कोरोनावायरस

फर्रुखाबाद कांड: मुख्यमंत्री योगी बोले- दरिंदे को वही सजा मिली, जिसका था हकदार

221 0

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले में बच्चों को बंधक बनाने वाले सुभाष बाथम का पुलिस द्वारा बच्चों को छुड़ाने के प्रयास में एनकाउंटर कर दिया गया, जिसमें आरोपी शख्स मारा गया। इस पूरे मामले पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि फर्रुखाबाद में सभी बच्चे सुरक्षित बचा लिए गए। दरिंदे को वही सजा मिली, जो उसे मिलनी चाहिए थी।

गुरुवार की रात कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने रेस्क्यू ऑपरेशन कर 23 बच्चों को छुड़ा लिया था। बच्चों को बंधक बनाने वाला सुभाष बाथम एनकाउंटर में मारा गया था। इस बीच उसकी पत्नी भी भीड़ के गुस्से का शिकार हो गई, जहां उसकी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई।

‘मलंग’ को लेकर बोले आदित्य रॉय कपूर, फैंस ने मुझे एक्शन हीरो अवतार में नहीं देखा 

बता दें कि फर्रुखाबाद के मोहम्मदाबाद के कठरिया गांव में वृहस्पतिवार की शाम को एक व्यक्ति ने जन्मदिन मनाने के बहाने करीब 23 बच्चों को अपने घर में बुलाकर बंधक बना लिया। काफी मशक्कत के बाद यूपी पुलिस और एटीएस की टीम ने देर रात दोषी को मार गिराया और सभी बच्चों को उसके घर से सुरक्षित निकाल लिया गया। अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी ने देर रात बताया, ‘सभी बच्चों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है और बच्चों को बंधक बनाने वाले को मार गिराया गया है।

ऐसे हुआ दोषी सुभाष ढेर

देर शाम से देर रात तक 23 बच्चों को बंधक बनाए रखने के बाद गांव वालों ने उसके घर पर पथराव शुरू कर दिया। पुलिस पूरी तरह से मुस्तैद थी। सुरक्षाबलों ने भी घर को चारों ओर से घेर रखा था। पुलिस ने सुभाष को व्यस्त किए रखा, जबकि एक टीम पीछे से गेट पर तैनात खड़ी थी। रात करीब सवा एक बजे कुछ गांव वालों ने पथराव के बीच में घर पहुंचकर मुख्य दरवाजा तोड़ दिया, जिसके बाद पुलिस भी घर में घुस गई और एनकाउंटर में सुभाष को ढेर कर दिया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऑपरेशन को सफल बनाने वाली पुलिस की टीम के लिए 10 लाख रुपये के इनाम की घोषणा की

इस ऑपरेशन में 5 पुलिसकर्मियों समेत 6 लोग घायल हुए हैं। वहीं घर से हथियार बरामद किए गए हैं, जिसमें तमंचे बंदूक के अलावा हथगोले भी बरामद हुए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऑपरेशन को सफल बनाने वाली पुलिस की टीम के लिए 10 लाख रुपये के इनाम की घोषणा की है। मालूम हो कि जिस व्यक्ति ने बंधक बनाया था उसके बारे में जानकारी मिली कि वह हत्या के आरोप में जेल में बंद था और हाल ही में जमानत पर बाहर आया था।

Loading...
loading...

Related Post

पी चिदंबरम

INX Media case:: चिदंबरम की 3 अक्टूबर तक बढ़ी न्यायिक हिरासत, नहीं मिली राहत

Posted by - September 19, 2019 0
नई दिल्ली। आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले में पूर्व केन्द्रीय मंत्री पी. चिदंबरम को राहत नही मिली। दिल्ली की एक अदालत…