कांग्रेस ने की प्रियंका को रिहा करने की मांग, कल पूरे देश में विरोध-प्रदर्शन करेगी पार्टी

49 0

नई दिल्ली। कांग्रेस ने सोमवार को लखीमपुर खीरी हिंसा के खिलाफ एक राष्ट्रव्यापी विरोध प्रदर्शन की घोषणा की है। कांग्रेस के कार्यकर्ता मंगलवार को ‘कश्मीर से कन्याकुमारी’ तक डीसी कार्यालयों के बाहर विरोध प्रदर्शन करेंगे। पार्टी के नेताओं ने पीएम नरेंद्र मोदी और यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ से जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की अपील की है।

कांग्रेस नेता राजीव शुक्ला ने कहा, ‘कल देश भर के हर जिले में डीएम कार्यालय का घेराव होगा। यह एक देशव्यापी आंदोलन बनेगा। मैं मांग करता हूं कि पीएम और यूपी के सीएम जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। राजीव शुक्ला ने यूपी पुलिस पर वाड्रा और कांग्रेस नेताओं को अवैध रूप से हिरासत में लेने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी और दीपेंद्र हुड्डा को लखीमपुर खीरी जाते समय सीतापुर में रोका गया। हुड्डा के साथ मारपीट की गई। उन्हें अवैध रूप से हिरासत में लिया गया।

नेताओं को रोकने की प्रथा खतरनाक

कांग्रेस नेता राजीव शुक्ला ने कहा कि राजनीतिक नेताओं को स्वतंत्र आवाजाही से रोकने की यह प्रथा बहुत खतरनाक है। प्रियंका को रिहा किया जाना चाहिए। दरअसल, कांग्रेस नेता प्रिंयका गांधी किसानों से मिलने के लिए सोमवार आधी रात के बाद लखीमपुर खीरी रवाना हुईं थीं। लखीमपुर खीरी पहुंचने से पहले ही पुलिस ने प्रिंयका गांधी को हरगांव से हिरासत में ले लिया। उत्तर प्रदेश पुलिस ने प्रियंका को सीतापुर जिले के एक गेस्ट हाउस में नजरबंद कर दिया है।

प्रशासन ने मान ली किसानों की मांग

राजीव शुक्ला ने कहा कि कांग्रेस मंगलवार को देशव्यापी विरोध प्रदर्शन करेगी और घटना की हाई लेवल जांच की मांग करेगी। मृतक किसानों के परिवारों के लिए मुआवजे की मांग करते हुए शुक्ला ने कहा, ‘लोकतंत्र में राजनीतिक लोगों को स्वतंत्र आंदोलन से रोकना अस्वीकार्य और अवैध है। वहीं, बता दें कि किसानों और प्रशासन के बीच लखीमपुर हिंसा को लेकर चल रही बातचीत में दोनों पक्षों में सुलह की खबर है। किसानों की मांग प्रशासन ने मान ली है।

किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा- एडीजी

सरकार ने ऐलान किया है कि लखीमपुर मामले में किसानों और अधिकारियों के बीच वार्ता के बाद समझौता हो गया है। सरकार ने घोषणा करते हुए कहा है कि मृतकों के परिजनों को 45-45 लाख दिए जाएंगे। जबकि घायलों को 10 लाख दिए जाएंगे। इसके अलावा मृतक आश्रितों को नौकरी दी जाएगी। एडीजी प्रशांत कुमार ने 8 दिन के अन्दर दोषियों की गिरफ्तारी का भरोसा दिया है. एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया है कि दोषियों के खिलाफ केस दर्ज हो गया है, जांच जारी है। किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा।

 

Related Post

Ram nath Kovind

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पहुंचे वाराणसी एयरपोर्ट, सीएम और राज्यपाल अगवानी के लिए मौजूद

Posted by - March 13, 2021 0
वाराणसी। उत्तर प्रदेश के 3 दिन के दौरे पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ramnath Kovind) वाराणसी एयरपोर्ट पर पहुंच चुके…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *