CM Yogi

सीएम योगी ने उप्र राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के भवन का किया शिलान्यास

74 0

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने गुरुवार को यहां उप्र राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के भवन का शिलान्यास किया। इस मौके पर उन्होंने राज्य आपदा प्रबंधन योजना का शुभारम्भ करने के साथ ही आपदाओं के दौरान उल्लेखनीय प्रदर्शन करने वाले एनडीआरएफ व एसडीआरएफ के अधिकारियों और जवानों को प्रशस्ति-पत्र भी वितरित किये। आपदा प्रबंधन का यह भवन 1.5 एकड़ क्षेत्रफल में 66.40 करोड़ की लागत में बनेगा।

इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि उप्र में आपदा को न्यूनतम स्तर पर पहुंचाने के लिए पिछले छह वर्षों में जो कदम उठाए हैं, उसके परिणाम हम सबके सामने हैं। 2017 से पहले प्रदेश में आपदा को लेकर बहुत ही खराब स्थिति थी। पहले प्रदेश के लगभग आधे जिलों में बाढ़ की दृष्टि से संवेदनशील और अतिसंवदनशील थे।

प्रदेश में डबल इंजन की सरकार आने के बाद आज पांच से छह जिलों के समक्ष ही बाढ़ बड़ी चुनौती के रूप में है। आज अगर बाढ़ आती है तो लोग सोचते हैं कि सरकार की ओर से राहत का पैकेज भी पहुंच रहा होगा। वन्य जीव के हमले से लेकर डूबने तक को आपदा प्रबंधन में शामिल किया गया है। इससे पीड़ित को राहत के रूप में आर्थिक सहायता दी जा रही है। हर जिले में आपदा प्रबंधन का तंत्र मजबूत किया जा रहा है। हर न्याय पंचायत स्तर पर केन्द्र स्थापित किये जा रहे हैं। इससे किसानों को खेती करने में मददगार साबित होगा।

सहकारिता मंत्री ने 34 मृतक आश्रितों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया

सरोजनगरी क्षेत्र में आयोजित इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री (CM Yogi) ने कहा कि आपदा प्रबंधन का यह भवन लोगों में जागरूकता लाने के साथ ही विभिन्न विभागों के बीच समन्वय स्थापित करने का काम करेगा। ताकि आपदा को न्यूनतम स्तर पर लाया जा सके। इस मौके पर विभागीय अधिकारियों के साथ ही अन्य महत्वपूर्ण लोग उपस्थित रहे। मुख्यमंत्री ने इस दौरान जागरूकता पर खास जोर दिया।

आपदा प्रबंधन भवन का शिलान्यस करते मुख्यमंत्री (Chief Minister) योगी

कानपुर के छह केन्द्रों पर अभ्यर्थियों ने दी यूपी कैटेट प्रवेश परीक्षा

उन्होंने कहा कि बीमारी से पहले बचाव ज्यादा कारगर होता है। इसलिए आपदा आने से पहले ही लोग जागरूक हो जाएं, तो नुकसान बहुत कम होगा। मुख्यमंत्री (CM Yogi) ने कहा कि इसमें आपदा मित्रों की भी अहम भूमिका हो सकती है। आपदा मित्रों की अब तक 25 जिलों में तैनाती हुई है। इसे सभी 75 जिलों में तैनाती की जाए। नये भवन के लिए उन्होंने सभी को शुभकामनाएं दिए।

Related Post

yogi

योगी के यूपी में गुमनाम नायकों के सम्मान का अमृत काल

Posted by - August 25, 2022 0
लखनऊ। कोतवाल धन सिंह गुर्जर, जयदेव कपूर, शिव वर्मा, अजीजन बाई, राजा महेंद्र प्रताप सिंह, महाराजा सुहेलदेव, राना बेनीमाधव बख्श सिंह……