भोपाल के हबीबगंज रेलवे स्टेशन की सुविधाएं नहीं हैं किसी एयरपोर्ट से कम, जानिए क्या है खास

25 0

भोपाल का हबीबगंज रेलवे स्टेशन री-डेवलपमेंट के बाद एयरपोर्ट जैसी सुविधाओं के साथ तैयार हो गया है। एक साथ 1100 यात्रियों के बैठने के साथ ही कई तरह की सुविधाओं पर करीब 100 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। करीब 300 करोड़ रुपए से स्टेशन के बाहर की तरफ अस्पताल और शॉपिंग कॉम्प्लेक्स जैसी सुविधाएं विकसित की जा रही हैं। इसे बंसल पाथवेज प्राइवेट कंपनी द्वारा तैयार किया गया है।

स्टेशन और लोगों की सुरक्षा को देखते हुए यहां पर जगह-जगह कैमरे लगाए गए हैं। पूरे स्टेशन पर 162 हाई रिजोल्यूशन कैमरे लगाए गए हैं। कंट्रोल रूम में बैठकर पूरे स्टेशन के अंदर और बाहर नजर रखी जा सकती है। इसके जरिए बच्चों और महिला यात्रियों की सुरक्षा को पूरी तरह पुख्ता किया जा सकेगा। रेलवे बोर्ड की हरी झंडी मिलते ही यह स्टेशन शुरू कर दिया जाएगा।

स्टेशन की अनेक खासियतों में से एक इसकी लाइटिंग है। स्टेशन दिन में प्राकृतिक रोशनी से जगमगाएगा। रात को मौसम से प्रभावित नहीं होने वाली लाइट लगाई गई हैं। बारिश और तेज हवाओं का इस पर प्रभाव नहीं होगा। यहां बड़े वेटिंग एरिया में 700 यात्री एक साथ बैठ सकेंगे।

ईरान में फंसे 5 भारतीय नागरिकों ने वतन वापस आने के लिए मोदी से लगाई गुहार

वेटिंग एरिया व प्लेटफॉर्म में 300 समेत करीब 1100 लोगों के एक साथ बैठने की व्यवस्था है। 75-75 यात्रियों की बैठने की क्षमता के दो वेटिंग रूम बनाए गए हैं। जनवरी 2017 में स्टेशन के री-डेवलपमेंट का काम शुरू हुआ था। इसे जुलाई 2019 तक पूरा होना था, लेकिन समय पर काम पूरा नहीं होने के कारण इसे दिसंबर 2019 किया गया। हालांकि फिर लॉकडाउन के कारण इसमें देरी हुई। अब यह पूरी तरह से यात्रियों के लिए तैयार है।

Divyansh Singh

मिट्टी का तन, मस्ती का मन; छड़ भर जीवन, मेरा परिचय।

Related Post

डेब्यू टेस्ट में गांगुली के शानदार शतक को 25 साल पूरे, द्रविड़ ने भी इसी दिन किया था पदार्पण

Posted by - June 22, 2021 0
22 जून 1996, यानि कि आज से ठीक 25 साल पहले भारत के पूर्व कप्तान और बीसीसीआई के प्रेसीडेंट सौरव…

पूर्व मंत्री मनोज पाण्डेय जल्द करेगी विजिलेंस

Posted by - February 28, 2021 0
आय से अधिक सम्पत्ति की जांच के लिए उत्तर प्रदेश सतर्कता अधिष्ठान (विजिलेंस) शीघ्र ही समाजवादी पार्टी के विधायक एवं पूर्व मंत्री मनोज कुमार पांडेय को बयान दर्ज कराने के लिए शीघ्र ही नोटिस भेजा जाएगा। शासन के आदेश पर विजिलेंस ने उनके विरुद्ध आय से अधिक संपत्ति की शिकायतों की खुली जांच शुरू कर दी है। गोपनीय जांच में शिकायतें प्रथमदृष्ट्या सही पाए जाने के बाद खुली जांच के आदेश दिए गए हैं।   फतेहपुर : स्वर्गीय इंदिरा गांधी के नजदीकी रहे प्रेमदत्त तिवारी का निधन बिजलेंस के एक अधिकारी ने बताया कि पूर्व मंत्री मनोज पाण्डेय से आय से अधिक सम्पत्ति मामले में पूछताछ की जाएगी। इसके लिए उनको नोटिस भेजा जाएगा। मनोज पांडेय पर अपने क्षेत्र के दलित परिवार की जमीन अवैध ढंग से हथियाने का भी आरोप है। शिकायतें मिलने पर सरकार ने विजिलेंस के माध्यम से पहले गोपनीय जांच कराई। जांच में आरोप प्रथमदृष्ट्या सही पाए गए। जांच रिपोर्ट का परीक्षण करने के बाद शासन ने विजिलेंस को मनोज पांडेय के विरुद्ध खुली जांच करने का आदेश दे दिया। विजिलेंस अब शिकायतों से संबंधित साक्ष्य जुटाने के साथ ही मनोज पांडेय से पूछताछ भी करेगी। खुली जांच में दोषी पाए जाने पर उनके विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा सकती है। रायबरेली जिले की ऊंचाहार सीट से विधायक मनोज पांडेय सपा सरकार में कैबिनेट मंत्री थे। जांच के शिकंजे में फंसने वाले वह तीसरे पूर्व मंत्री हैं। सपा सरकार में मंत्री रहे मो. आजम खां के विरुद्ध एसआईटी व गायत्री प्रसाद प्रजापति के विरुद्ध विजिलेंस जांच की जांच चल रही है। एसआईटी जल निगम भर्ती घोटाले में मो. आजम खां को दोषी ठहरा चुकी है। गायत्री प्रजापति के विरुद्ध तो आय से अधिक संपत्ति की जांच चल रही है

आज होगी किरन के नाम के हिन्दू समाज पार्टी की बागडोर

Posted by - October 26, 2019 0
लखनऊ डेस्क। हिन्दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की पत्नी किरन तिवारी पार्टी की बागडोर संभालेंगी। राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश…
बेटी ने प्रेमी के साथ मिल की मां की हत्या

बेटी ने प्रेमी के साथ मिलकर की मां की हत्या, दिल्ली पुलिस में थीं कांस्टेबल

Posted by - February 15, 2020 0
नई दिल्ली। गाजियाबाद के ब्रिज विहार इलाके में उस वक्त हड़कंप मच गया जब शनिवार सुबह दिल्ली पुलिस में कांस्टेबल…