस्करी में फरार चल रहे आरोपी के बारे में जानकारी मिली है कि वह ट्रक भी चलाता है। इसलिए उसकी कई ट्रक चालकों से जान पहचान भी है। पुलिस को यह भी पता चला है कि राशिद बरेली के फतेहगंज से स्मैक लेकर आता था। वहीं, पुलिस राशिद के संपर्क में रहने वाले ट्रक चालकों को भी चिह्नित कर रही है।

एसपी देहात प्रमेंद्र डोबाल के अनुसार-
ऐसी आशंका है कि ट्रकों और अन्य वाहनों से भगवानपुर में स्मैक की सप्लाई हो रही है। भगवानपुर औद्योगिक क्षेत्र में बरेली आने-जाने वाले ट्रकों और इनके चालकों को चिह्नित करने के निर्देश पुलिस को दिए गए हैं। आशंका है कि स्मैक तस्करी में कई ट्रक चालक भी संलिप्त हैं।

एक लाख की स्मैक के साथ तस्कर दबोचा

वहीं हरिद्वार में ही नगर कोतवाली पुलिस ने एक स्मैक और तीन शराब तस्करों को पकड़ा है। स्मैक तस्कर से एक लाख की स्मैक बरामद हुई है। पुलिस के मुताबिक कुंभ मेले में विदेशी श्रद्धालुओं को बेचने के लिए स्मैक लाया था।

नगर कोतवाल अमरजीत सिंह ने बताया कि हरकी पैड़ी चौकी पुलिस ने जसवंत घाट से भीमगोड़ा की तरफ आ रहे रोहन निवासी पालिका मार्केट हरकी पैड़ी को दबोचा। चौकी प्रभारी अनिल रतूड़ी ने उसके पास से 10.70 ग्राम स्मैक बरामद की।

आरोपी ने बताया कि स्मैक उसने चंडी घाट पुल के नीचे एक व्यक्ति से खरीदी। इसके अलावा पुलिस ने रानी गली भूपतवाला निवासी दुर्गेश को शिव सदन के पास से देशी शराब के 70 पव्वे, राकेश और सोनू निवासी मुस्तफापुर थाना बिशनपुर जिला दरभंगा हाल निवासी मिश्रा गली को 50 पव्वे के पकड़ा है।

Related Post

Remedisvir

उत्तराखंड: नकली रेमडेसिविर बनाने वाली फैक्ट्री पर दिल्ली क्राइम ब्रांच का छापा

Posted by - April 30, 2021 0
नई दिल्ली । देशभर में कोरोना महामारी का प्रकोप लगातार जारी है। इसी बीच उत्तराखंड के कोटद्वार में नकली रेमडेसिविर…