बड़ी खुशखबरीः मुंबई में 28 अक्टूबर से चलेंगी सभी लोकल ट्रेनें

98 0

मुंबई। मुंबई वालों के लिए बड़ी खुशखबरी है। मुंबई में 28 अक्टूबर से अब पहले की तरह ही सभी लोकल ट्रेनें चलने जा रही हैं। आपको बता दें कि, ये ट्रेनें कोरोना संक्रमण के कारण रोक दी गईं थीं। देश में तेजी से चल रहे कोरोना के टीकाकरण और घट रहे कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए, अब सभी ट्रेनों को पहले की तरफ पूरी क्षमता के साथ चलाने का फैसला किया गया है। यात्रियों को कोरोना के SOP के अनुसार यात्रा करने की अनुमति दी गई है।

वहीं, मध्य रेलवे और पश्चिम रेलवे ने ये जानकार दी है कि, 28 अक्टूबर से सभी लोकल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया गया है। फिलहाल, उपनगरीय मार्ग पर 95.70 फीसद लोकल ट्रेनें ही चल रही हैं, लेकिन 28 अक्टूबर के बाद 100 फीसदी ट्रेनें फिर से चलने लगेंगी। जो प्रति दिन लगभग 1,300 ट्रेन सेवाएं है।

दरअसल, इससे पहले अगस्त महीने में उन लोगों को मुंबई लोकल की यात्रा करने की अनुमति दी गई थी जिन्होंने कोविड -19 वैक्सीन की अपनी दूसरी खुराक के बाद से 14 दिनों का अंतराल पूरा कर लिया था। उन्हें स्मार्टफोन, वार्ड कार्यालयों और उपनगरीय रेलवे स्टेशनों से सर्टिफिकेट मिलने के बाद लोकल ट्रेनों से यात्रा करने की अनुमति दी गई थी।

मिली जानकारी के अनुसार, मुंबई में अब कुल 3,141 लोकल ट्रेन चलेंगी। जिसमें मध्‍य रेलवे की 1774 तो पश्चिमी रेलवे की 1,367 लोकल ट्रेनें शामिल होंगी। इस समय मध्‍य रेलवे की 1,702 तो पश्चिमी रेलवे की 1304 लोकल ट्रेनें चल रही हैं। इसका मतलब है कि अब 72 ट्रेनों की संख्या बढ़ा दी गई है।

Related Post

पंकजा मुंडे

पंकजा मुंडे दो सियासी परिवारों की विरासत को बढ़ा रही हैं आगे

Posted by - September 27, 2019 0
मुंबई। महाराष्ट्र के दिग्गज नेता रह चुके दिवंगत गोपीनाथ मुंडे की बेटी होने के अलावा पंकजा मुंडे दिवंगत बीजेपी नेता…
एटीएस को सौदागार सदर की पत्नी की तलाश

एटीएस को सौदागार सदर की पत्नी की तलाश

Posted by - March 30, 2021 0
जाली नोटों का अवैध कारोबार करने वाले तस्करों ने लॉकाडाउन के बाद सूबे में एक बार फिर अपनी जड़ें मजबूत करनी शुरू कर दी है। इसका खुलासा आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) द्वारा पांच दिन पूर्व नोएडा से गिरफ्तार किये गये जाली नोटों के सौदागर सदर अली ने पूछताछ में किया है एटीएस को सदर की फरार पत्नी की सरगर्मी से तलाश है उस पर पच्चीस हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है इसके साथ ही एटीएस सदर के अन्य साथियों की भी तलाश की जा रही है। पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह की ब्रेन हैमरेज से हुई मौत एटीएस के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक सदर अली की पत्नी मुमताज की तलाश में टीमें लगायी गयी हैं। गिरफ्तार किये गये सदर अली ने अपना नेटवर्क बरेली, कानपुर नगर व लखनऊ समेत अन्य शहरों में फैला रखा था। वह यूपी के कई तस्करों को पाकिस्तान से आने वाले जाली नोटों की सप्लाई करता था। बीते कुछ माह में भी नकली नोटों की सप्लाई किए जाने के तथ्य सामने आए हैं। सदर के जरिये इस गिरोह से जुड़े सप्लायरों की तलाश की जा रही है। पूर्व में पकड़े गए कई तस्करों के बारे में भी पड़ताल शुरू की गई है। गिरफ्तार किये गये तस्कर सदर से पूछताछ में खुलासा हुआ है कि यूपी में बांदा से जुड़े कई गिरोह पश्चिम बंगाल से जाली नोट लाकर उनकी सप्लाई लखनऊ समेत अन्य शहरों, एनसीआर व दिल्ली तक कर रहे हैं। पूर्व में इस गिरोह के कई सदस्य पूर्व में पकड़े भी जा चुके हैं। उनसे भी पूछताछ में सामने आया था कि जाली नोट पाकिस्तान से बंगलादेश व नेपाल के जरिये यहां सप्लाई किए जा रहे हैं।गौरतलब है कि जाली नोटों की तस्करी में वांछित चल रहे मालदा (पश्चिम बंगाल) निवासी 25 हजार रुपये के इनामी सदर अली को 24 मार्च को एटीएस ने नोएडा के महामाया फ्लाई ओवर के पास गरिफ्तार किया था। रेलवे ट्रैक पर मिला महिला का शव…
साध्वी प्रज्ञा

साध्वी प्रज्ञा की उम्मीदवारी पर एनआईए ने कहा चुनाव आयोग ले फैसला

Posted by - April 23, 2019 0
नई दिल्ली। भोपाल संसदीय सीट से बीजेपी प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा की उम्मीदवारी मामले पर एनआईए ने कहा वह चुनाव लड़…

70वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति होंगे मुख्य अतिथि

Posted by - January 26, 2019 0
नई दिल्ली। आज हमारा देश 70वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। ऐसे में सुरक्षा को चाक-चौबंद रखने के लिए राजधानी…