बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना

बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना बोली-‘CAA-NRC भारत का आंतरिक मामला’

120 0

दुबई। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने कहा है कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) भारत का ‘आंतरिक मामला’ है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा है कि इस कानून की आवश्यक नहीं थी।

भारत सरकार ने भी अपनी तरफ से बार-बार दोहराया है कि एनआरसी भारत की एक अंदरूनी कवायद

बांग्लादेशी प्रधानमंत्री ने कहा कि बांग्लादेश ने हमेशा यह कहा है कि सीएए और एनआरसी भारत के आंतरिक मामले हैं। भारत सरकार ने भी अपनी तरफ से बार-बार दोहराया है कि एनआरसी भारत की एक अंदरूनी कवायद है। भारत के प्रधानमंत्री (नरेंद्र) मोदी ने व्यक्तिगत रूप से अक्टूबर 2019 के मेरे नई दिल्ली के दौरे के दौरान मुझे इसे लेकर आश्वस्त किया था।

RBI बोला-अब बैंक की KYC प्रक्रिया के लिए NPR लेटर का होगा इस्तेमाल 

सीएए के मुताबिक पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान में धार्मिक प्रताड़ना की वजह से 31 दिसंबर 2014 तक वहां से भारत आए हिंदू, जैन, सिख, पारसी, बौद्ध और ईसाई समुदाय के लोगों को भारतीय नागरिकता दी जाएगी। इस कानून के खिलाफ देश भर में कई जगहों पर प्रदर्शन चल रहे हैं।

शेख हसीना ने भारत के नए नागरिकता कानून के संदर्भ में कहा कि हम नहीं समझ रहे हैं कि क्यों भारत सरकार ने ऐसा किया?

शेख हसीना ने भारत के नए नागरिकता कानून के संदर्भ में कहा कि हम नहीं समझ रहे हैं कि क्यों भारत सरकार ने ऐसा किया? यह जरूरी नहीं था। उनका यह बयान बांग्लादेश के विदेश मंत्री ए के अब्दुल मोमेन के उस बयान के बाद आया है कि सीएए और एनआरसी भारत के “आंतरिक मामले” हैं, लेकिन इस बात पर चिंता जाहिर की थी कि वहां किसी भी तरह की “अनिश्चितता” का पड़ोस पर असर होगा।

शेख हसीना ने यह भी कहा कि भारत से भी लोगों के बांग्लादेश पलायन करने की कोई जानकारी नहीं

अखबार ने कहा कि बांग्लादेश की 16.1 करोड़ आबादी में 10.7 फीसद हिंदू और 0.6 फीसद बौद्ध हैं , तथा उसने धार्मिक उत्पीड़न की वजह से किसी के भी भारत जाने से इनकार किया है। संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी अबु धाबी में शेख हसीना ने यह भी कहा कि भारत से भी लोगों के बांग्लादेश पलायन करने की कोई जानकारी नहीं है।

उन्होंने कहा कि नहीं, भारत से पलट कर कोई प्रवासी नहीं आ रहे, लेकिन भारत के अंदर, लोग कई मुश्किलों का सामना कर रहे हैं। हसीना ने कहा कि तो भी, यह एक आंतरिक मामला है।

Loading...
loading...

Related Post

हरसिमरत कौर Harsimrat Kaur

दादी-नानी के नुस्खों को दुबारा वैश्विक बनाने की आवश्यकता : हरसिमरत कौर

Posted by - September 9, 2020 0
नई दिल्ली । देश के औषधीय उत्पादों और दादी-नानी के घरेलू नुस्खों को वैश्विक स्तर पर पहचान दिलाने की जरूरत…
अटल जल योजना

नागरिकता संशोधन व निजी डाटा सुरक्षा बिल को मोदी सरकार ने दी हरी झंडी

Posted by - December 4, 2019 0
नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने बुधवार को नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 और निजी डेटा सुरक्षित रखने संबंधी विधेयक समेत कुल…