एक केंद्रीय मंत्री और एक पूर्व केंद्रीय मंत्री के बीच बंगले को लेकर किचकिच, सरकार ने दी सफाई

48 0

नई दिल्ली के लुटियन्स जोन्स में बने 27 सफदरजंग रोड के सरकारी बंगले पर एक केंद्रीय मंत्री और एक पूर्व केंद्रीय मंत्री के बीच बहस हो गई। यह बंगला पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को बतौर शिक्षा मंत्री आवंटित था. अब वो केंद्र सरकार में मंत्री नहीं हैं। यह टाइप आठ का बंगला है जो केवल कैबिनेट मंत्रियों को मिलता है।  हालांकि सरकार ने इन खबरों को गलत बताया कि निशंक इस बंगले में रहना चाहते हैं।

पूर्व मुख्यमंत्रियों, पूर्व राज्यपालों, पूर्व कैबिनेट मंत्रियों, लोक सभा के पूर्व स्पीकर और सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जजों को केवल टाइप सात बंगला ही मिल सकता है। बता दें कि निशंक मोदी सरकार में शिक्षा मंत्री थे लेकिन हाल ही में हुए मंत्रिपरिषद फेरबदल में स्वास्थ्य कारणों से उन्होंने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। यह टाइप आठ का बंगला है जो केवल कैबिनेट मंत्रियों को मिलता है।

यह राज्य सभा सांसदों को नहीं मिल सकता है।  सरकार ने इन खबरों को गलत बताया कि निशंक इस बंगले में रहना चाहते हैं. निशंक पूर्व मुख्यमंत्री भी हैं और पूर्व मुख्यमंत्रियों, पूर्व राज्यपालों, पूर्व कैबिनेट मंत्रियों, लोक सभा के पूर्व स्पीकर और सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जजों को केवल टाइप सात बंगला ही मिल सकता है और वह भी उपलब्ध होने पर।

कांग्रेस के साथ तकरार के बीच ट्विटर ने रिस्टोर किया राहुल समेत अन्य नेताओं का हैंडल

बता दें कि रमेश पोखरियाल निशंक हरिद्वार से बीजेपी के लोकसभा सांसद हैं।  वह मोदी सरकार-2 में शिक्षा मंत्री थे लेकिन हाल ही में हुए मंत्रिपरिषद फेरबदल में स्वास्थ्य कारणों से उन्होंने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था।

Divyansh Singh

मिट्टी का तन, मस्ती का मन; छड़ भर जीवन, मेरा परिचय।

Related Post

Rahul Gandhi

भारत में संकट सिर्फ कोरोना नहीं, बल्कि केंद्र सरकार की जन विरोधी नीतियां भी हैं- राहुल गांधी

Posted by - April 22, 2021 0
ऩई दिल्ली। इससे पहले बुधवार को राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा कि वैक्सीन रणनीति नोटबंदी…
Parambir Singh appeared before NIA

एंटीलिया केस में बड़ा खुलासा: परमबीर ने रिपोर्ट में करवाई थी छेड़छाड़

Posted by - September 9, 2021 0
एंटीलिया केस में एनआईए ने चार्जशीट में सचिन वाजे और अन्यों की साजिश का पर्दाफाश किया, जिसमें तत्कालीन मुंबई पुलिस…