किसानों के नाम पर डर फैलाने के लिए लाल किले के सामने खड़ी की गई कंटेनर की दीवार- टिकैत

105 0

15 अगस्त से पहले लाल किले की सुरक्षा बढ़ा दी गई है, किले के सामने कंटेनर से एक दीवार खड़ी कर दी गई है। 26 जनवरी को लाल किले में किसानों से हुई झड़प से सबक लेते हुए सुरक्षा बढ़ा दी गई, भारी पुलिस बल तैनात किए गए हैं। इस पर किसान नेता राकेश टिकैत का कहना है कि किसानों के नाम पर जनता के अंदर भय बैठाने के लिए पुलिस यह सब कर रही है।

टिकैत ने कहा, ‘माहौल बनाने के लिए यह सब किया जा रहा है, जिससे जनता में एक भय रहे कि यहां किसान आएगा।’ टिकैत ने बताया कि वे उत्तराखंड के गांव में जा रहे हैं। नानकमत्था गुरुद्वारा है, कल उसी के नजदीक एक गांव में ध्वजारोहण करेंगे।

दिल्ली पुलिस ने लाल किले के सामने जो बड़े कंटेनर खड़े किए हैं, उन्हें स्वतंत्रता दिवस से पहले भित्तिचित्रों से सजाया जाएगा. रिपोर्ट्स के मुताबिक, कंटेनर्स की दीवारों पर इंडिपेंडेंस डे-थीम पेंटिंग्स पेंट की जाएंगी।

एक केंद्रीय मंत्री और एक पूर्व केंद्रीय मंत्री के बीच बंगले को लेकर किचकिच, सरकार ने दी सफाई

रिपोर्ट्स के मुताबिक, चल रहे किसान आंदोलन के बहाने विदेशों से कुछ खालिस्तानी अलगाववादी सक्रिय हो गए हैं. खालिस्तानी चरमपंथी गुरपतवंत सिंह पन्नू ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगा नहीं फहराने की धमकी तक दी है। ये धमकियां गुरपतवंत सिंह पन्नू के नाम से रेंडम रिकॉर्डेड फोन कॉल के जरिए दी जा रही हैं।

Divyansh Singh

मिट्टी का तन, मस्ती का मन; छड़ भर जीवन, मेरा परिचय।

Related Post

Female astronaut

जीरो ग्रैविटी में महिला अंतरिक्ष यात्री ने अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डाला वोट

Posted by - October 25, 2020 0
नई दिल्ली। अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव अब अपने अंतिम दौर में है। बता दें कि आगामी तीन नवंबर को अमेरिका…
कौन है निर्भया?

बलिया के सीएमओ ने निर्भया के दादा से किया सवाल- कौन है निर्भया, क्यूं गई दिल्ली?

Posted by - February 12, 2020 0
बलिया। निर्भया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर डॉक्टरों और बुनियादी सुविधाओं की मांग को लेकर ग्रामीण धरने पर बैठे थे। इसके…