दिल्ली हिंसा

दिल्ली हिंसा : मृतकों की संख्या बढ़कर 10 हुई , 150 लोग घायल

175 0

नई दिल्ली। गुरु तेग बहादुर (जीटीबी) अस्पताल चिकित्सा अधीक्षक डॉ. सुनील कुमार ने बताया कि दिल्ली हिंसा में पिछले 24 घंटों में जीटीबी अस्पताल में कुल 10 मौतें हुई हैं और 150 लोग घायल हुए हैं।

दिल्ली पुलिस पीआरओ एमएस रंधावा ने बताया कि 56 पुलिस कर्मी, 130 नागरिक घायल

नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में हिंसा पर दिल्ली पुलिस पीआरओ एमएस रंधावा ने बताया कि 56 पुलिस कर्मी घायल हुए हैं। जिसमें हेड कांस्टेबल रतन लाल की जान गई। डीसीपी शाहदरा को भी लगी सिर में चोट लगी है। 130 नागरिक घायल हुए हैं।

रंधावा ने कहा कि प्रभावित इलाकों में धारा 144 लागू की गई है। लोगों से शांति बनाए रखने और अफवाहों पर विश्वास न करने की अपील करते हैं। मैं विशेष रूप से उत्तर पूर्वी दिल्ली में लोगों से अपने हाथों में कानून नहीं लेने की अपील करता हूं। हम ड्रोन की मदद भी ले रहे हैं।

एमएस रंधावा ने कहा कि मैं इस बात से इनकार करता हूं कि पुलिस बल की कोई कमी है। पूर्वोत्तर जिले में पर्याप्त बल तैनात किए गए हैं। सीआरपीएफ, आरएएफ और दिल्ली पुलिस के अतिरिक्त संसाधन भी सक्रिय हैं। 11 एफआईआर दर्ज की गई हैं और कुछ को हिरासत में लिया गया है।

गृह मंत्रालय ने अफवाहों को रोकने की अपील की

गृह मंत्रालय ने सभी से अफवाहों को फैलाने से रोकने की अपील की है और कहा है कि राजनीतिक दलों को पुलिस के साथ मिलकर इन अफवाहों और जनता के बीच डर को दूर करना चाहिए। गृह मंत्रालय ने मीडिया और लोगों से भी जिम्मेदारी से संवाद करने और अफवाहें फैलाने से बचने की अपील की है।

गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली के पुलिस आयुक्त से कहा है कि पुलिस नियंत्रण कक्ष में वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौजूद रहें ताकि अफवाहों को जल्द से जल्द दूर किया जा सके।

खजूरी खास में तैनात की गई रैपिड एक्शन फोर्स

दिल्ली के खजूरी खास में मंगलवार को तनाव बढ़ने के बाद रैपिड एक्शन फोर्स तैनात कर दी गई है। इसके साथ ही यहां धारा 144 लगा दी गई है। स्पेशल सीपी सतीश गोलचा ने बताया कि हम दंगाइयों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर उन्हें गिरफ्तार करेंगे। लोगों को शांति बनाए रखने के लिए हमारे साथ सहयोग करना होगा। हम तब तक यहां रहेंगे जब तक कि हालात सामान्य नहीं हो जाते, वरना हम और सुरक्षाबलों की तैनाती करेंगे।

राजधानी में शांति, कानून और व्यवस्था बनाए रखने में मदद करें कार्यकर्ता: कांग्रेस

कांग्रेस नेता, रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि हम सभी से शांति बनाए रखने और दिल्ली में हिंसा के इस कृत्य की निंदा करने की अपील करते हैं। कुछ सांप्रदायिक शक्तियां, अपने राजनीतिक लाभ के लिए, धर्म का उपयोग करके मतभेद पैदा करने की दिशा में काम कर रही हैं। कांग्रेस का एक कार्यकर्ता राजधानी में शांति, कानून और व्यवस्था बनाए रखने में मदद करेगा।

Loading...
loading...

Related Post

आसियान हमारी नीति का अभिन्न अंग है और हमेशा रहेगा- पीएम मोदी

Posted by - November 3, 2019 0
वर्ल्ड न्यूज़। बैंकॉक में आयोजित 16वें आसियान-भारत शिखर सम्मेलन में रविवार यानी आज पीएम मोदी शामिल हुए हैं जहां उन्होंने…
ज्येष्ठ माह का पहला मंगल

ज्येष्ठ माह के पहले मंगल पर मंदिर व सड़कें रहीं वीरान, न जयकारे गूंजे और न हुआ भंडारा

Posted by - May 12, 2020 0
लखनऊ । उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में ज्येष्ठ महीने के पहले बड़े मंगल पर आज हनुमान मंदिर में न…