बाल ठाकरे की पुण्यतिथि

बाल ठाकरे की पुण्यतिथि पर भिड़े फडणवीस और संजय राउत, शिवसेना बोली- हमें न सिखाएं स्वाभिमान

578 0

मुंबई। शिवसेना के संस्थापक बाल ठाकरे की पुण्यतिथि पर स्मृति सभा स्थल पर बीजेपी और शिवसेना की तल्खी देखने को मिली। स्मृति सभा स्थल पर पहुंचे शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि हमें कोई हिंदुत्व क्या है और स्वाभिमान क्या है, यह न समझाए? समझदारी इनसे सीखने की जरूरत नहीं है। समझदारी दिखाते हुए ही शिवसेना महाराष्ट्र में सरकार बनाएगी और सीएम भी शिवसेना का होगा।

अयोध्या में पुनर्विचार याचिका को लेकर AIMPLB का मंथन शुरू, बड़ा एलान संभव 

संजय राउत ने कहा कि उद्धव ठाकरे ने बालासाहेब से जो वादा किया था, वह पूरा होगा। कार्यक्रम स्थल पर शिवसेना के कई बड़े नेता श्रद्धांजलि देने पहुंचे। माना जा रहा है कि उद्धव ठाकरे यहां श्रद्धांजलि देने के बाद से कोई बड़ा एलान कर सकते हैं।

बाल ठाकरे की पुण्यतिथि पर  देवेंद्र फडणवीस ने ट्वीट कर कहा कि बाला साहेब से स्वाभिमान की सीख मिली

महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री पद को लेकर भले ही शिवसेना और भाजपा के रास्ते अलग-अलग हो गए हैं। फिर भी राजनीतिक शुचिता को ध्यान में रखते हुए पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने शिवसेना के संस्थापक बाल ठाकरे की पुण्यतिथि पर ट्वीट कर उनकी तारीफ की है। इसके बाद वह बाल ठाकरे को श्रद्धां​जलि देने पहुंचे हैं।

फडणवीस ने ट्वीट कर कहा कि बाला साहेब से स्वाभिमान की सीख मिली है। बता दें कि देवेंद्र फडणवीस बाल ठाकरे के बड़े प्रशंसकों में गिने जाते हैं। शिवसेना आज बाल ठाकरे की पुण्यतिथि पर कई कार्यक्रमों का आयोजन कर रही है। वहीं उद्धव ठाकरे समेत शिवसेना नेता दादर में एक कार्यक्रम में शामिल होंगे। बता दें कि बाल ठाकरे से 1966 में शिवसेना की स्थापना की थी। उनकी मृत्यु 17 नवंबर 2012 को मुंबई में हुई थी।

अब संसद में विपक्ष के साथ बैठेगी शिवसेना

एनडीए की संस्थापक पार्टियों में शामिल शिवसेना का गठबंधन से बाहर होना भी लगभग तय हो गया है। शिवसेना ने साफ कर दिया है कि वह रविवार को होने वाली एनडीए की बैठक में शामिल नहीं होगी। साथ ही, सोमवार से शुरू हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र में शिवसेना सांसद दोनों सदनों में विपक्षी खेमे में बैठेंगे।

सूत्रों ने बताया है कि शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत और अनिल देसाई विपक्ष की सीटों पर बैठेंगे। वहीं, लोकसभा में भी पार्टी के 18 सदस्य विपक्षी खेमे में दिखेंगे, जो अब तक सत्ता पक्ष के लिए आवंटित सीटों पर बैठते थे। पिछले दिनों मोदी सरकार में शिवसेना के एकमात्र केंद्रीय मंत्री अरविंद सावंत ने इस्तीफा दिया था।

राउत ने शनिवार को कहा, एनडीए से अलगाव की औपचारिकता बाकी है। हम बैठक में हिस्सा न लेने का फैसला कर चुके हैं। एनडीए का नेतृत्व कर रहे लोगों ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को झूठा ठहराने का प्रयास किया, उसके विरोध में हम बैठक से दूर रहेंगे।

Loading...
loading...

Related Post

पंजाब में लॉकडाउन एक मई तक

कैप्टन अमरिंदर बोले- अभी तो मैं जवान, जरूर लड़ूंगा अगला विधानसभा चुनाव

Posted by - March 19, 2020 0
नई दिल्ली। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अगला विधानसभा चुनाव लड़ने की इच्छा जाहिर की है। एक सवाल…